यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एनआइए ने केएलएफ के सदस्य जावेद का घर खंगाला, दीवारों से लेकर लेंटर तक किए चेक


🗒 मंगलवार, सितंबर 22 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
एनआइए ने केएलएफ के सदस्य जावेद का घर खंगाला, दीवारों से लेकर लेंटर तक किए चेक

केएलएफ (खालिस्तान लिबरेशन फोर्स) को हथियार सप्लाई करने में पकड़े गए सदस्य जावेद के ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में बंद पड़े दो मकानों की एनआइए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) की टीम ने तलाशी ली। टीम ने मकान की दीवारों से लेकर लेंटर तक चेक किए, ताकि हथियारों के जखीरे का पता चल सके, लेकिन टीम को वहां से हथियार नहीं मिले।2016 में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पंजाब प्रान्त के उप प्रमुख रिटायर ब्रिगेडियर जगदीश कुमार की हत्या में शामिल खालिस्तानी आतंकी धरङ्क्षमदर को जावेद ने ही हथियार सप्लाई किए थे। इस हत्याकांड की जांच एनआइए कर रही है।सात जून को एटीएस ने किठौर के राधना निवासी जावेद को पकड़कर पंजाब पुलिस को सौंपा था। जावेद के खिलाफ पंजाब में हथियार सप्लाई करने का मुकदमा दर्ज था। एटीएस की पूछताछ में सामने आया था कि जावेद ने आरएसएस के पंजाब प्रांत के उप प्रमुख रिटायर ब्रिगेडियर जगदीश कुमार की हत्या में हथियार सप्लाई किए थे। जावेद की गिरफ्तारी के बाद एनआइए ने भी उससे पूछताछ की। जांच में सामने आया कि जावेद ही केएलएफ को बड़े पैमाने पर हथियार सप्लाई करता था। इस अवैध धंधे से उसने ब्रह्मपुरी की समर कालोनी व चमन कालोनी में दो मकान बनाए थे। मंगलवार को दिल्ली से एनआइए की टीम मेरठ पहुंची। पूरे ऑपरेशन को गोपनीय रखा गया। ब्रह्मपुरी पुलिस के साथ टीम ने समर कालोनी और चमन कालोनी स्थित जावेद के दोनों मकानों की तलाशी ली। इंस्पेक्टर सुभाष अत्री ने बताया कि मकान काफी दिनों से बंद पड़े थे। आसपास के लोगों को गवाह बनाकर वीडियो रिकार्डिंग करते हुए मकान खोले गए। एनआइए की टीम ने घंटों तक मकान उसकी दीवार और लेंटर भी चेक किया था।एनआइए की टीम ने ब्रह्मपुरी के बाद राधना गांव में भी जावेद से जुड़े लोगों से पूछताछ की। गांव में भी करोड़ों की कीमत से जावेद का मकान तैयार हो रहा है। आसपास के लोगों ने बताया कि जावेद चंद दिनों में ही करोड़ों का मालिक बन गया। हालांकि उसकी बेनामी संपत्ति की जांच हो रही है। एनआइए ने जावेद के स्वजन और दूर के रिश्तेदारों से भी पूछताछ की। जावेद की पूरी जानकारी जुटाने के बाद एनआइए की टीम दिल्ली लौट गई।एनआइए की टीम ने जावेद के बारे में पूछताछ की। साथ ही उसके घर की तलाशी ली। पुलिस को एनआइए के सहयोग के लिए लगाया था। जांच पड़ताल के बाद टीम वापस लौट गई।-अजय साहनी, एसएसपी। 

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» मेरठ में पबजी खेलने से मना किया तो पिता की गर्दन पर किए कई वार, फिर खुद की गर्दन काटी

» पांच हजार बाइक चोरी करने वाले राहुल काला के गोदाम से 40 बाइक की चेसिस बरामद

» बाइक बोट घोटाले में डायरेक्टर समेत तीन आरोपित गिरफ्तार, पहले से हिरासत में है कंपनी का निदेशक

» मेरठ में घर में घुसकर चिकित्सक के सीने में मारी गोली

» मेरठ में आनलाइन चल रहा था IPL मैच पर सट्टा, पुलिस ने होटल मैनेजर समेत पांच को दबोचा

 

नवीन समाचार व लेख

» महिला अपराधों पर एक्शन में योगी सरकार, 1388 संगीन घटनाओं में आरोपितों को मिली सजा

» बाराबंकी में पीड़ित परिवार से मिलेगा सपा प्रतिनिधिमंडल

» लखनऊ मे डीजल चोरी की फाइल सात माह दबाना पड़ा महंगा, ARM निलंबित

» लखनऊ मे बेसिक शिक्षा निदेशालय का घेराव कर रहे प्रशिक्षुओं पर लाठीचार्ज, दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

» जल्द दिलाएं ओले गिरने से क्षति की भरपाई के लिए धनराशि - सीएम योगी