यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रतापगढ़ पुलिस ने ​​​​​15 घंटे में पांच बदमाशों को गोली मारकर दिया करारा जवाब


🗒 सोमवार, सितंबर 06 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रतापगढ़ पुलिस ने ​​​​​15 घंटे में पांच बदमाशों को गोली मारकर दिया करारा जवाब

प्रतापगढ़, । पिछले महीने जिले की कमान संभालने के बाद एसपी सतपाल अंतिल ने दो टूट कहा था कि बदमाशों को उन्हीं की भाषा में जवाब दिया जाएगा। वे गोली चलाएंगे तो गोली खाएंगे भी। और यही अब हो रहा है। प्रतापगढ़ जिले में रविवार को 15 घंटे के अंदर पुलिस ने बदमाशों को उन्हीं के भाषा में देते दो मुठभेड़ में पांच अपराधियों को गोली मारकर घायल कर दिया। तौकीर एनकाउंटर के बाद पहली बार किसी एसपी की अगुवाई में एक दिन में पुलिस मुठभेड़ में पांच बदमाश घायल हुए।नए साल की शुरूआत सनसनीखेज अपराध से हुई थी। जब सात जनवरी को शहर के श्याम बिहारी गली में बदमाशों ने सर्राफ सुरेश सोनी की दुकान में डाका डालकर 90 लाख रुपये के जेवर लूट लिए थे। इसके दो दिन बाद पट्टी कस्बे से घर जा रहे सर्राफ मोहम्मद अहमद की हत्या करके बदमाश दो लाख रुपये और 19 लाख रुपये के जेवर लूट ले गए थे। इसके बाद लूट, हत्या की घटनाओं में कमी नहीं आई। इन घटनाओं के बीच एसपी शिवहरि मीणा और आकाश तोमर का तबादला हो गया। फिर चार्ज संभाला सतपाल अंतिल ने।इस बीच एक सितंबर को कंधई थाना क्षेत्र के रखहा बाजार में अधिवक्ता के पुत्र आकाश जायसवाल की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी। फिर चार सितंबर को बदमाशों ने लालगंज इलाके में व्यापारी संगमलाल को तमंचा सटाकर 82 हजार रुपये लूट लिए। इन घटनाओं ने खाकी के लिए चुनौती पेश कर दी।एसपी सतपाल अंतिल दो दिन से बदमाशों के लिए फील्डिंग सजाए हुए थे। पहली कामयाबी इन्हें रविवार को भोर में रानीगंज थाना क्षेत्र के सचौली गांव में मिली, जब घेरेबंदी के दौरान मुठभेड़ में गोली लगने से दो बदमाश जौवाद व मकसूद गोली लगने से घायल हो गए। इसके करीब छह घंटे बाद बदमाशों ने लालगंज कोतवाली क्षेत्र के जलेशरगंज बाजार में राइस मिल संचालक मनीष केसरवानी को गोली मार दी। इस घटना के बाद एसपी ने अपनी टीम लगाकर खुद कमान संभाल ली और शाम को जेठवारा थाना क्षेत्र के बढऩी गांव स्थित पोल्ट्री फार्म पर बदमाशों के होने की सूचना मिली। पुलिस के पहुंचते ही बदमाश वहां से भाग निकले। पुलिस ने पीछा करके रघवापुर जंगल में घेरेबंदी की और मुठभेड़ में तीन बदमाशों (प्रद्युम्न कुमार सरोज (22) पुत्र रामलाल सरोज निवासी रामपुर भेडिय़ानी लालगंज, अजीत कुमार गौतम (23) पुत्र त्रिभुवननाथ गौतम निवासी पूरे बंशी लालगंज व सुरेश पासी (20) पुत्र किशोरीलाल निवासी शिवबोझ लालगंज को गोली मारकर घायल कर दिया।दो साल पूर्व एसटीएफ के एसपी अभिषेक सिंह ने एक लाख के एनामी बदमाश तौकीर को एनकाउंटर में मार गिराया था। इसके बाद पहले एसपी सतपाल अंतिल है, जिन्होंने बदमाशों को उन्हीं की भाषा में जवाब दिया और 15 घंटे में हुई मुठभेड़ में पांच बदमाशों को अस्पताल पहुंचा दिया।

प्रतापगढ़ से अन्य समाचार व लेख

» सरकारी अफसर बनकर ठगी करने वाले गिरोह के पांच शातिर गिरफ्तार

» प्रतापगढ़ के जिला पंचायत सदस्य समेत पांच लोग गिरफ्तार

» तीन बदमाशों को पुलिस मुठभेड़ में लगी गोली

» प्रतापगढ़ में 10 हजार रुपये रिश्वत लेते बीईओ गिरफ्तार

» साइबर शातिर को प्रतापगढ़ में RPF ने गिरफ्तार कर भेजा जेल

 

नवीन समाचार व लेख

» भाजपा नेत्री के ड्राइवर की कमर से गिरी रिवाल्वर, फिर अचानक चलने हो गए घायल

» खड़े टैंकर में घुसी बोलेरो, ससुर-बहू की मौके पर मौत

» लखनऊ बेंच ने CMS में जनसूचना अधिकारी नियुक्त करने के आदेश पर लगाई रोक

» रोडवेज बस में शराब‍ियों का उत्‍पात, लखनऊ में पुल‍िस ने चेतावनी देकर छोड़ा

» सुप्रीम कोर्ट ने देश के जजों को बताया, कैसे लिखा जाना चाहिए फैसला