यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पश्चिम बंगाल में शाम सात से सुबह 10 बजे तक चुनाव प्रचार पर रोक


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 16 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पश्चिम बंगाल में शाम सात से सुबह 10 बजे तक चुनाव प्रचार पर रोक

बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने बड़ा फैसला लिया है। चुनाव आयोग ने शेष बचे सभी चरणों में 72 घंटे पहले ही चुनाव प्रचार बंद करने का फैसला लिया है। चुनाव आयोग ने किसी भी दिन चुनाव प्रचार के दौरान शाम सात से 10 बजे के बीच रैली, नुक्कड़-नाटक की अनुमति नही देने का भी फैसला किया है। बंगाल में तीन चरणों के लिए प्रचार हो रहा है। छठे चरण का प्रचार 19 अप्रैल, सातवें चरण का 23 अप्रैल और आठवें चरण का 26 अप्रैल को समाप्त हो जाएगा।इसके अलावा कोविड प्रोटोकॉल पालन करने की जिम्मेदारी राजनीतिक दलों और उम्मीदवारों पर होगी। अगर ऐसा नहीं होता है तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी। रैली व जनसभाओं का आयोजन करने पर उसमें आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को सैनिटाइजर और मास्क उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी आयोजकों की होगी। आयोग ने आगे कहा है कि स्टार प्रचारकों, पार्टी प्रत्याशियों, नेताओं और रणनीतिकारों को रैली व रोड शो को व्यक्तिगत उदाहरण पेश करते हुए मास्क पहनना होगा और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करना होगा।प्रत्येक बूथ में मतदाताओं की अधिकतम संख्या 1,500 से घटाकर 1,000 कर दी गई है। मतदाताओं को अनिवार्य रूप से मास्क का इस्तेमाल करना होगा। बूथ में प्रवेश करने से पहले उनकी थर्मल जांच भी की जाएगी।इसके अलावा कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए चुनाव आयोग ने शुक्रवार को बंगाल में चुनाव प्रचार पर चर्चा के लिए कोलकाता में सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। इस बैठक में यह फैसला लिया गया है कि चुनाव प्रचार पर कोई रोक नही लगाई जाएगी और ना ही चुनाव की तारीखों में कोई बदलाव होगा। लेकिन इस बैठक में यह सहमति बनी है कि चुनाव प्रचार कोविड प्रोटोकॉल के साथ होगा।तृणमूल के राज्यसभा सदस्य डेरेक ओ'ब्रायन ने कहा-'हमारी स्थिति बिल्कुल स्पष्ट है। पार्टी बाकी बचे चुनावों को एक चरण में चाहती है। मैं भाजपा से अनुरोध करता हूं कि वह अपना रूख साफ करे। पहली प्राथमिकता कोरोना महामारी का सामना करना है और उसके बाद राजनीति होनी चाहिए।' भाजपा नेता स्वपन दासगुप्ता ने बैठक के बाद बताया कि कोविड प्रोटोकॉल जो निर्धारित किया जाएगा उसे हम मानेंगे। माकपा के राज्यसभा सदस्य विकासरंजन भट्टाचार्य ने कहा कि चुनावी प्रक्रिया चल रही है। इस समय कार्यक्रम में परिवर्तन करने का कोई प्रश्न नहीं है। मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी ने गुरुवार को निर्वाचन आयोग से अनुरोध किया था कि वह बाकी बची सीटों पर एक ही चरण में मतदान करवाने पर विचार करे।

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» वैक्सीन पर केंद्र व राज्य में टकराव, कीमतों को लेकर हाई कोर्ट में दायर हुई जनहित याचिका

» मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही ममता का कड़ा संदेश, हिंसा फैलाने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाई

» ममता बनर्जी तीसरी बार लेंगी बंगाल के मुख्यमंत्री पद की शपथ

» देशव्यापी लाॅकडाउन पर हो विचार, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और राज्य सरकारों को दिया सुझाव

» TMC की हैट्रिक, असम में BJP की वापसी, केरल में विजयन ने बचाई कुर्सी, तमिलनाडु में सत्ता DMK के हाथ; पुडुचेरी में NDA जीता

 

नवीन समाचार व लेख

» फतेहपुर में पंचायत चुनाव में खराब प्रदर्शन पर बसपा जिलाध्यक्ष निष्कासित, अब नीरज पासी को मिली कमान

» लखनऊ के सहारा और मेयो अस्पताल को नोट‍िस, निर्धारित शुल्क से कई गुना अधिक हो रही थी वसूली

» वैक्सीन पर केंद्र व राज्य में टकराव, कीमतों को लेकर हाई कोर्ट में दायर हुई जनहित याचिका

» लखनऊ के DRDO अस्‍पताल में 90 फीसद बेड खाली, तीमारदार गिड़गिड़ाते रहे, नहीं भर्ती हुए मरीज

» हमीरपुर में यमुना नदी के किनारे मिले सात शव, अफरा-तफरी