यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

लखनऊ SSP ने पेश की मानवता की मिसाल, गाड़ी रोकर लहुलूहान युवक को भेजा अस्पताल


🗒 मंगलवार, फरवरी 26 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
लखनऊ SSP ने पेश की मानवता की मिसाल, गाड़ी रोकर लहुलूहान युवक को भेजा अस्पताल

राजधानी में सुरक्षा कि कमान संभाल रहे एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मंगलवार देर शाम मानवता की मिसाल पेश की है। यूपी 100 में आयोजित वीडियो कांफ्रेसिंग से लौट रहे एसएसपी ने सड़क दुर्घटना में घायल युवक को देख फैरन अपनी गाड़ी रुकवाई। उसे उठाकर अपने एस्कॉर्ट वाहन से उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया।

दरअसल, अर्जुनगंज के पास सड़क किनारे हादसे में घायल नफीस अहमद नाम का युवक दर्द से तड़प रहा था।वहीं, पास से गुजर रहे एसएसपी ने भीड़भाड़ देख गाड़ी रुकवाई तो पता चला कि एक युवक लहूलुहान अवस्था में सड़क पर तड़प रहा है। लोग तमाशबीन खड़े हैं। यह देखते ही एसएसपी फौरन गाड़ी से नीचे उतरे और घायल नफीस को पुलिसकर्मियों की मदद से उठाकर अपने एस्कॉर्ट वाहन में बैठाया। आननफानन में उपचार के लिए भेजा गया। फिलहाल, नफीस की हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। वहीं, होमगार्ड विभाग में तैनात इंस्पेक्टर वीके सिंह ने मंगलवार को खरगापुर के पास सड़क दुर्घटना में घायल आजमगढ़ निवासी संदीप यादव को अस्पताल पहुंचाकर मानवता की मिशाल पेश की। वीके सिंह ने बताया कि अंकित को एक पीकप वाहन ने टक्कर मार दी थी। गंभीर अवस्था में घायल को उन्होंने एक कार चालक की मदद से लोहिया अस्पताल पहुंचाया। संदीप के पैर में गंभीर चोट आई है, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है।

हमारी पुलिस से अन्य समाचार व लेख

» उत्तर प्रदेश मे अपराध की चुनौतियों के साथ कदमताल, गृह विभाग का बजट 11.50% बढ़ा

» यूपी पुलिस की पहल, सप्ताह में तीन बार आपसे मिलने आएंगे पुलिस अधिकारी

» पुलिस मुख्यालय का पता सात जून से बदल जाएगा अब नया भवन आधुनिक सुरक्षा व सुविधाओं से लैस

» अब UP COP app के जरिये अब घर बैठे एफआइआर दर्ज कराने लगे पीडि़त, 27 सुविधाएं और भी

» UP पुलिस की साप्ताहिक अवकाश योजना ‘छुट्टी’ पर है