यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मेरठ में आर्मी इंटेलिजेंस ने पकड़ा फर्जी फौजी, कैंट कनेक्‍शन खंगालने में जुटी टीम


🗒 रविवार, सितंबर 13 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मेरठ में आर्मी इंटेलिजेंस ने पकड़ा फर्जी फौजी, कैंट कनेक्‍शन खंगालने में जुटी टीम

रविवार दोपहर आर्मी इंटेलिजेंस की टीम ने इंचौली थाना पुलिस के साथ मिलकर फर्जी फौजी को दबोच लिया। वह करीब 7 महीने से क्षेत्र के मसूरी गांव निवासी राजेंद्र के घर में किराए पर रह रहा था। खुद को 22 पंजाब रेजीमेंट का जवान बताता था। रोब गालिब करने के लिए गांव में भी रहे अक्सर वर्दी पहन कर घूमता था।बताया गया कि आर्मी इंटेलिजेंस को काफी समय से इचौली क्षेत्र में एक फर्जी फौजी के होने की सूचना मिल रही थी। काफी दिनों से टीम उस पर नजर रखे हुए थी। रविवार दोपहर को थाना पुलिस के साथ मिलकर फर्जी फौजी को पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम संजय निवासी मोदीनगर भूपेंद्र पुरी गली नंबर 4 बताया। शुरुआती पूछताछ में उसने बताया कि वह इंचोली क्षेत्र में शादी करना चाहता था, इसलिए मसूरी गांव में फौजी बनकर रह रहा था।टीम को आरोपित के पास से दो नेम प्लेट, दो कैप, दो बेल्ट दो आर्मी की शर्ट पैंट और एक मोबाइल फोन बरामद हुआ है। टीम मोबाइल फोन को खंगालने में जुट गई है। उससे अहम जानकारी मिलने की उम्मीद है। सूत्रों का कहना है कि आरोपित के केंट कनेक्शन को भी खंगाला जा रहा है। 

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» मेरठ में आनलाइन चल रहा था IPL मैच पर सट्टा, पुलिस ने होटल मैनेजर समेत पांच को दबोचा

» मेरठ मे अश्लील वीडियो भेजने पर युवक की जबरदस्‍त पिटाई

» अखिल भारतीय हिंदू महासभा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को मिली बम से उड़ाने की धमकी

» झूठा निकला पूर्व विधायक को हत्‍या की धमकी मिलने का मामला,

» पूर्व विधायक को मिली हत्या की धमकी,

 

नवीन समाचार व लेख

» बिकरू कांड मे 2058 पन्नों की चार्जशीट में 102 को बनाया गवाह, पुलिस के अलावा कोई प्रत्यक्षदर्शी नहीं

» देवरिया की घटना का सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने लिया संज्ञान, कड़ी कार्रवाई का निर्देश

» बहन-बेटियों की सुरक्षा और न्याय दिलाने के लिए छेड़ेंगे 'न्याय युद्ध' - अखिलेश यादव

» बांदा में तिलक समारोह में हर्ष फायरिंग, गोली लगने से महिला की मौत

» सैफई मेडिकल यूनिवर्सिटी में जूनियर डॉक्टर ने फांसी लगाकर दी जान