यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सट्टेबाजी के अड्डे से सरगना समेत छह गिरफ्तार


🗒 गुरुवार, मई 12 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सट्टेबाजी के अड्डे से सरगना समेत छह गिरफ्तार

प्रयागराज, । आइपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) में सट्टेबाजी का भंडाफोड़ करते हुए एसटीएफ प्रयागराज यूनिट ने जार्जटाउन इलाके के एक मकान में सट्टेबाज गिरोह के सरगना समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया है। इनसे एसटीएफ ने तीन लाख 16 हजार रुपये नकदी, तमाम मोबाइल फोन, टीवी, लैपटाप, कैलकुलेटर, कार जब्त की है। सटोरियों से पूछताछ में पुलिस और एसओजी की मिलीभगत भी सामने आई जिसके बाद एसओजी के हेड कांस्टेबल, चौकी प्रभारी टैगोर टाउन समेत चार पुलिसवालों को निलंबित कर दिया गया।आइपीएल 2022 शुरू होने के बाद लगातार सट्टेबाजी की जानकारी एसटीएफ को मिल रही थी। बुधवार रात एसटीएफ प्रयागराज यूनिट के डिप्टी एसपी नवेंदु कुमार के निर्देश पर इंस्पेक्टर अतुल कुमार सिंह, अनि कुमार सिंह, वेद प्रकाश पांडेय ने कमांडो के साथ टैगोर टाउन के एक मकान को घेरकर छापेमारी की। मौके से गिरफ्तार सरगना समेत छह लोग आनलाइन सट्टा बुकिंग करते मिले। वे बकायदा रजिस्टर पर पैसों की इंट्री करते और फिर मैचों में जीत-हार, छक्कों-चौकों पर सट्टा लगाने वालों तक पैसे पहुंचाते और वसूलते थे। राजस्थान से सट्टे की लाइन मोबाइल पर लेने के बाद सटोरियों को भाव बताकर विकास केसरवानी सट्टा गैंग चला रहा था। मकान का एक किराएदार भी इस गैंग में शामिल है। सट्टेबाजी के जरिए यह गैंग रोज करोड़ों रुपये की सट्टेबाजी से दौलत बना रहा था जबकि सट्टा खेलने वाले ज्यादातर गंवाते ही रहते हैं। इस गैंग ने कई लोगों की रकम भी हड़प ली।एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार सट्टेबाजों से पूछताछ में इनकी पुलिसवालों से मिलीभगत की जानकारी भी सामने आई। इसके बाद एसएसपी ने एसओजी के हेड कांस्टेबल आलोक मिश्रा, चौकी प्रभारी टैगोर टाउन मनीष जायसवाल, बीट के सिपाहियों राहुल चौहान तथा अनीस कुमार को निलंबित कर दिया। साथ ही थाना प्रभारी जार्जटाउन की भी जांच शुरू की गई।