यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीलीभीत में बाघ का निवाला बने 17 लोग, आज भी एक किसान की मौत


🗒 मंगलवार, अगस्त 08 2017
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

 हिंसक वन्य जीवों का भटक की बस्ती की तरफ आना इन दिनों आम बात है इसके चलते बड़ी संख्या में लोग निवाला बनते जा रहे हैं। लखीमपुर, शाहजहांपुर, पीलीभीत बिजनौर, प्रतापगढ़, सुल्तानपुर समेत कई जिले इन हिंसक जीवों की चपेट में आ चुके हैं। पीलीभीत में चौबीस घंटे के अंदर ही बाघ ने एक और किसान पर हमला करके उसे अपना निवाला बना लिया। इस साल अब तक बाघों के हमले में 17 लोगों की मौत हो चुकी है।

पीलीभीत में बाघ का निवाला बने 17 लोग, आज भी एक किसान की मौत

अमरिया क्षेत्र के गांव सरैंदा पट्टी में मंगलवार को अपराह्न गांव का किसान शमशुल हसन (38) पुत्र अब्दुल रहमान अपने धान के खेत में निराई कर रहा था। इसी दौरान निकट स्थित गन्ने के खेत से निकले बाघ ने उस पर हमला कर दिया। बाद उसे खींचकर गन्ने के खेत में ले गया और उसे निवाला बना लिया। इस घटना के बाद पूरे गांव में बाघ की दहशत फैल गई है। इस बाघ की तलाश में वन विभाग व सामाजिक वानिकी की टीम दो हाथियों पर सवार होकर हरहरपुर हसन के गन्ना खेतों में कांबिंग कर रही थी और वहां से करीब छह किमी दूर बाघ ने किसान पर हमला कर दिया। 

पीलीभीत से अन्य समाचार व लेख

» पीलीभीत में बाघ ने दो लोगों को बनाया निवाला, वन विभाग की टीम ने पकड़ा

» पीलीभीत में कालाबाजारी कर रहे दुकानदार ने पुलिस टीम पर बोला हमला, एसओ व सिपाही घायल

» कमलेश तिवारी हत्याकांड को लेकर एटीएस ने पीलीभीत से संदिग्ध युवक को उठाया, कातिलों से कनेक्शन खंगाल रही

» पीलीभीत में अखिलेश को चेहरा दिखाने की होड़ में बेकाबू हुए कार्यकर्ता, गेट के टूटे शीशे की चपेट में आकर तीन जख्मी

» अखिलेश यादव ने कहा- बड़े दलों से नहीं, अब छोटे दलों से करेंगे गठबंधन

 

नवीन समाचार व लेख

» कानून मंत्री बृजेश पाठक ने कहा- ब्राह्मण भाजपा के साथ, कांग्रेस-सपा अपने गिरेबां में झांकें

» अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में गैर मुस्‍लिम छात्रा को हिजाब पहनाने के मामले में बिठाई जांच

» लोहिया में कर्मचारी भर्ती विज्ञापन में हुआ बदलाव, चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने मांगा ब्योरा

» अश्विनी श्रीवास्तव बने उत्तर रेलवे व शिशिर सोमवंशी बने पूर्वोत्तर रेलवे के एडीआरएम

» उत्तर प्रदेश में विकास प्राधिकरण और आवास विकास परिषद के आवंटियों को दंड ब्याज से राहत