यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

एंटी करप्शन की टीम ने बिजली विभाग के जेई को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार


🗒 मंगलवार, जुलाई 12 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
एंटी करप्शन की टीम ने बिजली विभाग के जेई को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

मीरजापुर, । एंटी करप्शन वाराणसी की टीम ने विद्युत विभाग के एक जेई को 20 हजार की रिश्वत लेते हुए टीम ने पड़री पावर हाउस से रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। जेई द्वारा उपभोक्ता से जुर्माने की राशि कम करवाने के एवज में रिश्वत मांगी जा रही थी। जिसकी शिकायत उपभोक्ता द्वारा एंटी करप्शन वाराणसी को की गई थी। पड़ताल के बाद मंगलवार को योजनाबद्ध तरीके से एंटी करप्शन ने रिश्वत लेते हुए जेई अजय कुमार दूबे को रंगे हाथों दबोच लिया।भ्रष्टाचार निवारण संगठन वाराणसी की टीम के प्रभारी निरीक्षक विनोद कुमार ने बताया कि तीन बजकर 10 मिनट पर जेई को उनके पड़री स्थित कार्यालय से गिरफ्तार किया गया और चुनार कोतवाली में लाकर उनके हाथ धुलाए गए। जेई को शिकायतकर्ता द्वारा 500 के 40 नोट दिए गए थे। जो बरामद किए गए। इस संबंध में चुनार कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया। टीम में निरीक्षक द्वय संध्या सिंह व अशोक कुमार सिंह, मुख्य आरक्षी पुनीत कुमार सिंह, सुनील कुमार यादव व सुमित कुमार भारती थी।चुनार कोतवाली क्षेत्र के खम्हवा जमती निवासी सुरेश कुमार सिंह ने बताया कि उन्होंने गोवरदहा में आटा चक्की लगा रखी है। इनका कहना है कि 10 जून को इनके यहां ट्रांसफार्मर लगाया गया। 16 जून को विभाग द्वारा इनसे कनेक्शन के लिए आनलाइन आवेदन कराया गया और 17 जून को तार जोड़ कर कनेक्शन दिया गया। आरोप है कि विद्युत वितरण खंड चुनार से संबद्ध पड़री उपकेंद्र पर तैनात जेई अजय कुमार दूबे ने इनसे 35 हजार रुपए की मांग की। इसके पहले ट्रांसफार्मर के लिए भी रिश्वत लेने का आरोप लगाया। इसके बाद बिजली विभाग की विजिलेंस टीम ने सुरेश के यहां छापा मारा और इनका कनेक्शन फर्जी बताते हुए इन पर छह जुलाई को 12,16, 996 का जुर्माना कर दिया। इस जुर्माने की राशि को कम कराने के एवज में जेई ने इनसे 50 हजार मांगे थे और 20 हजार देने पर मामला तय हुआ था। जिसके बाद विभाग द्वारा लगातार की जा रही पैसे की डिमांड से आजिज आकर सुरेश ने एंटी करप्शन को मामले की शिकायत 8 जुलाई को वाराणसी जाकर कर दी।

मिर्जापुर से अन्य समाचार व लेख

» 52 करोड़ की हेराफेरी में एक्सिस बैंक का पूर्व सहायक मैनेजर गिरफ्तार

» स्नान के दौरान गंगा में डूबे चचेरे भाई

» विंध्‍याचल में नहाते समय छह लोग डूबे

» गंगा में नहाते समय डूबे तीन बालक

» अज्ञात युवक की धारदार हथियार से हमला कर की गई हत्या

 

नवीन समाचार व लेख

» छात्र ने कुएं की गाटर में फंदा लगाकर दी जान

» पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट पर साढ़े चार घंटे चला हाईवोल्टेज ड्रामा

» एंटी करप्शन की टीम ने बिजली विभाग के जेई को रिश्वत लेते रंगे हाथ किया गिरफ्तार

» क‍िशाेरी के साथ सामूह‍िक दुष्‍कर्म , खेत में खून से लथपथ फटे कपड़ों में बरामद

» घर के बाहर पेड़ पर लटका म‍िला शव