यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मां-बेटी के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म


🗒 सोमवार, अगस्त 15 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मां-बेटी के साथ सामूहिक दुष्‍कर्म

मुरादाबाद,  । मझोला पुलिस ने एक महिला की तहरीर पर पार्षद समेत 13 के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया है। महिला ने आरोप लगाया है कि पार्षद ने उसका अश्लील वीडियो बनाकर दुकान और जमीन की रजिस्ट्री करा ली। इसके बाद उसके साथ दुष्कर्म किया है। अश्लील वीडियो दिखाकर पार्षद और उसके साथियों ने नाबालिग बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।बीते एक साल से डरा-धमकाकर पार्षद और उसके परिवार के लोग जबरन अनैतिक काम करा रहे हैं। इस काम से जो पैसा मिला उससे गाड़ी भी खरीद ली है। महिला की तहरीर पर पार्षद समेत पांच नामजद और आठ अज्ञात के खिलाफ मझोला पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है।पीड़ित महिला के अनुसार वह मूलरूप से दिल्ली की निवासी है। कुछ साल पहले उसका निकाह मुरादाबाद मियां कालोनी निवासी युवक के साथ हुआ था। दोनों में विवाद होने के बाद पति ने महिला को घर से बाहर निकाल दिया था। इस दौरान महिला और उसकी नाबालिग बेटी की मदद का भरोसा देकर पार्षद ने अपने घर में रख लिया था।आरोप है कि वार्ड 69 से पार्षद सद्दाम हुसैन के पिता सफीन ने एक दिन चोरी-छिपे महिला का अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद उसे वायरल करने की धमकी देकर दुष्कर्म किया। कुछ दिनों बाद पार्षद और उसके पिता ने मिलकर जबरन महिला के नाम पर दर्ज जमीन और दुकानों की रजिस्ट्री अपने नाम पर करा ली।इसके बाद पिता-पुत्र के साथ ही दोस्त रेहान पाशा, पार्षद के भाई मोनिश ने सामूहिक रूप से बंधक बनाकर मां-बेटी के साथ दुष्कर्म किया। महिला का आरोप है कि पिता-पुत्र ने जान से मारने की धमकी देकर अनैतिक काम कराने लगे। आरोपितों ने रामपुर और मुरादाबाद जनपद के आठ लोगों से 80 लाख रुपये तक की रकम वसूल की है।पीड़िता की तहरीर पर मझोला पुलिस ने पार्षद सद्दाम हुसैन, पिता सफीन, भाई मोनिश, मां शन्नो, दोस्त रेहान पाशा के साथ आठ अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी, सामूहिक दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया है। सिविल लाइंस सीओ आशुतोष तिवारी ने बताया कि महिला की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। जल्द ही आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।सिविल लाइंस सीओ आशुतोष तिवारी ने कहा कि इस मामले में दोनों पक्षों की भूमिका की जांच कर रही है। फर्जी मुकदमा दर्ज कराने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। इससे पहले भी दोनों पक्षों के द्वारा अलग-अलग मामलों में दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज कराया गया है। लेकिन कोर्ट में पहुंचने के बाद दोनो पक्ष बयान से पलट जाते हैं।

मुरादाबाद से अन्य समाचार व लेख

» डेयरी संचालक से 1.05 लाख की लूट, तमंचा लहराते फरार हुए बदमाश

» ट्रक ने सड़क किनारे खड़े परिवार को रौंदा, मां-बेटी की मौत

» तिरंगा यात्रा के दौरान बाइक टकराने पर मारपीट व फायरिंग

» रेलवे में नौकरी लगवाने का झांसा देकर ठग लिए साढ़े छह लाख रुपये

» पति को गोली मारकर पूर्व प्रेमी ने किया महिला का अपहरण