शौक पूरे करने के लिए लुटेरे बन गए राजस्थान के छात्र

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

शौक पूरे करने के लिए लुटेरे बन गए राजस्थान के छात्र


🗒 गुरुवार, जून 10 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
शौक पूरे करने के लिए लुटेरे बन गए राजस्थान के छात्र

मेरठ, । कंकरखेड़ा पुलिस ने जिन तीन बदमाशों को लूटी गई कार के साथ गिरफ्तार किया था, वे शौक पूरा करने के लिए लूट और चोरी करते थे। गुरुवार को पूछताछ के बाद तीनों को पुलिस ने कोर्ट में पेश किया, जहां से न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।दौराला निवासी ड्राइवर तालिब मंगलवार रात दिल्ली में सवारी छोड़कर घर जा रहा था। मोदीनगर में तीन युवकों ने कंकरखेड़ा के लिए कार बुक की। पावली खास मोड़ पर तालिब को बुरी तरह पीटा और वहीं फेंक दिया। कार और मोबाइल लूटकर बदमाश भाग निकले। पुलिस ने बदमाशों को दबोचकर कार बरामद कर ली। घायल तालिब को अस्पताल में भर्ती कराया। तीनों बदमाश राजस्थान के जिला जोधपुर में कुंडी थानाक्षेत्र के हाउङ्क्षसग बोर्ड निवासी विवेक कुमार, महेश और इकबाल हैं।इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर ने बताया कि तीनों बदमाश ग्रेजुएट हैं। शौक पूरे करने के लिए चोरी व लूट करते हैैं। कार को जोधपुर में कबाड़ी को बेचना था। अभी तक तीनों के खिलाफ कहीं भी केस दर्ज नहीं है।