यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रतापगढ़ जिला अस्पताल में रात में भी डॉक्टर और कर्मचारियों पर हमला, मचा बवाल


🗒 शुक्रवार, अप्रैल 30 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रतापगढ़ जिला अस्पताल में रात में भी डॉक्टर और कर्मचारियों पर हमला, मचा बवाल

प्रतापगढ़  - दिन में हुए बवाल के बाद रात में प्रतापगढ़ जिला अस्पताल में मरीज को मृत घोषित करने पर आपे से बाहर हुए घर के लोग चिकित्सकों पर हमलावर हो गए। एक चिकित्सक और दो पैरामेडिकल स्टाफ को जमकर मारा पीटा। इस पर कर्मियों ने इमरजेंसी सेवा ठप कर दी। हालांकि पंद्रह मिनट बाद ही एडीएम के समझाने पर वह इमरजेंसी खोल दिए।शुक्रवार रात करीब पौने नौ बजे बोलेरो गाड़ी पर एक बीमार महिला को लेकर चार-पांच लोग  जिला अस्पताल पहुंचे। मरीज को स्ट्रेचर के जरिए इमरजेंसी में ले जाया गया। चिकित्सकों ने देखा तो उसमें जान नहीं थी। उसे मृत बताते ही साथ आए लोग इलाज में देर करने का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे। चिकित्सक और कर्मचारियों को मारने पीटने लगे, जिससे वहां पर भगदड़ मच गई। इस बारे में खबर मिली तो एडीएम शत्राेहन वैश्य और एएसपी सुरेंद्र द्विवेदी भी कोतवाल के साथ मौके पर पहुंचे। उन्होंने तैनात पुलिस वालों को बुलाकर कड़ी फटकार लगाई कि उनके रहते ऐसे बवाल होना तो ठीक नहीं है। देर रात पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी वहां जुटे रहकर स्थिति संभालते रहे। किसी तरह से लोगों को समझा-मनाकर शांत कराया। इससे पहले भी दिन में भी इसी तरह का हंगामा हो गया था जिस पर किसी तरह से काबू पाया गया था।

प्रतापगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» तेजाब और बम से किया घर में प्रधान पर हमला

» प्रतापगढ़ पुलिस ने ​​​​​15 घंटे में पांच बदमाशों को गोली मारकर दिया करारा जवाब

» सरकारी अफसर बनकर ठगी करने वाले गिरोह के पांच शातिर गिरफ्तार

» प्रतापगढ़ के जिला पंचायत सदस्य समेत पांच लोग गिरफ्तार

» तीन बदमाशों को पुलिस मुठभेड़ में लगी गोली