यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

महिला उत्पीड़न के मामले में थानाध्यक्ष को 24 घंटे के अंदर देना होगा जवाब


🗒 बुधवार, जनवरी 01 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

महिला उत्पीड़न से संबंधित मामले में महिला द्वारा थाने में दर्ज कराई शिकायत पर अब थानाध्यक्ष को ही 24 घंटे में कार्रवाई के बारे में अवगत कराना होगा। यह निर्देश बुधवार को उत्तर प्रदेश राज्य महिला आयोग की सदस्य राखी त्यागी ने दिए। सर्किट हाउस में जनसुनवाई के बाद बातचीत में आयोग की सदस्य राखी त्यागी ने कहा कि महिला को अब थाने में चक्कर काटने की जरूरत नहीं पड़ेगी। यदि कोई महिला अपने साथ हुई घटना के बारे में थाने को फोन आदि से जानकारी दे देती है। अथवा लिखित में शिकायत उपलब्ध करा देती है तो संबंधित थानाध्यक्ष को ही उस मामले में कार्रवाई व मुकदमा आदि की जानकारी 24 घंटे के अंदर देनी होगी।एक बार अपने साथ हुई घटना के मामले में कार्रवाई के लिए महिला को बार-बार जानकारी और न्याय पाने के लिए थाने जाने की जरूरत नहीं होगी। अफसरों को ही यह बताना होगा कि उस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज करके क्या कार्रवाई की है।उन्होंने बातचीत में माना कि तीन तलाक कानून बनने के बाद महिलाओं के साथ हो रही उत्पीड़न व हिंसा आदि की घटनाओं में कमी आई है। कानून के बनने से महिला निडर व सशक्त हुई है। उन्होंने कहा कि कानून बनने से पूर्व बड़ी संख्या में महिलाएं जनसुनवाई के दौरान अपनी पीड़ा व्यक्त करने के लिए आती थीं, लेकिन अब उनकी संख्या काफी कम रह गई है।बुधवार को जनसुनवाई के दौरान आयोग की सदस्य ने आधा दर्जन से अधिक मामले सुनवाई के बाद निस्तारित किए। इनमें नौचंदी थाना क्षेत्र से एक महिला का तीन तलाक का मामला भी आया। इस मामले में आयोग की सदस्य ने तत्काल नौचंदी थानाध्यक्ष को मुकदमा दर्ज कर सख्ती के साथ कार्रवाई के निर्देश दिए। सैनिक विहार कंकरखेड़ा निवासी एक महिला ने भी आयोग की सदस्य से शिकायत की उसके पति ने धोखे से तलाक के पेपर पर साइन करा लिए हैं।इस मामले में भी थाना कंकरखेड़ा एसओ को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि महिला उत्पीड़न अथवा उनके साथ हिंसा आदि की घटनाओं को बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पुलिस ऐसे मामलों में त्वरित कार्रवाई करें, ताकि पीड़ित महिला को तत्काल न्याय मिल सके। जन सुनवाई के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी शत्रुघ्न कनौजिया समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे। 

महिला उत्पीड़न के मामले में थानाध्यक्ष को 24 घंटे के अंदर देना होगा जवाब

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» मेरठ में बैंक मैनेजर समेत आज 19 पॉजिटिव, कुल संक्रमितों की संख्‍या 801

» मेरठ में आज कोरोना के आठ मामले, इन जिलों में भी संक्रमितों की पुष्टि

» मेरठ में कोरोना से आज तीन की मौत, दो कैदी समेत 23 में संक्रमण की पुष्टि

» मेरठ में कोरोना से एक की मौत, दस नए संक्रमित, आसपास के जिलों में दो की मौत

» बुलंदशहर में कोरोना के 32 नए मामले, सहारनपुर में भी 25 संक्रमित, इन जिलों में भी बिगड़ेे हालात

 

नवीन समाचार व लेख

» अमित शाह बोले, पीएम मोदी की पहल पर भगवान जगन्‍नाथ रथयात्रा का निकला हल

» सबसे ज्यादा 577 नोएडा और 29 जिलों में 40 से कम एक्टिव केस

» कानपुर छावनी परिषद के स्टोर इंचार्ज की कोरोना से मौत, संक्रमितों का आंकड़ा 979

» पिंटू सेंगर हत्याकांड मे कई दिन से हत्यारे कर रहे थे रेकी, एक पल में पिंटू पर दागीं 16 गोलियां

» मेरठ में बैंक मैनेजर समेत आज 19 पॉजिटिव, कुल संक्रमितों की संख्‍या 801