यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पीलीभीत में सुपारी देकर कराई गई थी युवक की हत्या


🗒 गुरुवार, नवंबर 04 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पीलीभीत में सुपारी देकर कराई गई थी युवक की हत्या

पीलीभीत ,  पीलीभीत जनपद के जहानाबाद थाना क्षेत्र में युवक की गोली मारकर हत्या के मामले का पुलिस ने राजफाश होने का दावा किया है। पुलिस के मुताबिक मृतक के बहनोई ने सुपारी देकर हत्या कराई थी। हत्यारोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि साजिश रचने का आरोपित बहनोई फरार है। जहानाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम बार गांव के पास ऐमी मार्ग पर विगत 23 अक्टूबर को एक युवक का शव नहर किनारे सड़क पर पड़ा मिला था। जिसकी गोली मारकर हत्या की गई थी। उसकी शिनाख्त महेंद्र पाल पुत्र सुखलाल के रूप में हुई थी।पुलिस ने इस मामले में मृतक महेंद्र पाल की पहचान होने के बाद पिता सुखलाल की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया था पुलिस ने सोमवार को हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। पुलिस ने बताया कि उसकी हत्या की सुपारी मृतक के बहनोई गुड्डू उर्फ मनोज कुमार ने अपने दोस्त रसूला थाना भुता बरेली निवासी वीरेंद्र कुमार पुत्र मदनलाल को दी थी। इसकी ऐवज में 20 हजार रूपये और नौकरी दिलाने की बात कही गई थी। पुलिस ने हत्याभियुक्त वीरेंद्र कुमार पुत्र मदनलाल को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से मृतक का का की पैड मोबाइल तथा हत्या में प्रयुक्त 315 बोर का तमंचा व कारतूस बरामद किए है।थाना प्रभारी निरीक्षक केके वर्मा के अनुसार मुखबिर की सूचना पर जहानाबाद बरेली मोड़ से पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि मृतक के बहनोई गुड्डू उर्फ मनोज कुमार निवासी ग्राम कौवाखेड़ा थाना भुता बरेली निवासी से उसकी दोस्ती थी। एक दिन उसने बताया कि साला महेंद्र अपनी जायदाद को खुर्द खुर्द कर रहा है तथा अपने पिता को परेशान करता है। इसीलिए वह उसकी हत्या करवाना चाहता है। मनोज कुमार ने वीरेंद्र को 20 हजार रूपये नकद और नौकरी दिलाने की बात कही। इसी लालच में फंसकर वीरेंद्र ने भूता के दौलतपुर तिराहा के पास दीनदयाल समोसे वाले की दुकान पर 22 अक्टूबर को ₹20 हजार रूपये लिए।रुपये लेने के बाद उसी दिन मोटरसाइकिल से महेंद्र पाल के घर पहुंचा। दोपहर में महेंद्रपाल को लेकर बाहर गांव के समीप एमी को जाने वाले मार्ग पर सुनसान स्थान पर पहुंचा। यहां पहुंचकर उसके पीछे से सिर में गोली मारकर दी। उसके उपरांत वीरेंद्र ने मृतक महेंद्र का फोटो खींचकर बहनोई मनोज कुमार को भेज दिया। आरोपी वीरेंद्र ने घटनास्थल से मृतक का टूटा हुआ मोबाइल, दो जीवित कारतूस, तमंचा तथा एक खोखा बरामद कराया। प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि आरोपी वीरेंद्र को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। बहनोई की तलाश की जा रही थी।

पीलीभीत से अन्य समाचार व लेख

» आइपीएल मैचों पर सट्टा लगवाते छह गिरफ्तार

» फिल्म में काम दिलाने के नाम पर 3.26 लाख की ठगी

» नकाबपोश बाइक सवारों ने 65 रुपये के नाेटाें से भरा थैला लेकर चंपत

» किसान के खाते से 6.60 लाख उड़ाने वाले शातिर चाेर गिरफ्तार

» एटीएम सहित कई दुकानों के ताले चटकाने वाले दो शातिर चोर गिरफ्तार