यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मथुरा रिफायनरी पुल के नीचे बीती रात गौरक्षक दल और पुलिस ने पकड़े पशुतस्कर


🗒 मंगलवार, जुलाई 02 2019
🖋 विजय सिंघल, दैनिक ब्यूरो चीफ मथुरा

ब्यूरो चीफ विजय सिंघल

 मथुरा रिफायनरी पुल के नीचे बीती रात गौरक्षक दल और पुलिस ने पकड़े पशुतस्कर

मथुरा के रिफायनरी पुल के नीचे  ब्रजवासी गौ रक्षा दल और गौ सेवा समिति (होडल) के अथक प्रयास के चलते 14 गौवंश का जीवन बचाया जा सका बीती रात गौ रक्षकों को सूत्रों से सटीक सूचना मिली कि एक डम्फर में आगरा की ओर से मथुरा होते हुए  एक दर्जन से अधिक गौवंश कटान के वास्ते ले जाया जा रहा है। सूचना मिलते ही गौ रक्षकों ने रात करीब 11 बजे से अपना जाल बिछाना शुरू कर दिया।रात्रि लगभग 1.25 का समय रहा होगा, वही डम्फर आता हुआ दिखाई दिया। ये स्थान था रिफाइनरी नगर फ्लाईओवर के नीचे। गौ रक्षकों की टीम ने आगे से वाहनों को रोककर जाम की स्थिति बना दी।तभी पीछे से स्वयं को फंसता देख गौ तस्करों ने एक कट में डम्फर को बैक करके पुनः आगरा की ओर चल दिया। तब तक गौ रक्षकों की टीम ने इस डम्फर को तीनों ओर से बाइकों से घेर लिया था।बाबजूद इसके गौ तस्कर गौ रक्षकों को एक किलोमीटर के दायरे में कई चक्कर कटवाते रहे। फिर अचानक गौ तस्करों ने डम्फर का मुंह अगनपुरा गांव की ओर मोड़ दिया। अत्यधिक संकरे रास्ते में धूल उड़ाता खम्भे तोड़ता डम्फर आगे जाकर शमशान स्थल पर फंस गया। आगे रास्ता न होने के चलते गौ तस्कर डम्फर छोड़कर मौके से भाग खड़े हुये। पीछा करते वक़्त गौ रक्षकों ने सारी सूचना एसएसपी को दे दी। पूरे जनपद के बायरलेस गौ तस्करों की सूचना से गूंज उठे।कुछ ही मिनटों में मौके पर सीओ रिफाइनरी, एसएचओ रिफाइनरी, चौकी इंचार्ज बाद मय पुलिसबल के घटनास्थल पर पहुंच गये। पुलिस ने जब डम्फर में ऊपर चढ़कर देखा तो 14 गौवंश हाथ पैर और मुंह बंधे दयनीय स्थिति में थे। बाद चौकी इंचार्ज जितेन्द्र तेवतिया ने गौ तस्करों के चंगुल से छुड़ाये सभी 14 गौवंश को वृन्दावन स्थित श्रीपाद बाबा गौशाला लाकर संत दामोदर दास बाबा के सुपुर्द कर दिया।जाम लगाने से लेकर गौ तस्करों की पकड़ से डम्फर छुड़ाने तक पुलिस कप्तान शलभ माथुर की भूमिका भी सबसे सराहनीय रही जो गौ रक्षकों की टीम को समय रहते पुलिस सहायता मुहैया हो सकी।वहीं, पीआरवी 1925 और बाद चौकी के आरक्षी मोहित खां और महेश सिंह ने भी गौ रक्षकों के कंधे से कंधा मिलाकर डम्फर पकड़ने में अहम भूमिका निभाई। गौ रक्षकों की टीम में मोनू शर्मा, भगतसिंह, रानू ठाकुर, हरेन्दर, उदय तोमर, देवीलाल, कृष्णा राठौर, सुखदेव, बबली चौधरी और ललित आदि मौजूद रहे।

 

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» मथुरा के सदर में बड़े कसाई पाडे के पास मैं एक समुदाय के लोगों ने किया एक असहाय व्यक्ति पर हमला

» जुल्मकारी सीओ और इंस्पेक्टर के खिलाफ आवाज उठाने के लिए एकजुट हों पत्रकार बंधु

» मथुरा मैं मनाया गया विश्वकर्मा महोत्सव विश्वकर्मा वंशजों से एकजुट होने का किया आव्हान

» सुखदेव नगर के सैकड़ों लोग पानी की समस्या को लेकर नगर निगम भूतेश्वर वाटर वर्क्स पहुंचे

» गोवर्धन में एनजीटी कोर्ट कमिश्नर को सौंपा 13 सूत्रीय मांग ज्ञापन

 

नवीन समाचार व लेख

» मोहनलालगंज मे बेखौफ बदमाशों ने भूतपूर्व सैनिक पर बरसाई गोलियां हालत गंभीर

» कानपुर - महानगर मे गंदगी के कारण महामारी के काल मे समा सकती है क्षेत्रीय जनता

» चकेरी थानाक्षेत्र के अन्तर्गत गंदगी व कचरे के ढेरो से पूरा गांधीग्राम वार्ड मे पानी भरा

» काकादेव थानाक्षेत्र के अन्तर्गत चैन स्नैचर कर रहे खुलेआम चैन स्नैचिन्ग पुलिस को दे रहे चुनौती

» 13 घंटे बंद रहा राजघाट फीडर, बिजली को तरसे 15 हजार शहरी