यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रतापगढ़ में रेलवे पटरी पर मिला युवक का खून से लथपथ शव


🗒 मंगलवार, मई 18 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रतापगढ़ में रेलवे पटरी पर मिला युवक का खून से लथपथ शव

प्रतापगढ़ जिले में दोस्त के बुलाने पर उसके घर गए युवक का शव दूसरे दिन रेलवे ट्रैक पर मिला। मंगलवार की सुबह ट्रैक पर शव देखने के बाद इलाके में सनसनी फैल गई। मृतक के स्वजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए दोस्त के खिलाफ ही पुलिस से शिकायत की है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।नवाबगंज थाना क्षेत्र के खामसाम का पुरवा (बरियावां) गांव निवासी रामसागर उर्फ बबलू (30) पुत्र अमृतलाल उर्फ टिर्रू पुत्र महादेव यादव को सोमवार की शाम करीब छह बजे उसका दोस्त मुकेश पुत्र रामफेर निवासी चंदेलन का पुरवा घर से बुलाकर अपने साथ ले गया, इसके बाद रात में रामसागर घर नहीं लौटा। मंगलवार भोर में पांच बजे आस-पास के लोग शौच के लिए आलापुर स्थित रेलवे ट्रैक की तरफ गए तो देखा कि वहां पर रामसागर का शव रंक्त रंजित हालत में रेलवे ट्रैक पर पड़ा है। उसका आधा सिर व एक पैर कटा था और शरीर पर कई चोट के निशान थे। पास में उसका मोबाइल रखा था। शव जहां मिला, वह स्थान रामसागर के घर से करीब सौ मीटर दूर है।इस घटना में खास बात यह है कि रेलवे ट्रैक पर कहीं पर भी खून का निशान नहीं दिखाई पड़ा। घटना की जानकारी होने पर स्वजन भागकर मौके पर पहुंचे। राम सागर का शव देखते ही स्वजन रोने-बिलखने लगे। घटना की सूचना मिलने पर सुबह करीब छह बजे नवाबगंज पुलिस मौके पर पहुंची। स्वजनों ने पुलिस से हत्या की आशंका जताते हुए मुकेश यादव के खिलाफ शिकायत की। हालांकि पुलिस को अभी तक कोई तहरीर नहीं मिली। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं मुकेश का कहना था कि वह रात में करीब नौ बजे रामसागर को उसके घर के पास छोड़कर अपने घर चला गया था।बबलू की शादी पांच वर्ष पूर्व हुई थी, उसकी कोई संतान नहीं है। वह दो भाई तीन बहनों में दूसरे नंबर पर था। बबलू पांच वर्ष पूर्व हरिद्वार में एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी करता था, लेकिन इधर कुछ वर्षों से घर पर ही रहता था और कुछ काम नहीं करता था। नवाबगंज पुलिस ने घटना की जांच कर रही है।  एसओ रुकुम पाल सिंह का कहना है कि शव को पोस्मार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही यह स्पष्ट होगा कि मौत कैसे हुई। अभी तहरीर नहीं मिली है, उसी के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।