यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

निवेशकों के करोड़ों डकारने के मामले में चार पर मुकदमा


🗒 शनिवार, जुलाई 22 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

पीलीभीत : निवेशकों का करोड़ों डकारने के कथित मामले में पुलिस ने आरोपी कंपनी से जुड़े रहे चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। असलियत जानने को केस की छानबीन शुरू कर दी गई है। निवेश का दायरा करोड़ों में पहुंचा तो छानबीन पुलिस के पास से दूसरी जांच एजेंसी को भेजी जा सकती है। निवेशकों ने अपने रुपये के लिए एजेंटों पर दबाव बनाया मामला कानूनी राह पर बढ़ चला। दरअसल, एजेंट जिस कंपनी में निवेश कराए थे, उसने शहर से बोरिया-बिस्तर समेट लिया है।

निवेशकों के करोड़ों डकारने के मामले में चार पर मुकदमा

केवीसीएल इंडिया लिमिटेड कंपनी की शाखा में शहर में नौगवां रेलवे क्रा¨सग के निकट वर्ष 2008 में खुली थी। कंपनी में स्थानीय लोग एजेंट बने तो निवेशकों से करोड़ों रुपये जमा कराए हैं। जानकारी के मुताबिक निवेशकों के रुपये लौटाने का समय नजदीक आने से पूर्व ही कंपनी ने बोरिया-बिस्तर समेट लिया। इस बात की भनक लगी तो निवेशकों की नींद उड़ गई। निवेशकों ने अपने एजेंटों पर दबाव बनाया तो सभी परेशान हो उठे। एकजुट हुए एजेंटों ने अपर पुलिस अधीक्षक रोहित मिश्र से मुलाकात कर परेशानी बताई थी। एएसपी ने मामले की गंभीरता को समझते हुए सुनगढ़ी पुलिस को केस दर्ज कर छानबीन के आदेश दिए। कंपनी के एजेंट राजेश मौर्य निवासी मैदनापुर थाना न्यूरिया ने योगेश गंगवार, पोशाकी लाल निवासी जतीपुर थाना जहानाबाद, भगवान स्वरूप निवासी सिविल लाइंस साउथ, वीरेंद्र ¨सह यादव निवासी नौगवां पकड़िया के खिलाफ धोखाधड़ी समेत कई गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। इंस्पेक्टर सुनगढ़ी गोपीचंद यादव ने बताया कि निवेशकों को करोड़ों रुपये जमा करने के तथ्य देने होंगे। सूचना सच निकली तो जांच दूसरी एजेंसी को भेजी जा सकती है। फिलहाल तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की जा सकी है।

पीलीभीत से अन्य समाचार व लेख

» पीलीभीत में बाघ ने दो लोगों को बनाया निवाला, वन विभाग की टीम ने पकड़ा

» पीलीभीत में कालाबाजारी कर रहे दुकानदार ने पुलिस टीम पर बोला हमला, एसओ व सिपाही घायल

» कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर एटीएस ने पीलीभीत से संदिग्ध युवक को उठाया, कातिलों से कनेक्शन खंगाल रही

» पीलीभीत में अखिलेश को चेहरा दिखाने की होड़ में बेकाबू हुए कार्यकर्ता, गेट के टूटे शीशे की चपेट में आकर तीन जख्मी

» अखिलेश यादव ने कहा- बड़े दलों से नहीं, अब छोटे दलों से करेंगे गठबंधन

 

नवीन समाचार व लेख

» रायबरेली में देसी बम के साथ तीन युवक गिरफ्तार, अयोध्या मार्ग पर हो रही थी चेकिंग

» पीएम मोदी के आगमन से पहले किले में बदली अयोध्या, यूपी के हर कोने पर खुफिया नजर

» बुलंदशहर में देवर ने भाभी का अपहरण कर कानपुर और लखनऊ के होटलों में रखा

» सुप्रीम कोर्ट की ओर से गठित आयोग ने शुरू की जांच, बिकरू पहुंचे सदस्य

» अयोध्या जा रहे अमरावती मठ के पीठाधीश्वर को पुलिस ने रोका, एडीजी ने सहर्ष जाने दिया