यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मथुरा भाजपा जिला अध्यक्ष से कार्यकर्ता नाराज किया बैठक में हंगामा।


🗒 गुरुवार, अक्टूबर 29 2020
🖋 आशीष तिवारी, जिला संवाददाता मथुरा
मथुरा भाजपा जिला अध्यक्ष से कार्यकर्ता नाराज किया बैठक में हंगामा।

मथुरा। आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में अपनी पैठ मजबूत करने को लेकर नौहझील के ब्लाॅक सभागार में आयोजित बैठक में जमकर हंगामा हो गया। हंगामा बढ़ते देख भाजपा जिलाध्यक्ष सहित अन्य वरिष्ठ पदाधिकारियों को बैठक छोड़ कर आना पड़ा। कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न को लेकर जमकर आरोप लगे। इस हंगामे को लेकर अनुशासित मानी जाने वाली पार्टी भाजपा पर सवाल उठ रहे हैं।आगामी कुछ माह में प्रदेश में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव आयोजित होने हैं। इनमें अपनी मजबूत उपस्थिति दर्ज कराने के लिए भाजपा ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं। इन्हीं तैयारियों के तहत नौहझील के ब्लाॅक सभागार में तीन मंडल बाजना, नौहझील एवं सुरीर मंडल की बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक को भाजपा की जिलाध्यक्ष मधु शर्मा संबोधित करने वाली थी। बैठक में अन्य जिलास्तरीय पदाधिकारी भी मौजूद थे। वहीं तीनों मंडलों के मंडल अध्यक्ष, सेक्टर प्रभारी, बूथ अध्यक्ष एवं कार्यकर्ता भी उपस्थित थे। इसी दौरान बैठक में अचानक कार्यकर्ताओं के उत्पीड़न एवं जिलास्तरीय नेताओं द्वारा उसका समाधान न किए जाने को लेकर हंगामा शुरू हो गया। कार्यकर्ताओं ने जमकर आरोप लगाए कि स्थानीय स्तर पर पुलिस प्रशासन द्वारा उनका शोषण किया जाता है। जब इसकी शिकायत करने के लिए जिलाध्यक्ष एवं अन्य पदाधिकारियों को फोन किया जाता है तो फोन अटेंड नहीं किया जाता है। यदि किसी तरह फोन अटेंड हो भी जाए तो समस्या का समाधान नहीं हो पाता है।उत्पीड़न का यह मामला तूल पकड़ ही रहा था कि इसी दौरान पारसौली के बूथ अध्यक्ष चंद्रपाल सिंह वहां पहुंचे और उन्होंने अपनी व्यथा बताते हुए कहा कि बैठक में शामिल होने के लिए आ रहे थे। बैठक स्थल से चंद कदम दूर ही पुलिस ने उनका चालान काट दिया। वह पुलिस वालों को सफाई देते रहे कि वह भाजपा के बूथ अध्यक्ष हैं और बैठक में शामिल होने जा रहे हैं। इसके बाद भी पुलिस कर्मियों ने उनकी एक न सुनी और चालान काट दिया। इसके बाद तो बाजना मंडल अध्यक्ष देवेंद्र चौधरी उर्फ छोटू सहित अन्य कार्यकर्ता और भी उत्तेजित हो गए। उन्होंने वरिष्ठ नेताओं पर कार्यकर्ताओं की अनदेखी के आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा काटा। देवेंद्र चौधरी की भाजपा जिलाध्यक्ष मधु शर्मा से हाॅट टाॅक भी हुई। कुछ कार्यकर्ताओं ने हंगामे की वीडियो बनाने का प्रयास किया तो भाजपा जिलाध्यक्ष ने वीडियो बनाने से इंकार करते हुए मोबाइल छिनवा लिया। इसके बाद हंगामा बढ़ता देख भाजपा जिलाध्यक्ष मधु शर्मा, जिला महामंत्री देवेश पाठक एवं जिला महामंत्री महीपाल सिंह सहित अन्य पदाधिकारी बैठक छोड़कर भाग खड़े हुए।भाजपा जिलाध्यक्ष मधु शर्मा ने मीडिया से बातचीत में बताया कि वह बैठक को बीच में छोड़कर नहीं आईं। बैठक पूरी करने के बाद ही वहां से निकली थीं। कार्यकर्ताओं की छोटी-मोटी शिकायतें थीं। इनमें पुलिस द्वारा चालान करना, पराली जलाना आदि शामिल थी। इन शिकायतों को दूर कराने का प्रयास किया गया। उन्होंने किसी से भी हाॅट टाॅक होने से भी इंकार किया। जिला महामंत्री देवेश पाठक ने बताया कि बैठक में कार्यकर्ताओं की पराली जलाने सहित अन्य शिकायतें थीं लेकिन बैठक में हंगामा नहीं हुआ। न ही हम लोग बैठक छोड़कर आए है।

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» समाज के लिए सराहनीय कार्य करने के लिए मनीष शर्मा को किया सम्मानित 

» अक्षयपात्र परिसर में हुई लूट के मामले में खूब दौड़ रही पुलिस मगर लुटेरे नहीं लग पा रहे हाथ

» क्षेत्रीय सहकारी समिति छटीकरा पर मेहनती सचिव के तबादले से किसानों में आक्रोश, भाजपा नेता ने भेजा एआर को पत्र

» सीएचसी चौमुहां का हुआ कायाकल्प पियर असेसमेंट

» रिश्तेदारी में गुंडई करने वालों को तलाश रही पुलिस