यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज में पथराव, पुलिस से झड़प व आगजनी, कई जख्मी, अब तक 35 गिरफ्तार


🗒 शुक्रवार, जून 10 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रयागराज में पथराव, पुलिस से झड़प व आगजनी, कई जख्मी, अब तक 35 गिरफ्तार

प्रयागराज, । प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद उपद्रवियाें ने बवाल कर दिया। पुलिस पर पथराव किया गया और पीएसी की गाड़ी में आग लगाई। पुलिस के साथ ही पीएसी व आरएएफ ने मोर्चा संभाल लिया। पथराव करने वालों में छोटे बच्‍चे थी थे। उपद्रवियों को भगाने के लिए पुलिस ने डंडा फटका तो गलियों में भाग गए। वहां से भी पथराव करने लगे। इसमें आरएएफ, पुलिस कर्मियों और मीडिया कर्मियों के साथ आम लोग चोटिल हुए। उपद्रवियों ने पीएसी के वाहन में आग लगा दी। हालांकि तत्‍काल आग पर काबू पा लिया गया। देर रात तक पुलिस ने 35 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। धरपकड़ का काम जारी है।प्रयागराज में बवाल के बाद चौक और घंटाघर में धड़ाधड़ दुकानें बंद होने लगीं। वहीं अन्‍य इलाकों में भी बवाल की जानकारी होने पर वहां के दुकानदारों ने भी दुकानें बंद कर सुरक्षित स्‍थान पर पहुंच गए। मालवीय नगर, घंटाघर, चौक, करेली आदि इलाकों में ऐसा नजारा दिखा।जंक्शन के सामने से नुरुल्लाह रोड पर जाने वाला रास्ता बंद कर दिया गया है। पुलिस ने वहां बैरिकेडिंग कर दी है और लोगों को उधर जाने से रोका जा रहा है। दोपहिया वाहन चार पहिया वाहन सभी तरह के वाहन प्रतिबंधित कर दिए गए हैं। हालांकि पथराव व बवाल की जानकारी मिलने पर सड़कों पर आवाजाही भी कम हो गई।उपद्रवियों ने पुलिस पर पथराव के साथ ही वाहनों को भी काफी नुकसान पहुंचाया। जगह-जगह वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। लोग दहशत में घरों में दुबके हुए थे। बवाल को रोकने के लिए प्रतापगढ़, कौशांबी और फतेहपुर से भी फोर्स बुलाई गई।प्रयागराज में उपद्रवियों की कारस्‍तानी देखिए। पुलिस, पीएसी और आरएएफ की मौजूदगी में हजारों की संख्‍या में जुटे उपद्रवियों ने जमकर बवाल किया। पथराव में प्रयाराज के जिलाधिकारी, वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक और एडीजी के गनर को भी चोट लगी है। वहीं आरएएफ के सिपाही और कुछ अन्‍य लोग भी चोलिए हुए हैं। इतना ही नहीं उपद्रवियों ने एडीजी के वाहन और पीएसी के वाहन पर भी पथराव किया। पीएसी की एक गाड़ी को आग के हवाले कर दिया।जुमे की नमाज के बाद पिछले सप्‍ताह कानपुर में बवाल हुआ था। इस बार प्रयागराज में पथराव किया गया। खुल्दाबाद थाना क्षेत्र के अटाला इलाके में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पथराव शुरू किया। पुलिस से भी झड़प हुई। पुलिस ने सख्‍ती की तो पथराव करने वाले भाग गए। कुछ देर बाद फिर पथराव किया गया। पथराव में कई लोगों के चोटिल होने की जानकारी मिली है। वाहनों पर भी पथराव किए गए। पुलिस ने उपद्रवियों को रोकने के लिए आसू गैस के गोले दागे।सुबह से प्रयागराज का पुलिस और जिला प्रशासन जुमे की नमाज को लेकर अत्‍यधिक सक्रिय था। हर संवेदनशील इलाकों और मुस्लिम बाहुल्‍य क्षेत्रों में पुलिस, पीएसी और आरएएफ तैनात थी। पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी भी लगातार मानीटरिंग कर रहे थे और मोहल्‍लों में जाकर शांति का संदश दे रहे थे। पुलिस ने जब सख्‍ती बरती और खदेड़ा ताे लोग गलियों में घुस गए। थोड़ी देर बार फिर पुलिस ने सख्ती बरतते हुए कुछ लोगों को खदेड़ दिया, लेकिन गली में घुसे लोगों ने फिर पथराव शुरू कर दिया। पुलिस, पीएसी और आरएफके जवानों ने स्थिति को संभाला लेकिन इलाके में तनाव का माहौल है।