यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मथुरा जनपद में फिर हो जाइए स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए तैयार


🗒 गुरुवार, मई 30 2019
🖋 विजय सिंघल, दैनिक ब्यूरो चीफ मथुरा

ब्यूरो चीफ विजय सिंघल

मथुरा जनपद में फिर हो जाइए स्वच्छता सर्वेक्षण के लिए तैयार

मथुरा जनपद में 2020 के देशव्यापी स्वच्छता सर्वेक्षण में कान्हा की नगरी को श्रेष्ठ स्थान दिलाने के लिए आप भी तैयार हो जाइए। एक बार फिर स्वच्छता सर्वेक्षण की प्रक्रिया शुरू होने जा रही है। इस बार सर्वेक्षण चार चरणों में होगा। नगर निगम के अधिकारियों ने तो इसकी तैयारी भी शुरू कर दी है, लेकिन जनसहयोग के बगैर यह तैयारी परवान नहीं चढ़ सकेगी। वर्ष 2018 के स्वच्छता सर्वेक्षण में धर्म और आस्था की भूमि मथुरा को 133वें स्थान पर आंका गया था। यह आंकड़ा 2017 के मुकाबले बहुत बेहतर थी, लेकिन मथुरावासी ही नहीं सांसद हेमामालिनी भी इससे संतुष्ट नहीं हैं। अब इसमें सुधार का एक और मौका मिला है। 2020 के स्वच्छता सर्वेक्षण में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने की जिम्मेदारी आ रही है। यह जिम्मेदारी नगर निगम के कर्मचारियों और अधिकारियों की ही नहीं नगर वासियों की भी है। इसे देखते हुए जनता को इसके लिए और जागरूक करने के कार्यक्रमों की शुरूआत कर दी गई है। सबसे ज्यादा ध्यान सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट पर दिया जा रहा है। स्वच्छता सर्वेक्षण 2019 आयोजित कराने वाली केन्द्रीय संस्था द्वारा 2020 के स्वच्छता सर्वेक्षण का खाका के अनुसार आगामी स्वच्छता सर्वेक्षण चार चरणों में आयोजित किया जाएगा। हर चरण दो हजार अंक का होगा। प्रत्येक चरण के परिणाम के आधार पर फाइनल रिजल्ट घोषित किया जाएगा। संयुक्त नगर आयुक्त अजीत कुमार सिंह ने बताया कि वह आगामी स्वच्छता सर्वेक्षण की तैयारी में जुट गए हैं। अधिक से अधिक जनता को भी इससे जोड़ने की मुहिम चला रहे हैं।

फास्ट मूविंग सिटी का मिला अवार्ड

वर्ष 2018 में स्वच्छता के लिए देश में 428 वें नंबर पर रहे महानगरवासियों ने स्वच्छता प्रदर्शन में रिकार्ड सुधार करते हुए देश में 133 वें स्वच्छ शहरों में अपना स्थान बनाया। साथ ही फास्ट मूविंग सिटी का अवार्ड भी प्राप्त किया।

गलियों में लगने वाले ढेर हैं चुनौती

वर्तमान में निगम अधिकारियों के समक्ष गलियों में लगने वाले कूड़े के ढेर चुनौती बने हुए हैं। उनके द्वारा कूड़ा उठाने वाली कंपनी के माध्यम से इन ढेरों को हटवाने का प्रयास किया जा रहा है। साथ ही नागरिकों को डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन कर रही कंपनी को ही कूड़ा देने की मुहिम से जुड़ने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है ।

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» वृन्दावन के उल्लू बाग क्षेत्र में पुलिस और एसओजी टीम ने दी दबिश,

» पेड़ पौधे और जल हमारे वातावरण के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण:-विधायक ठा. कारिंदा सिंह

» बाजार में धूम मचा रही हैं तिरंगा पोशाक,विदेशों में भी इसकी मांग

» मथुरा बना अफवाहों का शहर,कच्छा धारी गैंग के नाम पर उड़ रही अफवाह,

» छटीकरा से पकड़ी बंगाली महिला पर बच्चे उठाने का आरोप, पुलिस को सौंपा

 

नवीन समाचार व लेख

» वृन्दावन के उल्लू बाग क्षेत्र में पुलिस और एसओजी टीम ने दी दबिश,

» जिला कौशांबी में किसान की गोली मारकर हत्या, तीन पर केस दर्ज

» जिला चंदौली के हरिशंकरपुर गांव में अधेड़ की पीटकर हत्या, नशे में धुत आरोपी गिरफ्तार

» सुरेंद्र नागर ने थामा भाजपा का दामन, अखिलेश को लगा झटका

» एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय में कुलपति का पुतला फूंकर आग पर लेटी राष्ट्रीय खिलाड़ी