यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

बिहार में 85 पुलिसकर्मी बर्खास्त, 644 के खिलाफ हुई कड़ी कार्रवाई


🗒 गुरुवार, दिसंबर 03 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
बिहार में 85 पुलिसकर्मी बर्खास्त, 644 के खिलाफ हुई कड़ी कार्रवाई

पटना, । बिहार में मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्‍व में गठित राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की नई सरकार एक्‍शन मोड में दिख रही है। नई सरकार ने पिछले 11 महीने में की गई कार्रवाई का ब्यौरा सार्वजनिक कर अपनी मंशा का संकेत दे दिया है। ब्‍यौरा के अनुसार इस साल 85 पुलिसकर्मियों को बर्खास्‍त (Dismiss) किया जा चुका है। जबकि, 644 के खिलाफ कड़ी कार्रवाई (Stern Action) की है। ये कार्रवाई बालू, दारू और जमीन की हेराफेरी के मामलों में की गई है।बिहार पुलिस मुख्यालय (Bihar Police Headquarters) ने पिछले 11 महीने में की गई कार्रवाई का ब्यौरा सार्वजनिक किया है। गड़बड़ी के कारण कार्रवाई की जद में आए पुलिस वालों में छह आइपीएस (IPS officers) तथा 32 बिहार पुलिस सेवा के अफसर (BPS Officers) हैं। सर्वाधिक पुलिसकर्मियों पर शराबबंदी कानून (Liquor Ban Law) में कोताही, अवैध खनन, परिवहन और जमीन संबंधित मामलों में कार्रवाई की गई है।जनवरी से अभी तक 85 पुलिसकर्मियों को सेवा से बर्खास्त किया गया है। वहीं, 55 पुलिस अफसरों के खिलाफ कठोर दंड और चार को लघु दंड दिए गए हैं। दर्जनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई प्रस्तावित है। अहम यह है कि जिले स्तर पर 48 मामलों में जिन पुलिसकर्मियों को मामूली सजा दी गई है, पुलिस मुख्यालय उन मामलों की पुर्नसमीक्षा करा रहा है। अफसरों के हीलाहवाली को गंभीरता से लेते हुए 23 को सेवा से बर्खास्त करने की तैयारी है। यही नहीं, पांच सेवानिवृत्त पुलिस अफसरों के पेंशन में कटौती की गई है।जिन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई हुई या हो रही है, उनकी संख्या 38 बताई जा रही है। इनमें भारतीय पुलिस सेवा के दो अधिकारी शामिल हैं। चार पदाधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की गई है।

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» पीएम मोदी कल प्रवासी भारतीयों को करेंगे संबोधित

» देश के 736 जिलों में वैक्सीन वितरण का ड्राई रन कल

» कोरोना वैक्सीन के लिए कई देशों को भारत से उम्मीद

» कैसे होगा टीकाकरण, एसएमएस, आधार और डीजी लॉकर से की जाएगी पहचान

» भारत बायोटेक का दावा, 200 फीसद है सुरक्षित

 

नवीन समाचार व लेख

» भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर ने लखनऊ में की ओम प्रकाश राजभर से भेंट, गठबंधन में शामिल होने की संभावना

» किसानों के हित में सरकार तीनों बिल वापस ले - अखिलेश यादव

» भाजपा लगातार झूठ बोलकर लूट रही वाह-वाही - अखिलेश यादव

» लखनऊ में फाइनेंस कंपनी के कर्मचारियों पर दो किलो सोना हड़पने का आरोप, मुकदमा दर्ज

» माफिया मुख्तार अंसारी को पंजाब से UP लाने की तैयारी में योगी आदित्यनाथ सरकार, पुलिस टीम रवाना