यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यूटा की शिकायत पर बीईओ प्रमोद कुमार सिंह को हटाया


🗒 मंगलवार, सितंबर 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
यूटा की शिकायत पर बीईओ प्रमोद कुमार सिंह को हटाया

रविकान्त तोमर
मथुरा। बेसिक शिक्षा विभाग में ब्लॉक मथुरा में तैनात खण्ड शिक्षा अधिकारी प्रमोद कुमार सिंह को यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन, यूटा की शिकायत पर ब्लॉक मथुरा से हटाकर बीएसए कार्यालय मुख्यालय पर भेज दिया गया है। यूनाईटेड टीचर्स एसोसिएशन, यूटा के जिला अध्यक्ष अंशुल गौतम, जिला मंत्री प्रशांत सारस्वत, जिला कोषाध्यक्ष जतिन,जिला मीडिया प्रभारी नेत्रपाल सिंह निमोरिया के नेतृत्व में समस्त पदाधिकारीयो सहित तमाम शिक्षको के साथ बीईओ प्रमोद कुमार सिंह के कारनामों की शिकायत बीएसए सहित जनपद के प्रशासनिक आला अफसरों व विभाग के अन्य उच्चाधिकारियों से की थी जिस पर ये कार्यवाही प्रमोद कुमार सिंह के विरुद्ध हुई कि उनको किसी भी ब्लॉक की जिम्मेदारी नही सौंपी गई क्योंकि यूटा की मांग थी कि ऐसे बीइओ का ब्लॉक परिवर्तन शिक्षक हित मे समाधान नही बल्कि ब्लॉक से वंचित रखना समाधान है। यूटा की शिकायत थी कि बीईओ प्रमोद कुमार नियमविरुद्ध विद्यालयों का निरीक्षण कर शिक्षक शिक्षिकाओं का शोषण करते थे व शिक्षक शिक्षिकाओं से अभद्र भाषा में बात करना इनके संस्कार में था। अध्यापकों की किसी समस्या का निस्तारण करना तो दूर बल्कि अध्यापकों को परेशान करने के लिए नियमविरुद्ध नए नए फॉर्मूले लागू करना इनकी फितरत में था। यूटा ने अपनी शिकायत में कहा कि बीईओ प्रमोद कुमार कभी किसी भी तरह के अध्यापकों के अवकाश को स्वीकृत नहीं करते थे,पूरे माह उपस्थित रहने वाली शिक्षिकाओं को अपने स्तर से अनुपस्थित करना या अपने मनमाने दबंगई वाले फॉर्मूले से ही स्वीकृत करते थे व कार्यालय के सभी कार्य जबरन कार्यालय लिपिक को देर रात्रि तक घर बुलाकर घर से सम्पादित करते थे। इनसे न केवल ब्लॉक के शिक्षक बल्कि समस्त कार्यालय लिपिक व स्टाफ सभी मानसिक प्रताड़ित थे। सूत्रों के मुताबिक संज्ञान में आया है कि एक दिन तो इन्होंने ब्लॉक के लिपिक को देर शाम धमकी देकर जबरन घर बुलाया व कई घण्टे तक गेट के बाहर खड़ा रखा जिससे बाबू की तवियत खराब होने पर उन्हैं साथ आये चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी द्वारा चिकित्सक के यहाँ ले जाना पड़ा। जिस पर सम्बन्धित लिपिक ने अपनी पत्नी व बच्चों को बता दिया कि यदि उनके साथ कोई अनहोनी हुई तो उसके जिम्मेदार बीईओ प्रमोद कुमार सिंह होंगे।यह भी सुनने में आया है कि जिन कार्यों को यह बीईओ कार्यालय में अंजाम नहीं दे पाते थे उनके लिए कुछ शिक्षक शिक्षिकाओं को देर शाम को अपने घर पर बुलाया करते थे। न जाने वे कौन से कार्य थे जिनको करने के लिए बीईओ शिक्षिकाओं को अपने घर तक बुलाते थे। ऐसी तमाम शिकायतों के दृष्टिगत फिलहाल इनकी तैनाती ब्लॉक मथुरा से हटाकर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय मुख्यालय पर कर दी गई है।इससे यूटा ही नही बल्कि जनपद के हर ब्लॉक के शिक्षक-शिक्षिकाओं में खुशी की लहर दौड़ पड़ी है क्यो की इससे पूर्व बीइओ प्रमोद कुमार सिंह ब्लॉक-नौहझील, नन्दगाँव में थे तब भी इन्होंने शिक्षको-शिक्षिकाओं का शोषण करके त्रस्त कर दिया था।यूटा ने जनपद के बीएसए सहित प्रशासन के आलाअफसरों का धन्यवाद ज्ञापित किया है।

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» घर बैठे वेतन पा रहे हैं होम्योपैथिक चिकित्सक

» हर्षोंउल्लास के साथ मना चंद्रोदय मंदिर में राधाष्टमी महामहोत्सव

» भारत में महिलाओं के साथ दरिंदगी कब खत्म होगी : ज्योति बाबा

» स्वर्णकार जनजागृति एसोसिएशन में परिचय सम्मेलन के साथ किया सम्मान

» पुलिस उपायुक्त का छटीकरा में किया सम्मान

 

नवीन समाचार व लेख

» यूटा की शिकायत पर बीईओ प्रमोद कुमार सिंह को हटाया

» हर्षोंउल्लास के साथ मना चंद्रोदय मंदिर में राधाष्टमी महामहोत्सव

» न्याय न मिला तो पूरे प्रदेश में आंदोलन किया जायेगा: सुशील पासी

» ब्लाक प्रमुख पर हुए हमले में आरोपियों क़ी हुई गिरफ्तारी

» रायबरेली को मिली बड़ी सौगात,223.81 करोड़ की विभिन्न परियोजनों का लोकार्पण और शिलान्यास