यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

घर बैठे वेतन पा रहे हैं होम्योपैथिक चिकित्सक


🗒 मंगलवार, सितंबर 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
घर बैठे वेतन पा रहे हैं होम्योपैथिक चिकित्सक

रविकान्त तोमर
मथुरा। योगी सरकार में भी चिकित्सक अपने ढर्रे में बदलाव नहीं कर रहे हैं। घर बैठे ही वेतन लेकर मौज मस्ती करने के आदि हो गए हैं। ऐसा तरोताजा मामला हाल में ही देखने को मिल रहा है। छटीकरा निवासी व्यापारी नेता नरेश अग्रवाल के अनुसार गांव छटीकरा और जैंत में होम्योपैथिक चिकित्सकों की तैनाती है। मगर दोनों ही स्थानों पर चिकित्सक अपनी सेवा देने से नदारद हैं। जिससे इस पद्यति पर विश्वास रखने वाले रोगियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उनको अपना उपचार कराने के लिए मथुरा शहर भागना पड़ता है या मजबूर होकर झोलाछापों की शरण में जाना पड़ता है। कई बार इसकी शिकायत भी की जा चुकी है। मगर कोई सुनवाई नहीं होती है। जिससे क्षेत्र के लोगों में इस विभाग के खिलाफ भारी आक्रोश व्याप्त है। फिर से इसकी शिकायत व्यापारी नेता नरेश अग्रवाल के द्वारा शासन स्तर पर की गई है। उनका कहना है कि यदि फिर भी इस गंभीर समस्या का हल नहीं हुआ तो होम्योपैथिक विभाग के खिलाफ आंदोलन करने का मन बनाया जाएगा। इस बारे में कार्यवाहक जिला होम्योपैथी अधिकारी डॉ. राकेश कुमार ने बताया कि छटीकरा का अस्पताल गांव राल में स्थानांतरित कर दिया गया है। गांव जैंत में नियमित सेवाएं दी जा रही हैं। फिर भी वह जांच कर आवश्यक कानूनी कार्रवाई करेंगे।

मथुरा से अन्य समाचार व लेख

» गरीब ऑटो संचालकों के लिए समिति ऑटो के बीमा में करेगी सहयोग

» हेलमेट के प्रति जागरूक करने वाली महिलाओं को किया सम्मानित

» मानसिक रूप से बीमार महिला को इलाज के लिए भिजवाया

» हेलमेट के प्रति जागरूकता अभियान के अंतर्गत बहुत सारी महिलाओं ने इसमें हिस्सा लिया

» दीपक चतुर्वेदी बैंकर को कोरोना योद्धा सम्मान से सम्मानित किया गया