यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

नारद कांड में 11 नेताओं, मंत्री व सांसदों को CBI का नोटिस, लोकसभा अध्‍यक्ष से मांगी केस चलाने की अनुमति


🗒 गुरुवार, अगस्त 29 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

नारद स्टिंग कांड की जांच सीबीआइ ने अचानक तेज कर दी है। पिछले एक सप्ताह में कई लोगों से पूछताछ के बाद अब 11 नेताओं, मंत्री, विधायक व सांसदों को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए तलब किया है। इस में तृणमूल कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए शोभन चटर्जी भी शामिल हैं। वहीं दूसरी ओर सीबीआइ ने तृणमूल के तीन सांसदों सौगत राय, काकुली घोष दस्तीदार और प्रसून बनर्जी पर मुकदमा चलाने के लिए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से अनुमति मांगी है।इससे पहले मैथ्यू सैमुअल, केडी सिंह और दिल्ली के एक व्यवसायी को भी सीबीआइ आमने-सामने बिठाकर पूछताछ कर चुकी है। मैथ्यू सैमुअल ने दावा किया है कि केडी सिंह ने उन्हें तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी पर भी स्टिंग करने को कहा था। इसके लिए उन्होंने रुपये भी दिए थे। सुबूत के तौर पर उन्होंने सीबीआइ को केडी सिंह का भेजा एक मैसेज दिखाया था। पहले इस बात से इन्कार कर रहे केडी सिंह मैसेज देखकर चुप हो गए थे।सीबीआइ ने नारद कांड में तृणमूल छोड़कर हाल में भाजपा में शामिल हुए शोभन चटर्जी को भी नोटिस भेजा है।नारद मामले में सीबीआइ ने बुधवार को दिल्ली में भाजपा नेता मुकुल राय व तृणमूल के राज्यसभा सदस्य केडी सिंह से पूछताछ की थी। सीबीआइ तृणमूल के विधायक-सांसदों से अगले सप्ताह के बीच में अलग-अलग पूछताछ शुरू करेगी। इनमें काकुली घोष दस्तीदार व सुब्रत मुखर्जी के भी नाम भी शामिल हैं। सीबीआइ उनके बयान रिकॉर्ड करेगी। जरुरत पड़ने पर उन्हें नारद न्यूज पोर्टल के प्रबंध निदेशक मैथ्यू सैमुअल के सामने बैठाकर भी पूछताछ की जा सकती है।उन्हें 31 अगस्त को अपने सीजीओ कांप्लेक्स स्थित मुख्यालय में हाजिर होने को कहा है। गत मंगलवार को इस बाबत सीबीआइ के दो अधिकारी शोभन के घर जाकर उन्हें नोटिस सौंपकर आए थे। इससे पहले नारद कांड में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) भी शोभन से पूछताछ कर चुका है।वहीं इस मामले में राज्य के परिवहन मंत्री शुभेंदु अधिकारी और पंचायत मंत्री सुब्रत मुखर्जी को भी नोटिस भेजा गया है। खबर है कि दिल्ली स्थित जांच एजेंसी के मुख्यालय की ओर से निर्देश दिया गया है कि नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले की जांच पूरी कर जल्द से जल्द चार्जशीट पेश करनी है।उधर, सीबीआइ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया-'हमें अभी लोकसभा अध्यक्ष की ओर से अनुमति नहीं मिली है। अनुमति मिलने पर हम नारद कांड में पहली चार्जशीट दाखिल करेंगे, जिसमें उक्त तीनों सांसदों को आरोपित बनाया जाएगा।' गौरतलब है कि सीबीआइ इस मामले में तृणमूल के राज्यसभा सदस्य केडी सिंह और नारद न्यूज पोर्टल के प्रबंध निदेशक मैथ्यू सैमुअल से भी पूछताछ कर रही है।

नारद कांड में 11 नेताओं, मंत्री व सांसदों को CBI का नोटिस, लोकसभा अध्‍यक्ष से मांगी केस चलाने की अनुमति

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» गृहमंत्रालय नाराज, वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों पर गिर सकती है गाज

» चिदंबरम ने ईडी के आरोपों को बताया बेबुनियाद, हाई कोर्ट ने सुनवाई टाली

» मलिक ने ली गोवा के राज्यपाल पद की शपथ, कहा- जम्मू-कश्मीर अब अच्छी और शांतिपूर्ण जगह

» तीस हजारी कोर्ट मामले की होगी न्यायिक जांच, झड़प में शामिल पुलिस अधिकारियों का ट्रांसफर का आदेश

» पाक-चीन को संदेश, गुलाम कश्मीर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के नए राजनीतिक मानचित्र में शामिल

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर मे पुलिस घर में रोज दे रही थी दबिश, परेशान होकर बुजुर्ग ने फांसी लगा दे दी जान

» हाथरस मे जमीन के विवाद में गोली मारकर युवक की हत्या,फायरिंग

» इटावा के सांसद राम शंकर कठेरिया के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

» बुलंदशहर में युवती की हत्या कर जंगल में फेंका शव

» सारनाथ के आशापुर स्थित एक ऑयल मिल में सीबीआइ टीम का छापा