यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज मे प्रधानाचार्य व महिला की मौत मामला मे घटना से पहले मंगेतर संग निकली थी बेटी


🗒 सोमवार, मई 27 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रधानाचार्य प्रमोद कुमार चौधरी और राखी की मौत की गुत्थी उलझ गई है। सीसीटीवी फुटेज की जांच में पता चला है घटना से कुछ देर पहले प्रमोद की बड़ी बेटी अपने मंगेतर के साथ घर से बाहर निकली है। उसके कुछ देर बाद गोली की आवाज सुनकर बेटा गोलू कमरे में पहुंचता है। अब पुलिस आसपास लगे दूसरे सीसीटीवी कैमरों को खंगाल रही है, ताकि सच्चाई का पता लगाया जा सके। पुलिस का कहना है कि बेटी से पूछताछ में पता चला है कि वह किताब लेने के लिए घर से निकली थी। वहीं, गांव में मौजूद विक्रम का फोन आने के बाद विराट उर्फ गोलू अपने कमरे से बाहर निकला था। गोली लगने के बाद प्रमोद अस्पताल जाने से मना कर रहा था, लेकिन उसने यह नहीं बताया कि किसने गोली चलाई है अथवा घटना को उसने ही अंजाम दिया है। ऐसे में पुलिस का शक अपनों पर गहराने लगा है।फिलहाल, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दोनों के शरीर पर गहरे जख्मों का मिलना, सीसीटीवी फुटेज से कुछ सुराग लगने जैसे और भी कई ऐसे तथ्य सामने आए हैं, जिससे पुलिस इस मामले को लेकर उलझ गई है। पुलिस की ओर से दावा किया जा रहा है कि सभी बिंदु पर जांच चल रही है। असलहे का फिंगर प्रिंट और कुछ दूसरे वैज्ञानिक साक्ष्य काफी महत्वपूर्ण हैं। फिंगर प्रिंट की रिपोर्ट आने पर तस्वीर पूरी तरह से साफ हो जाएगी। धूमनगंज थाना क्षेत्र के प्रीतम नगर ईडब्ल्यूएस कॉलोनी में रहने वाले प्रमोद कुमार चायल स्थित लाल बहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य थे। वह मूलरूप से कौशांबी जिले के सरायअकिल थाना क्षेत्र स्थित कनैली गांव के रहने वाले थे। शुक्रवार सुबह राखी और प्रमोद को संदिग्ध दशा में गोली लगी थी, इससे दोनों की मौत हो गई थी। पुलिस का दावा है कि लिव इन रिलेशनशिप में रहने वाली राखी यादव शादी का दबाव बना रही थी। इसी बात को लेकर झगड़ा हुआ। इसके बाद प्रमोद ने पहले राखी और फिर खुद को गोली मार ली थी। हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गोली से पहले दोनों पर हमले की बात सामने आई है। इस घटना को लेकर एक चर्चा यह भी है कि धूमनगंज इलाके में रहने वाले किसी ठेकेदार या प्रापर्टी डीलर से भी कनेक्शन हो सकता है। उस शख्स की राखी से अच्छी जान-पहचान थी। वह भी कौशांबी का मूल निवासी बताया जा रहा है। ऐसे में पुलिस उसके बारे में भी जानकारी जुटा रही है। सीओ सिविल लाइंस बृजनारायण सिंह कहते हैं कि सीसीटीवी फुटेज से कुछ सुराग मिले हैं, जिसकी जांच की जा रही है। फिंगर प्रिंट की रिपोर्ट आने पर स्थिति और साफ होगी। सभी बिंदुओं पर विवेचना चल रही है। 

प्रयागराज मे प्रधानाचार्य व महिला की मौत मामला मे घटना से पहले मंगेतर संग निकली थी बेटी

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» प्रयागराज के जसरा में ग्राहक सेवा केंद्र संचालक से असलहे के जोर पर 70 हजार की लूट

» बरौनी से कानपुर जाने वाली इंडियन आयल की पाइप लाइन से तेल निकालकर बेचने के आरोपितों ने गिरफ्तार

» सपा सांसद आजम खां जौहर यूनिवर्सिटी का गेट बचाने और जुर्माना हटाने के लिए हाई कोर्ट की शरण में

» इलाहाबाद हाई कोर्ट में नोएडा के निठारी कांड में फांसी की सजा पर फैसला सुरक्षित

» प्रयागराज के सोरांव के मोरहूं गांव में युवक की हत्या, नाले के पास फेंकी लाश

 

नवीन समाचार व लेख

» सुप्रीम कोर्ट ने EWS Reservation की सुनवाई संवैधानिक पीठ को सौपने पर फैसला रखा सुरक्षित

» आंखों देखी सुन CBI तलाश रही सुराग

» ट्रक मालिक प्रसपा नेता ने कहा, मामला हाईप्रोफाइल होने से परिवार को फंसा रही पुलिस

» चौबेपुर के खोजकीपुर गांव के पास खेत की रखवाली कर रहे दो किसानों की गला रेतकर हत्या, पुलिस से भिड़े ग्रामीण

» फीरोजाबाद में पुलिसवाले ने काटा चालान तो बदला लेने को लाइनमैन उड़ा आया थाने की बिजली