यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्जी मंगेतर बन युवतियों से ठगे 25 लाख


🗒 रविवार, अगस्त 11 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

2011 में रिलीज हुई अभिनेता रणवीर सिंह अभिनीत लेडीज वर्सेस रिकी बहल फिल्‍म देखकर अलीगढ़ के विष्णु सिंह ने रीयल स्टोरी बना डाली। खुद को इंडिगो एयरलाइंस में पायलट बताकर शादी डॉट कॉम और फेसबुक के जरिए लड़कियों से संपर्क किया। शादी तक बात पहुंचने पर मां की बीमारी बताकर रकम ठग लेता था। वह अब तक आठ युवतियों से 25 लाख रुपये ठग चुका है। पुलिस ने सभी घटनाओं का पर्दाफाश करते हुए विष्णु को गिरफ्तार कर उसका खाता सीज कर दिया। खाते में तीन लाख रुपये की रकम मिली है। टीपीनगर की गुप्ता कालोनी निवासी ब्यूटी पार्लर संचालिका ने अपनी शादी के लिए जनवरी में शादी डॉट कॉम साइट पर बायोडाटा अपलोड किया था। खुद को इंडिगो एयरलाइंस का पायलट बताने वाले सिद्धार्थ मल्होत्रा से चार माह तक उसकी बातचीत होती रही। 10 अप्रैल को मंगनी की रस्म भी पूरी हो गई। पांच दिन बाद ही सिद्धार्थ ने ब्यूटी पार्लर संचालिका से मां के एक्सीडेंट की बात कहकर 20 हजार रुपये खाते में डलवा लिए।  दो दिन बाद बताया कि तबियत ज्यादा खराब होने के कारण यूएस ले जाना पड़ेगा। संचालिका ने 1.40 लाख रुपये फिर खाते में डाल दिए। इसके बाद अचानक सिद्धार्थ का व्यवहार बदल गया। उसने कॉल उठाना तक बंद कर दिया। शक होने पर युवती ने पड़ताल की तो पता चला कि वर्दी में फेसबुक पर डाले गए सिद्धार्थ के फोटो वास्तव में राघव के हैं। आरोपित का असली नाम विष्णु सिंह पुत्र रामबीर निवासी कुंवर सिंह नगर अलीगढ़ है। वह पहले भी सात लड़कियों को शादी के लिए प्रपोज कर करीब 25 लाख रुपये वसूल चुका है। युवती की तहरीर पर टीपीनगर थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया। एसपी क्राइम रामअर्ज ने बताया कि साइबर सेल की टीम ने इस पर काम किया। आरोपित विष्णु को अलीगढ़ से गिरफ्तार कर लिया। विष्णु सिंह बड़ा शातिर है। वह अब तक सिद्धार्थ मल्होत्रा, अंकित सिंह राजपूत, संजीव, शिवा और राघव नाम से सामने आ चुका है। हर नई लड़की को प्रपोज करने के लिए अलग नाम से आइडी तैयार करता है। उस पर फोटो भी दूसरा लगाता है। पंजाब, महाराष्ट्र, एमपी, पश्चिम बंगाल, गोवा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश की लड़कियों को शादी के नाम पर ठग चुका है। सभी को मां की बीमारी बताकर रकम वसूलता है। इसके बाद आइडी बंद कर देता है।

फर्जी मंगेतर बन युवतियों से ठगे 25 लाख

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» सीजीएसटी के कार्यालय अधीक्षक को रिश्वत लेते CBI ने रंगे हाथ दबोचा

» मेरठ मे सौतेली मां ने पांच साल के मासूम की गला दबाकर हत्‍या कर शव बेड में छुपाया

» मेरठ मे सिपाही को गोली मारने वाले दोनों बदमाश मुठभेड़ में मार गिराए

» मेरठ मे बीस हजार में थमा देते थे डॉक्‍टर, इंजीनियर की फर्जी डिग्री

» मेरठ मे लेनदेन को लेकर जमकर बवाल, पथराव और फायरिंग: एक दर्जन हिरासत में

 

नवीन समाचार व लेख

» सरकारी खजाने से भरा जाता है CM, मंत्रियों का आयकर

» उन्नाव हिन्दुस्तान पेट्रोलियम गैस प्लांट को हटाने को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश

» जन्मस्थान को न्यायिक व्यक्ति मानने के लिए क्या जरूरी है, मुस्लिम पक्ष से सुप्रीम कोर्ट का सवाल

» UP के निवासियों को मिल रही सबसे महंगी बिजली

» मुख्यमंत्री योगी ने लिया फैसला...अब UP सरकार नहीं भरेगी मुख्यमंत्रियों और मंत्रियों के वेतन पर आयकर