यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना शशि थरूर को पड़ा महंगा, कोर्ट ने भेजा समन


🗒 शनिवार, अप्रैल 27 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर को महंगा पड़ गया है। दिल्ली की एक कोर्ट ने थरूर के खिलाफ समन जारी किया है। कोर्ट ने कांग्रेस नेता से सात जून से पहले जवाब दाखिल करने को कहा है।शशि थरूर ने पीएम मोदी के लिए 'बिच्छू' शब्द का इस्तेमाल किया था। इसके बाद दिल्ली की रोज एवेन्यू कोर्ट में शिकायत दर्ज कराई गई थी।कांग्रेस नेता शशि थरूर ने अक्टूबर 2018 में पीएम मोदी के खिलाफ बयान देते हुए भाषा की मर्यादा की सभी हदें लांघ दी थी। थरूर ने कहा था, 'प्रधानमंत्री मोदी उस बिच्छू की तरह हैं जो एक शिवलिंग पर बैठा है। जिसे हाथ से भी नहीं हटाया जा सकता और चप्पल से भी नहीं मारा जा सकता है।' कांग्रेस सांसद के इस बयान की भाजपा ने तीखी आलोचना की थी।तिरुवनंतपुरम से सांसद थरूर ने भरी सभा में यह शब्द यह जताते हुए कहा था कि ऐसा एक अनाम आरएसएस सूत्र ने एक पत्रकार से कहा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने बेंगलुरु में एक कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री मोदी के लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया था।

प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करना शशि थरूर को पड़ा महंगा, कोर्ट ने भेजा समन

भाजपा नेता राजीव बब्बर ने कांग्रेस नेता शशि थरूर के खिलाफ दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में नवंबर 2018 में मानहानि का मुकदमा दायर किया था। शिकायत में उन्होंने कहा था कि शशि थरूर ने जान बूझकर ऐसे शब्दों का इस्तेमाल किया, जिससे हिदू भावनाएं आहत हुई हैं। याचिकाकर्ता ने कहा था कि भाजपा कार्यकर्ता और नरेंद्र मोदी समर्थक होने के चलते शशि थरूर के शब्दों से ठेस पहुंची है। शिकायत में कहा गया है कि ऐसे शब्दों से सभी कार्यकर्ताओं की भावनाएं आहत हुई हैं।मानहानि का मुकदमा दायर होने के बाद शशि थरूर ने इसे निराशाजनक बताते हुए कहा था कि यह उनकी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का गला घोंटने का प्रयास है। पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा था कि यदि किसी की कही बात को हम कहते हैं तो हमारे अधिकार का गला घोंटने की कोशिश शुरू हो जाती है।भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस नेता शशि थरूर के पीएम नरेंद्र मोदी और शिवलिंग पर दिए विवादास्पद बयान पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से पूछा था कि क्या वह इस बयान का समर्थन करते हैं। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि पार्टी राहुल गांधी से इस पर जवाब चाहती है। अगर वह शशि थरूर के बयानों से सहमत नहीं हैं तो तत्काल हिंदुओं से माफी मांगें।

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» मोदी सरकार दे सकती है बड़ी सौगात, एक कार्ड से मेट्रो यात्री देशभर में कर सकेंगे सफर

» दिग्विजय के हार के बाद मिर्ची बाबा ने मांगी जलसमाधि अनुमति, कलेक्टर ने किया इन्कार

» सुप्रीम कोर्ट में याचिका, डॉक्टरों की सुरक्षा के लिए दिशानिर्देश तय करने की मांग

» आइएएस अधिकारी कुंदन कुमार बने रक्षा मंत्री राजनाथ के निजी सचिव

» मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का हड़ताल कर रहे डॉक्टरों को चेतावनी– चार घंटे में खत्म करो हड़ताल

 

नवीन समाचार व लेख

» गोरखपुर मे दुष्कर्म के बाद दांत से गला काटकर बच्ची की हत्या, हैवान गिरफ्तार

» आगरा ताज के पास सितारा होटल में रौब गांठ रहा था फर्जी अधिकारी

» जिला जौनपुर में पेड़ के नीचे मिला अज्ञात व्‍यक्ति का शव, हत्‍या कर शव फेंके जाने की आशंका

» अफसर मुख्यालय में बैठने की बजाय फील्ड में सरप्राइज विजिट करें: CM योगी

» कांग्रेस वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी पहुँचे बांके बिहारीलाल की शरण मे