यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मऊ में कोयला माफिया का 25 लाख का 300 टन कोयला जब्त


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 30 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मऊ में कोयला माफिया का 25 लाख का 300 टन कोयला जब्त

मऊ, विधायक मुख्तार अंसारी गिरोह पर शासन-प्रशासन का शिकंजा कसता ही जा रहा है। आइएस-191 गिरोह से जुड़े ठीकेदार, कोल माफिया, भू-माफिया, स्लाटर हाउस संचालक, मछली माफिया आदि कई निशाने पर हैं। इसमें विधायक गिरोह के अत्यंत नजदीकी व मन्ना सिंह हत्याकांड में सह अभियुक्त कोयला माफिया व त्रिदेव ग्रुप के मालिक उमेश सिंह का 25.5 लाख रुपये कीमत का 300 टन कोयला गैंगस्टर एक्ट के तहत शुक्रवार को पुलिस ने जब्त कर लिया। अभी तक पुलिस प्रशासन ने गिरोह के 21.80 करोड़ रुपये की चल व अचल संपत्ति को जब्त किया है। इसमें अकेले कोयला माफिया के 6.92 करोड़ पर कार्रवाई हुई है। तहसील सदर के अदरी मौजे में बने लगभग 10 लाख 36 हजार 200 रुपये व उसमें कोल डिपो के निर्मित तीन कमरे को 23 अक्टूबर को गैंगस्टर एक्ट के तहत जब्त किया गया था। शुक्रवार को कोल डिपो में रखे गए लगभग 300 टन कोयले को भी जब्त कर लिया गया। पुलिस प्रशासन द्वारा लगातार की जा रही कार्रवाई के बावजूद खुफिया एजेंसियां गिरोह के सिंडिकेट को तलाशने में जुटी हैं। इसमें उन सभी लोगों को निशाने पर लिया गया है जो विधायक गिरोह के प्रभाव व माफिया से संबंध का लाभ उठाते हुए अपराध कारित करते हुए संपत्ति अर्जित किए हैं। शासन-प्रशासन की तरफ से चल रहे अभियान में बीते चार माह में पुलिस ने गैंग संचालित करने वाले माफिया तत्वों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट के तहत  लगभग 21 करोड़ 80 लाख 36 हजार मूल्य की चल-अचल संपत्ति पर कार्रवाई की है।

मऊ से अन्य समाचार व लेख

» मुख्तार अंसारी के करीबी उमेश सिंह के माॅल पर ध्वस्तीकरण की कार्रवाई

» मऊ में दुधमुंहे बालक को कुत्ते ने नोच डाला

» विदेश भेजने के नाम पर लिए थे रुपये

» मऊ में असलहा तस्करी में आरपीएफ और जीआरपी भी निशाने पर, ट्रेन से मुंगेर ले जाती थी तीन महिलाएं

» मऊ में आशा की लापरवाही से जच्चा-बच्चा की मौत