यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लावारिस बच्चे के मां-बाप ने यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी पेपर के रिपोर्टर नरसी वैष्णव को बनाया धन्यवाद का पात्र


🗒 गुरुवार, नवंबर 21 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
नरसी वैष्णव तहसील रिपोर्टर
अलहपुर ,गुरुवार की सुबह छटीकरा NH-2 हाईवे पर एक 6 वर्ष का लावारिस बच्चा जोकि सुबह करीब 6 बजे अपने घर से निकल आया। बच्चे की उम्र करीब 6 वर्ष है। बच्चा अकेला पैदल रास्ते पर घूम रहा था। तभी हमारे U'F'H अखवार के पत्रकार नरसी वैष्णव अपनी खवर को कवरिज करने के लिए जा रहे थे। अचानक उनकी नजर हाइवे पर पैदल चल रहे बच्चे पर पड़ी देरी ना करते हुए उस बच्चे के पास गये। और बच्चे से पूछा आपका क्या नाम है। बच्चे का रोरोकर बुरा हाल हो गया। काफी समझाने के बाद बच्चे ने अपना नाम राम बताया और अपने पिताजी का नाम वीरेंद्र कुमार जो कि रेलवे में नौकरी करते हैं। बच्चे ने अपनी मां का नाम हेमा देवी बताया। भाई का नाम लक्ष्मण बताया व गांव का नाम गोवर्धन व मोहल्ला दानघाटी बताया। बच्चे को कोई मोबाइल नम्बर याद नही था। देरी न करते हुए रिपोर्टर नरसी वैष्णव ने 112 पर डायल कर सूचना दी व नयति चौकी इंचार्ज को कॉल करके बच्चे की सूचना दी। नयति चौकी  की प्रभारी ने पूछताछ कर बच्चे से बच्चे को बिछड़े मां बाप से मिलाया व माता पिता ने पुलिस के साथ - साथ नरसी वैष्णव को धन्यवाद कहा

लावारिस बच्चे के मां-बाप ने यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी पेपर के रिपोर्टर नरसी वैष्णव को बनाया धन्यवाद का पात्र

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» बालिकाओ ने जाने अपने बाल अधिकार, मनाया बाल अधिकार दिवस

» सीएसआरवी विद्या आश्रम में दो दिवसीय खेलकूद प्रतियोगिताओं का हुआ समापन

» लेखपाल की प्रताड़ना से पलायन करने को मजबूर है किसान

» विश्व सड़क दुर्घटना स्मरणीय दिवस पर निकाला गया कैंडल मार्च

» मोबाइल टावर लगाए जाने का स्थानीय लोगो ने किया विरोध

 

नवीन समाचार व लेख

» लावारिस बच्चे के मां-बाप ने यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी पेपर के रिपोर्टर नरसी वैष्णव को बनाया धन्यवाद का पात्र

» सीएसआरवी विद्या आश्रम में दो दिवसीय खेलकूद प्रतियोगिताओं का हुआ समापन

» दही चौकी स्थित किंग्स इंटरनेशनल के दो श्रमिकों की जहरीली गैस की चपेट में आ जाने से हुई मौत

» लेखपाल की प्रताड़ना से पलायन करने को मजबूर है किसान

» फैजाबाद में खेलने के लिए खो खो टीम रवाना