यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

इंस्पेक्टर ने मेरठ के कंकरखेड़ा में पत्नी पर चलाई गोली


🗒 सोमवार, सितंबर 20 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
इंस्पेक्टर ने मेरठ के कंकरखेड़ा में पत्नी पर चलाई गोली

मेरठ। कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र की वर्णिका सिटी कालोनी निवासी पुलिस के एक इंस्पेक्टर ने अपनी पत्नीपर अवैध पिस्टल से गोली चला दी। पत्नी बाल बाल बची है। इंस्पेक्टर आगरा में तैनात है। सूचना पर पुलिस के पहुंचने से पहले इंस्पेक्टर घर से फरार हो गया। पत्नी की तहरीर पर इंस्पेक्टर पति के खिलाफ जानलेवा हमले और मारपीट की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र की रोहटा रोड स्थित वर्णिका सिटी कालोनी में इंस्पेक्टर सुनील दत्त अपने परिवार संग रहते हैं। इंस्पेक्टर वर्तमान में आगरा में तैनात हैं। इंस्पेक्टर कई दिनों से छुट्टी पर अपने घर आए हुए है। इंस्पेक्टर की पत्नी पिंकी ने कंकरखेड़ा थाने तहरीर देते हुए बताया कि उनकी शादी 14 वर्ष पूर्व कंकरखेड़ा क्षेत्र निवासी सुनील दत्त से हुई थी। वर्तमान में पिंकी अपने परिवार संग वर्णिका सिटी कॉलोनी में रहती हैं। दंपती के दो बेटी और एक बेटा है। आरोप है कि शादी के बाद से ही इंस्पेक्टर लगातार उत्पीड़न करते हैं। पति ने कई बार मारपीट कर घर से निकाला भी था। मगर परिवार वालों के समझाने पर फिर घर पर रख लिया था। इंस्पेक्टर के कई महिलाओं से अवैध संबंध भी है। जबकि अपनी पत्नी को खर्चे के लिए पैसे भी नहीं देता है। पिंकी का आरोप है कि रविवार को वह घर का काम कर रही थी। इसी बीच किसी बात को लेकर पति ने गाली-गलौज शुरू कर दी। पिंकी ने विरोध किया तो गला दबाकर जान से मारने का प्रयास किया। बीच-बचाव में तीनों बच्चे आए तो उनके साथ भी मारपीट की गई।महिला ने किसी तरह घर से भागकर अपनी जान बचाई। शोर शराबा सुनकर पड़ोसी जमा हो गए। महिला ने कंट्रोल रूम को सूचना दी। पुलिस के पहुंचने से पहले इस्पेक्टर पति घर से भाग गया था। जिसके बाद पीड़ित महिला ने थाने पर घटना की तहरीर दी। कंकरखेड़ा इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर का कहना है कि पीड़ित पत्नी पिंकी की तहरीर पर आरोपित इंस्पेक्टर पति के खिलाफ है जानलेवा हमला और मारपीट की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।पत्नी का आरोप है कि इंस्पेक्टर पति ने जान से मारने की नियत से अवैध पिस्टल से फायरिंग की थी। गोली महिला की कनपटी से होकर निकल गई। गोली की आवाज सुनकर बच्चों में दहशत फैल गई। जिस वजहसे महिला का बेटा बेहोश हो गया। पति ने पिस्टल से दूसरी फायरिंग की, लेकिन गोली मिस हो गई। गोली की आवाज सुनकर आसपास के लोग दौड़े। लेकिन किसी की भी इंस्पेक्टर को पकड़ने की हिम्मत नहीं की।पत्नी की माने तो आगरा में तैनात इंस्पेक्टर का विवादों से पुराना नाता रहा है। काफी दिन पहले इंस्पेक्टर ने कंकरखेड़ा पुल के नीचे एक टेंपो चालक की कनपटी पर सरकारी पिस्टल तान दी थी। टेंपो चालक की इंस्पेक्टर ने जमकर पिटाई की थी। इंस्पेक्टर पुल के नीचे खड़े ठेलो वालों से मुफ्त में फल सब्जी लेकर पैसे भी नहीं देता था।