प्रयागराज मे छह माह की बेटी और पत्नी का चाकू से गला रेता, दोनों की मौत

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज मे छह माह की बेटी और पत्नी का चाकू से गला रेता, दोनों की मौत


🗒 मंगलवार, मई 28 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

मेजा के बलुआ गांव में 22 वर्षीय माला निषाद और उसकी छह माह की बेटी की गला रेतकर हत्या कर दी गई। मंगलवार की दोपहर दोनों की खून से लथपथ लाश कमरे में मिलीं। लाश के पास ही मछली काटने वाला चाकू मिला है। माला का पति फरार है। मायके वालों ने पति रामेश्वर समेत सास-ससुर, जेठ, जेठानी और देवर के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। अवैध संबंध के शक में हत्या की बात सामने आ रही है। हालांकि पुलिस प्रताडऩा से क्षुब्ध होकर आत्महत्या की बात कह रही है। शवों के पोस्टमार्टम से तस्वीर साफ हो सकेगी।मेजा के बलुआ गांव में रहने वाले रामेश्वर ने ढाई साल पहले औद्योगिक क्षेत्र के चांदी, पिपरांव गांव की रहने वाली माला निषाद से लव मैरिज की थी। शादी के बाद रामेश्वर पत्नी को लेकर पैतृक घर में रह रहा था। उसी मकान में परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं। सोमवार की शाम रामेश्वर रिश्तेदार की शादी में शामिल होने मीरजापुर चला गया। मंगलवार सुबह 11 बजे तक जब रामेश्वर की पत्नी और बच्ची कमरे से बाहर नहीं निकलीं तो ससुराल वालों ने पुलिस को सूचना दी। दरवाजे की कुंडी अंदर से बंद थी। ऐसे में पुलिस ने पहुंच दरवाजा तोड़ा तो माला और उसकी मासूम बच्ची की लाश पड़ी थी। दोनों की गर्दन रेती गई थी। मछली काटने में इस्तेमाल होने वाला चाकू भी वहीं पड़ा था। दोनों की लाशें मिलने से कोहराम मच गया। खबर पाकर माला के मायके वालों पहुंच गए और हत्या का आरोप लगाते हुए हंगामा किया। पिता मूलचंद्र निषाद की तहरीर पर पति रामेश्वर, सास रुकमणि, ससुर कमला निषाद, जेठ नागेश्वर, जेठानी सविता और देवर कमलेश्वर के खिलाफ मेजा थाने में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज हो गया। मौत की खबर पाकर भी पति गांव नहीं लौटा। माना जा रहा है कि बेटी और पत्नी की हत्या कर पति फरार हुआ है। अवैध संबंध के शक में हत्या की बात कही जा रही है। इंस्पेक्टर मेजा का कहना है कि दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर पति समेत अन्य को तलाश किया जा रहा है। शवों के पोस्टमार्टम से स्थिति साफ होगी। माला निषाद और उसकी छह माह की बेटी की मौत गला रेते जाने से हुई। ससुराल वालों की सूचना पर पुलिस पहुंची तो दरवाजा अंदर से बंद था। एसपी यमुनापार दीपेंद्र चौधरी का कहना है कि पुलिस ने ही सबकी मौजूदगी में दरवाजा तोड़ा। अंदर धारदार हथियार भी मिल गया। ऐसा लगता है कि प्रताडऩा से आजिज आकर महिला ने पहले बच्ची का गला काटा फिर अपना गला रेत लिया। गांव के लोगों का कहना है कि दरवाजे की कुंडी हाथ डालकर खोली जा सकती थी। हालांकि पुलिस इससे इन्कार कर रही है। अपने हाथ से खुद का गला रेतने की बात भी किसी के गले नहीं उतर रही है।

प्रयागराज मे छह माह की बेटी और पत्नी का चाकू से गला रेता, दोनों की मौत

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» प्रयागराज के नैनी थाने में पकड़कर लाया गया अजगर दारोगा की कुर्सी पर चढकर बैठा

» चिन्मयानंद को ब्लैकमेल करने के एक और आरोपित को दी जमानत

» BJP विधायक सुरेंद्र सिंह के खिलाफ चल रहा मुकदमा वापस

» प्रयागराज में एक सिरफिरे आशिक की करतूत पहले मोबाइल पर इश्‍क का इजहार किया और शिकायत पर हाईटेंशन टावर पर चढ़ा

» चिन्मयानंद केस में ब्लैकमेल के आरोप में गिरफ्तार दुष्कर्म पीड़ित छात्रा को हाई कोर्ट से मिली जमानत

 

नवीन समाचार व लेख

» डीजीपी सम्मेलन में शामिल हुए पीएम मोदी, कहा- जवानों के अदम्य साहस को सलाम करते हैं

» उन्नाव कांड मे देर रात पहुंचे बिटिया के शव को देख गश खाकर गिरे बूढ़े मां-बाप

» बहराइच में शोहदों से परेशान दो बहनों ने छोड़ा स्कूल, आत्मदाह की चेतावनी

» NSUI ने उन्‍नाव कांड को लेकर जताया विरोध, मुख्‍यमंत्री के फोटो को कर दिया काला

» गोरखपुर -अभियुक्तों की गिरफ्तारी व सही विवेचना के लिए आमरण अनशन पर बैठी महिला का प्रशासन ने नहीं लिया अब तक कोई हालचाल