यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

अपराध के वक्त नाबालिग रहे व्यक्ति को 17 साल जेल में बिताने के बाद राहत


🗒 बुधवार, अप्रैल 13 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
अपराध के वक्त नाबालिग रहे व्यक्ति को 17 साल जेल में बिताने के बाद राहत

नई दिल्ली, । हत्या के मामले में उम्र कैद की सजा काट रहे और जनवरी, 2004 में अपराध के वक्त नाबालिग (जुवेनाइल) पाए गए व्यक्ति को बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिल गई। शीर्ष कोर्ट ने निर्देश दिया कि उसे अब रिहा कर दिया जाए क्योंकि अब उसे जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड (जेजेबी) के पास भेजना अन्यायपूर्ण होगा। अदालत ने इस बात का जिक्र किया कि व्यक्ति 17 साल से अधिक समय की सजा काट चुका है।अदालत ने कहा कि उत्तर प्रदेश में महराजगंज जिले के जेजेबी ने एक जांच के बाद पिछले महीने एक आदेश जारी किया था, जिसके मुताबिक यह व्यक्ति जनवरी, 2004 में अपराध करने के वक्त नाबालिग था। जस्टिस एएम खानविलकर और जस्टिस एएस ओका की पीठ ने उक्त व्यक्ति द्वारा दायर अर्जी पर अपना फैसला सुनाया।पीठ ने कहा, 'एक अगस्त, 2021 को लखनऊ की संबद्ध जेल के वरिष्ठ अधीक्षक द्वारा जारी प्रमाणपत्र में यह कहा गया है कि एक अगस्त 2021 तक अर्जीकर्ता ने 17 साल तीन दिन की सजा काटी थी। इसलिए अब अर्जीकर्ता को जेजेबी के पास भेजना अनुचित होगा।' अदालत ने कहा, 'इसलिए हम अर्जी स्वीकार करते हैं और अर्जीकर्ता को निर्देश देते हैं... यह छूट उपलब्ध कराई जाए कि उसे किसी सक्षम अदालत के अन्य आदेश के तहत हिरासत में रखने की जरूरत नहीं है।'पीठ ने इस बात का जिक्र किया कि व्यक्ति को हत्या के अपराध में आइपीसी के तहत एक सत्र अदालत ने मई, 2006 में दोषी करार देते हुए उम्रकैद की सजा सुनाई थी। पीठ ने इस बात का भी जिक्र किया कि उसके और अन्य आरोपितों द्वारा इलाहबाद हाई कोर्ट में दायर की गई अपील खारिज कर दी गई थी। शीर्ष अदालत ने भी इस व्यक्ति के संबंध में हाई कोर्ट के फैसले के खिलाफ दायर याचिका को अगस्त, 2009 में खारिज कर दिया था।

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» लान्‍च हुई प्रोजेक्ट 75 की छह पनडुब्बियों में से आखिरी 'वगशीर

» केंद्रीय विद्यालयों के दाखिले में अब नहीं चलेगा कोई कोटा

» सीमावर्ती क्षेत्रों में फर्जी आधार कार्ड से नेपाली बन रहे भारतवासी

» अंतरिक्ष क्षेत्र में सहयोग और प्रगाढ़ करेंगे भारत व अमेरिका

» भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का ट्विटर अकाउंट हुआ हैक

 

नवीन समाचार व लेख

» मेरा गाँव मेरी धरोहर के अंतर्गत ग्राम पंचायतों के सांस्कृतिक धरोहरों का किया जाएगा सर्वे

» प्राचीन तालाबांे और कुओं से हटवाया जाये अतिक्रमण

» डीएम को पत्र लिख उठाई जल भराव समस्या का निदान करने की मांग

» अज्ञात कारणो के चलते युवक ने लगाई फांसी, मौत

» खेत के पास अज्ञात वृद्ध का मिला शव, फैली सनसनी