यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीएम मोदी बोले, भारत हिम्मत हारने वाला देश नहीं, हम लड़ेंगे और जीतेंगे


🗒 शुक्रवार, मई 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पीएम मोदी बोले, भारत हिम्मत हारने वाला देश नहीं, हम लड़ेंगे और जीतेंगे

कोरोना वायरस को अदृश्य दुश्मन बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि सौ साल बाद इतनी भीषण महामारी दुनिया की परीक्षा ले रही है। इस अदृश्य दुश्मन के कारण अपने करीबियों को हम खो चुके हैं, जिस कष्ट को देश ने सहा है। अनेक लोग जिस दर्द से गुजरे हैं, वह मैं भी महसूस कर रहा हूं। महामारी की दूसरी लहर का मुकाबला युद्धस्तर पर किया जा रहा है।उन्होंने विश्वास के साथ कहा कि भारत हिम्मत हारने वाला देश नहीं है। हम लड़ेंगे और जीतेंगे। तीनों सेनाएं पूरी शक्ति से काम में जुटी हैं। आक्सीजन रेल ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को बड़ी ताकत दी है। स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं। डाक्टर, नर्सिंग स्टाफ, लैब टेक्नीशियन और सफाई कर्मी सभी मोर्चे पर जमे हुए हैं। फार्मा सेक्टर ने जरूरी दवाओं का उत्पादन बढ़ाया है। जरूरी मेडिकल उपकरणों व अन्य वस्तुओं का आयात भी हो रहा है।प्रधानमंत्री मोदी शुक्रवार को वर्चुअल माध्यम से देश के 9.5 करोड़ किसानों के लिए 18 हजार करोड़ रुपये की पीएम-किसान योजना की अगली किस्त जारी करने के बाद किसानों व ग्रामीण भारत को संबोधित कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने कोरोना से निपटने के लिए तैयारियों का संक्षिप्त ब्योरा देते हुए कहा कि कोरोना की इस दूसरी लहर का मुकाबला करने के लिए संसाधन उपलब्ध कराने के रास्ते के सभी गतिरोध दूर किए जा रहे हैं।सरकार के सभी विभाग, संसाधन, सुरक्षा बल, विज्ञानी समेत हर कोई दिन-रात कोविड की चुनौती का मुकाबला कर रहा है। नाराजगी भरे लहजे में प्रधानमंत्री ने कहा, इस महामारी में जमाखोरी व कालाबाजारी के निहित स्वार्थ में कुछ लोग लगे हुए हैं। ऐसे लोगों पर कठोर कार्रवाई की जानी चाहिए। हमने सभी राज्यों से कहा है कि ऐसे लोगों से सख्ती से निपटें।ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ते कोरोना संक्रमण के प्रति आगाह करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने इसके प्रति सभी किसानों और ग्रामीणों को सतर्क रहने को कहा। यह संक्रमण गांवों में पहुंच रहा है। इससे निपटने का प्रयास हो रहा है। इसमें सरकारी विभागों की तरह पंचायती राज की सभी संस्थाओं की भागीदारी की बहुत जरूरत है। गांव के लोगों से उन्होंने कहा कि आपने कभी निराश नहीं किया है। कोरोना वायरस से लड़ाई में गांव और किसानों का बड़ा योगदान है। मोदी ने कहा, इसी कोरोना के दौरान ही दुनिया की सबसे बड़ी मुफ्त राशन योजना भारत चला रहा है। गरीब कल्याण अन्न योजना में आठ महीने तक मुफ्त राशन दिया गया। इस बार मई और जून में 80 करोड़ उपभोक्ताओं को फिर मुफ्त राशन दिया जा रहा है। गरीबों के घर में चूल्हा जलाने के लिए सरकार 26 हजार करोड़ रुपये का प्रविधान कर रही है। राज्यों से इसके लिए कहा गया है कि गरीबों को इस राशन वितरण में परेशानी नहीं आनी चाहिए।टीकाकरण पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, सरकार का प्रयास है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को कोरोना का टीका लगे। देश में अभी तक 18 करोड़ लोगों को टीका लग चुका है। सरकारी अस्पतालों में मुफ्त टीकाकरण किया जा रहा है। सबसे अपील करते हुए उन्होंने कहा कि अपनी बारी आने पर टीका जरूर लगवाएं। यह सुरक्षा कवच है। टीका लगाने के बाद दूरी बनाने और मास्क लगाना जारी रखें।

राष्ट्रीय से अन्य समाचार व लेख

» पीएम मोदी ने की केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक

» G-7 सम्‍मेलन में स्‍वास्‍थ्‍य, पर्यावरण और वैक्सीन समेत कई मुद्दों पर रहा जोर

» पीएम मोदी ने आउटरीच सत्र में दिया 'वन अर्थ, वन हेल्थ' का मंत्र

» पीएम मोदी की अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ हुई बैठक

» म्यांमार में तख्तापलट के बाद नॉर्थ ईस्ट में हालत गंभीर

 

नवीन समाचार व लेख

» सपा एमएलसी कमलेश पाठक और उनके भाइयों की करोड़ों की संपत्ति होगी कुर्क, डीएम ने दिया आदेश

» UP में 9 IPS अधिकारियों का तबादला, 6 जिलों के बदले गए पुलिस कप्तान

» पीएम मोदी ने की केंद्रीय मंत्रियों और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ बैठक

» इटावा में सरेराह युवती पर मनचलों ने फेंका तेजाब

» कानपुर देहात में TET पास कराने के नाम पर डेढ़ लाख की ठगी