मेरठ में तथाकथित तांत्रिकों के चक्कर में फंसे लंदन रिटर्न डॉक्टर, अलादीन के चिराग के नाम पर गंवाएं ढाई करोड़

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मेरठ में तथाकथित तांत्रिकों के चक्कर में फंसे लंदन रिटर्न डॉक्टर, अलादीन के चिराग के नाम पर गंवाएं ढाई करोड़


🗒 शनिवार, अक्टूबर 31 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मेरठ में तथाकथित तांत्रिकों के चक्कर में फंसे लंदन रिटर्न डॉक्टर, अलादीन के चिराग के नाम पर गंवाएं ढाई करोड़

मेरठ, अशिक्षित तथा कम पढ़े-लिखे लोगों को तो अंधविश्वास के चक्कर में फंसने के कई मामले सामने आते हैं। इसके विपरीत मेरठ में एक बड़े डॉक्टर को दो कथाकथित तांत्रिकों ने ठग लिया। पुलिस की गिरफ्त में आए फर्जी तांत्रिकों ने लंदन से लौटे डॉक्टर को 'अलादीन का चिराग' के नाम पर बड़ा चूना लगाया। इन लोगों ने डॉक्टर से ढाई करोड़ रुपये की ठगी की।डॉक्टर का आरोप है कि उससे तांत्रिकों ने दो वर्ष में करीब ढाई करोड़ रुपया ठग लिया है। पीडि़त की तहरीर के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों के पास से तथाकथित 'जादुई चिराग' भी बरामद किया गया है। यहां पर फर्जीवाड़ा का मामला मेरठ के थाना ब्रह्मपुरी का है, यहां खैरनगर अहमद रोड निवासी डॉ. लईक अहमद ने तांत्रिक इकरामुद्दीन, अनीस और एक महिला के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। डॉक्टर का आरोप है कि तीनों ने उसके और उसके परिवार पर तंत्र मंत्र का प्रयोग किया और उससे करोड़ों की ठगी की। तांत्रिकों ने डॉक्टर को एक चिराग दिया जिसे अलादीन का चिराग बताया। तांत्रिकों ने उनसे कहा था कि इस चिराग से वो माला-माल हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ तो डॉक्टर ने इन तांत्रिकों पर आरोप लगाया कि दो साल से ये उससे ठगी कर रहे हैं। आरोप है कि अब तक डॉक्टर से 2.5 करोड़ की ठगी की किश्तों में की गई है।डॉ. लईक खान फिजीशन हैं और उन्होंने अपनी एफआरएचएस की पढ़ाई लंदन से की है। बागपत रोड निवासी समीना नाम की महिला 2018 में अपने ऑपरेशन के बाद डॉक्टर लईक के संपर्क में आई थी। डॉक्टर लईक का कहना है कि इसके बाद वह अक्सर महिला की मरहम पट्टी करने के लिए उसके घर जाने लगे। डॉक्टर लईक का कहना है कि महिला के घर पर उनकी मुलाकात इस्लामुद्दीन नाम के तांत्रिक से हुई। जो खुद को बहुत बड़ा तांत्रिक होने का दावा करता था। इस्लामुद्दीन ने डॉक्टर लईक को अरबपति बनाने के सब्जबाग दिखाने शुरू कर दिए। इसके बाद इस्लामुद्दीन और उसके साथी अनीस ने डॉक्टर लईक को अलादीन का चिराग देने का वादा किया। डॉक्टर लईक का कहना है कि महिला के घर पर दोनों व्यक्ति अक्सर चिराग से जिन्न को प्रकट भी करते थे। मगर उन्हेंं बाद में पता चला कि यह जिन्न कोई और नहीं बल्कि खुद समीना का पति इस्लामुद्दीन था।फिलहाल पुलिस ने तंत्र-मंत्र के सहारे डॉक्टर से रुपये ऐंठने वाले दो तांत्रिकों को गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि दोनों तांत्रिकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। पुलिस ने इनके पास से नकली चिराग, लकड़ी की चप्पल, नकली पत्थर और 20 हजार रुपये बरामद किए गए हैं। इस शातिर गैंग की महिला अभी फरार है। पुलिस उसे भी पकडऩे की कोशिश में लगी हुई है।डाक्टर लईक ने ब्रह्मपुरी पुलिस से इस मामले की शिकायत की। इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी सुभाष अत्री ने बताया कि डाक्टर की शिकायत पर समर गार्डन के पास से इकरामुद्दन को गिरफ्तार लिया। साथ ही उसके कब्जे से जादुई चिराग भी बरामद कर लिया। बाद में दूसरे तांत्रिक अनीस को भी दबोच लिया गया। इससे पहले भी इकरामुद्दीन जादुई चिराग का सौदा अन्य लोगों से कर चुका था। बाकायदा जादुई चिराग से कई करतब भी दिखा चुका है। 

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» खरखौदा का फफूंडा हत्याकांड चार गिरफ्तार

» ईंट से ताबड़तोड़ वार कर युवक को मौत के घाट उतारा

» बाइक सवार बदमाशों ने चालक से लूटी ई-रिक्शा

» सरेराह दो बहनों को उठाने के प्रयास में मुकदमा, चार गिरफ्तार

» मेरठ में गड्ढे में गिरने से ढाई साल की मासूम की मौत, हंगामा