यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

हारमनी होटल में हापुड के व्यापारी बेटे ने फांसी लगाकर दे दी जान


🗒 बुधवार, जनवरी 13 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
हारमनी होटल में हापुड के व्यापारी बेटे ने फांसी लगाकर दे दी जान

मेरठ, । गढ़ रोड स्थित हारमनी होटल में कपड़ा व्यापारी के बेटे ने बुधवार को फांसी लगाकर जान दे दी। वह हिंदुस्तान लिवर लि. में मेरठ एरिया सेल्स मैनेजर था। सेल्स मैनेजर दोपहर तक होटल से बाहर नहीं आया। तब पुलिस बुलाकर होटल की मास्टर चाबी से कमरा खोला गया। देखा कि सेल्स मैनेजर का शव पंखे से लटका हुआ है। तत्काल ही पुलिस ने फोरेसिंक टीम बुलाकर क्राइमसीन की जांच कराई। उसके बाद मृतक के परिवार को मामले की सूचना दी। हापुड़ के रेलवे रोड स्थित मोहल्ला श्रीनगर में कमल दीवान रहते हैं। उनका हापुड़ के बाजार में कपड़े का कारोबार है। कमल दीवान का एकलौता बेटा उज्ज्वल दीवान हिंदुस्तान लिवर लि. में मेरठ जनपद में एरिया सेल्स मैनेजर था। उज्ज्वल की एक बहन पूर्वा दीवान हैं। रोजाना की तरह मंगलवार को भी उज्ज्वल घर से ड्यूटी पर आया था। रात आठ बजे उसके साथ काम करने वाले युवक ने उज्ज्वल को सोहराबगेट बस स्टैंड पर छोड़ दिया। उसके बाद उज्ज्वल घर जाने की बजाय गढ़ रोड स्थित होटल हारमनी में पहुंचा। यहीं उसने एक कमरा रातभर के लिए किराए पर लिया। उसके बाद साढ़े 11 बजे उज्ज्वल ने वेटर से खाना रूम में मंगवाया। खाना खाने के बाद रात में उज्ज्वल ने गले में पड़े दुपट्टे का फंदा बनाकर पंखे से लटक गया।दोपहर तक भी उज्ज्वल रूम से बाहर नहीं आया। तब वेटर अमित चौधरी पांचवीं मंजिल स्थित कमरे में आर्डर लेने के लिए पहुंचा। काफी आवाज लगाने के बाद भी कमरा नहीं खोला गया। उसके बाद कर्मचारियों ने होटल स्वामी नवीन अरोड़ा को मामले की जानकारी दी। उसके बाद होटल के स्टाफ ने मास्टर चाबी से गेट खोला। देखा की उज्ज्वल पंखे से लटका हुआ है। उसके बाद गेट बंद कर दिया। पुलिस बुलाने के बाद दोबारा से गेट खोला गया। दारोगा प्रेमपाल और रणवीर सिंह मौके पर पहुंचे तभी फोरेंसिंक टीम को भी बुला लिया गया। जांच पड़ताल के बाद प्रथम जांच में आत्महत्या सामने आ रही है। उसके बाद पुलिस ने उज्ज्वल की जेब से मिले कागजात से परिवार का मोबाइल नंबर लेकर काल की। परिवार के मौके पर पहुंचने के बाद शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।उज्ज्वल दीवान अपने मां-बाप का इकलौता पुत्र था। कमल दीवान को अभी तक नहीं पता है कि उज्ज्वल पर किसका कर्ज था। उज्ज्वल ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि कर्ज की वजह से वह जान दे रहा है। मैने कर्ज लेकर बड़ी गलती कर दी है। अपनी बहन पूर्वा दीवान और मां अलका दीवान से बहुत ज्यादा प्यार करने की बात कही है। कहा कि जो जिम्मेदारी मैं नहीं निभा पाया, बहन तुमको निभानी होगी। बहन और मम्मी पापा से इस कृत्य के लिए माफी भी मांगी है। अभी तक पुलिस मान रही है कि उज्ज्वल के सट्टा खेलने के लिए तो कर्ज नहीं लिया है। क्योंकि उसके लिए कर्ज के बारे में परिवार के लोगों को भी जानकारी नहीं है। पुलिस मान रही है कि उज्ज्वल ने लाखों का कर्ज लिया हुआ था। हाल में शायद उसे कर्जदार परेशान कर रहा था। इसलिए उसने आत्महत्या करने पर मजबूर हुआ है।  

मेरठ से अन्य समाचार व लेख

» मेरठ में युवती की बहादुरी से छेड़छाड़ करने वाला महिला सिपाही का दामाद साथी सहित ग‍िरफ्तार

» मेरठ के घोसी मोहल्ले में दो महीने में चार भैंस चोरी,

» मेरठ में कपड़ा व्यापारी के घर लाखों की चोरी

» मकान नहीं बेचने पर पति ने गला घोंटकर पत्नी की हत्या

» मेरठ में घर से बाहर खेलने निकले बच्‍चे का हुआ था अपहरण, पुलिस ने क‍िया बरामद

 

नवीन समाचार व लेख

» हमीरपुर में जुआ पकडऩे गए चौकी इंचार्ज को महिलाओं ने पीटा

» औरैया में पति ने पत्नी को गोली मारकर उतारा मौत के घाट

» रिटायर्ड कानूनगो गिरफ्तार, 100 से ज्यादा नाबालिगों से दरिंदगी का शक

» मथुरा के बहुचर्चित अपहरण कांड के मास्टर माइंड को लगी पुलिस की गोली

» आरोपी के विरुद्ध नाबालिग के साथ दुष्कर्म और पास्को एक्ट के मुकदमा दर्ज