यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मथुरा में मुख्यमंत्री याेगी आदित्य नाथ ने कहा तबाही का नाम है कांग्रेस, आतंकवादियों की सरपरस्‍त


🗒 सोमवार, मार्च 25 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 मुख्यमंत्री याेगी आदित्य नाथ ने कान्‍हा की नगरी मथुरा में सोमवार को सेठ बीएन पौद्दार इंटर कॉलेज के मैदान में पार्टी उम्मीदवार सांसद हेमा मालिनी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि तबाही का नाम कांग्रेस है। आतंकवादियों की सरपरस्त है। उनको बिरयानी खिलाती है, लेकिन भाजपा की मोदी सरकार उनको गोलियां खिलाती है। सपा, बसपा, रालोद और कांग्रेस को चोर बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मोदी है ताे सब मुमकिन है। कांग्रेस, सपा और बसपा की सरकार यमुना को निर्मल नहीं कर सकी। कहते थे कि यह यमुना गंगा कभी साफ नहीं हो सकती है, लेकिन मोदी सरकार ने इसको भी मुमकिन करके दिखाया। सर्जीकल स्ट्राइक करके पाकिस्तान में बैठे आतंकियों का सफाया किया। बालाकोट में घुस कर आतंकी मारे। पुलवामा कांड के आतंकियों को भी 72 घंटे में मार गिराया। कांग्रेस के शासन काल में जम्मू कश्मीर में सेना पर पत्थर फेंके जा रहे थे। कांग्रेस पर उनको रोकने के लिए दबाव डाला जा रहा था, लेकिन सब खामोश रहे। मोदी ने पत्थरबाजों को रोका और अलगाववादियों की सुरक्षा वापस लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू की। यह कार्य सिर्फ मोदी ही कर सकते हैं। मुख्यमंत्री ने मंच से नारा दिया कि कांग्रेस, बसपा सपा आई, चोर चोर हैं सब भाई। आज सभी मोदी के खिलाफ एक जुट हो गए हैं। लोकदल भी इनके साथ मिल गया है। योगी ने रालोद से भी पूछा कि जब सपा मुजफ्फरपुर में निर्दोष लोगों को मरवा रही थी, तब रालोद चुप क्यों था। गन्ना किसानों को लेकर मायावती पर सीधा प्रहार किया और कहा कि उनको गन्ना किसानों पर बोलने का कोई हक नहीं है। मायावती ने अपने शासन काल में 21 चीनी मिलों को बेच दिया। जब उनको बेचा गया, तब वहां का किसान मजदूर और नौजवान तबाह हो गया। हमने 57 हजार 800 करोड़ रुपये का भुगतान 2011 से 2018 तक किया। योगी ने कहा कि जब यूपी में उन्होंने सत्ता संभाली ताे सबसे पहले कर्जा माफ किया। अवैध बूचड खाने बंद कराए। बहन बेटियों की सुरक्षा के लिए कदम उठाया। कुछ अपराधी आज जेल में तो कुछ रामनाम सत्य की यात्रा पर चले गए। यह कार्य भाजपा सरकार ही कर सकती है।

 मथुरा में  मुख्यमंत्री याेगी आदित्य नाथ ने कहा तबाही का नाम है कांग्रेस, आतंकवादियों की सरपरस्‍त

ब्रज के विकास को लेकर भी योगी ने सपा और बसपा की सरकार को घेरा और कहा कि जवाहरबाग में सपा सरकार में अखिलेश ने दंगा कराया। आज हम उस बाग को संभाल रहे हैं। विकास के लिए उत्तर प्रदेश तीर्थ विकास परिषद का गठन किया। ब्रज को उसके प्राचीन स्वरूप में लाने के लिए वृंदावन, गोकुल, नंदगांव, बलदेव और बरसाना को तीर्थ स्थल घोषित किया। आयुष्मान भारत, सौभाग्य योजना, उज्ज्वला का भी जिक्र करते हुए करोड़ों युवाओं का रोजगार देने का भी दावा किया। कहा कि मोदी गरीब, मजदूर, व्यापारी, नौजवान का दर्द जानते हैं और उनके लिए जो किया, वह दूसरी कोई सरकार ने आज तक नहीं किया। सांसद हेमामालिनी को लेकर उन्होंने कहा कि वह 250 बार मथुरा आई, लेकिन सोनिया गांधी ओर राहुल गांधी के सांसद होने के कार्यकाल का गिना जाए तो वह पचास बार भी रायबरेली और अमेठी नहीं गए हैं। योगी प्रयागराज में लगे कुंभ और वारणासी में कराए गए विकास कार्यों के साथ साथ प्रवासी भारतीय सम्मेलन का जिक्र करना भी नहीं भूले। अंत में उन्होंने सभा में सांसद हेमामालिनी को जिताने की अपील करते हुए कहा कि सपा, बसपा, रालोद के गठबंधन को सिरे से खरिज कर मोदी को देश का प्रधानमंत्री बनाए। सभा में सांसद हेमामालिनी, कैबिनेट मंत्री चौधरी लक्ष्मी नारायण, श्रीकांत शर्मा, विधायक पूरन प्रकाश, कारिंदा सिंह भी मौजूद रहे। 

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति उत्तर प्रदेश व नारी शक्ति की उड़ान महिला संगठन निकालेंगे यातायात नियमों के प्रति जागरूकता रैली

» नौगांव में बढ़ रही है गंदगी की समस्या

» किरण बेदी ने वृंदावन पहुंचकर किए बांके बिहारी जी के दर्शन

» वृंदावन पहुंची उपराज्‍यपाल किरन बेदी लिया बांकेबिहारी जी का आशीर्वाद

» ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जनजागरूकता समिति उत्तर प्रदेश ने आरो के पानी की प्याऊ लगाई

 

नवीन समाचार व लेख

» प्रसूता की मौत के बाद सील हुआ हॉस्पिटल

» ब्रज यातायात एवं पर्यावरण जन जागरूकता समिति उत्तर प्रदेश व नारी शक्ति की उड़ान महिला संगठन निकालेंगे यातायात नियमों के प्रति जागरूकता रैली

» आगरा लखनऊ एक्सप्रेस पर 720 पेटी देसी शराब बरामद

» ड्यूटी पर जा रहे विधुतकर्मी को दबंग बदमाशो ने रास्ते मे रोककर जमकर की पिटाई मुकदमा दर्ज

» बैंक ऑफ इंडिया सिसेंडी में राष्ट्रीयकरण के 50 वर्ष पूरा होने में किसानों का निशुल्क शिविर लगाकर नेत्र परीक्षण किया