यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

जिला प्रयागराज में यूपीपीएससी परीक्षाओं में धांधली को लेकर सड़क पर उतरे हजारों प्रतियोगी, घेरा यूपीपीएससी मुख्यालय


🗒 शुक्रवार, मई 31 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

उप्र लोकसेवा आयोग (UPPSC) की भर्ती परीक्षाओं में धांधली उजागर होने से खफा प्रतियोगी शुक्रवार को सड़क पर उतर आए। छात्र संगठन सामूहिक रूप से उप्र लोकसेवा आयोग की कार्यशैली का विरोध जता रहे हैं। हजारों प्रतियोगियों के जुटने से प्रयागराज लखनऊ राजमार्ग जाम हो गया है। गुस्साए प्रतियोगी नौकरी लौटाने की तख्तियां लहरा रहे हैं। आयोग के अफसर छात्र संगठनों से वार्ता करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। बड़ी संख्या में पुलिस व फायर ब्रिगेड व अन्य टीमें छात्रों को रोकने में जुटी हैं।यूपीपीएससी की एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में पेपर आउट कराने के आरोप में परीक्षा नियंत्रक की गिरफ्तारी के बाद प्रतियोगी आयोग पर हमलावर हैं। दो दिन पहले ही विभिन्न छात्र संगठनों ने आयोग मुख्यालय के घेराव का एलान किया था, सुबह से ही बड़ी संख्या में प्रतियोगी कार्यालय के सामने पहुंचकर नारेबाजी और उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं। दोपहर में भीड़ बढ़ने पर पुलिस ने लखनऊ प्रयागराज मुख्य राजमार्ग पर आवागमन ठप कर दिया, क्योंकि पुलिस को अंदेशा था कि अभ्यर्थी गुस्से में आम लोगों को भी नुकसान पहुंचा सकते हैं। यूपीपीएससी के दोनों गेटों के सामने हजारों प्रतियोगी जमा हैं। उनकी मांग है कि यूपीपीएससी नौकरी वापस लेकर उनका फीस आदि का पैसा वापस लौटा दे।आयोग के अफसर व सदस्य मौजूदा हालात पर बैठक कर रहे हैं। उनकी ओर से अभी तक प्रतियोगियों से वार्ता करने का प्रस्ताव भी नहीं आया है। इससे खफा अभ्यर्थी तपती धूप में सड़क पर बैठ गए हैं। बड़े बवाल की आशंका को देखते हुए पुलिस, आरएएफ और फायर ब्रिगेड ने लोकसेवा आयोग को घेर रखा है। छात्र संगठनों ने पिछले दो साल में हो चुकी सभी भर्तियों पर अंगुली उठाई है।

जिला प्रयागराज में यूपीपीएससी परीक्षाओं में धांधली को लेकर सड़क पर उतरे हजारों प्रतियोगी, घेरा यूपीपीएससी मुख्यालय

विरोध की अहम वजह

  •  एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती में पेपर आउट में परीक्षा नियंत्रक का हाथ।
  • जिन विषयों का रिजल्ट आ चुका उन्हें नियुक्ति मिलने की उम्मीद नहीं।
  • भ्रष्टाचार को देखते हुए पूरी भर्ती ही रद कराने की तैयारी है।
  • इस घटना से पीसीएस मुख्य परीक्षा 2018 भी स्थगित कर दी गई है।
  • अब अन्य परीक्षाओं के निरस्त होने का खतरा मंडरा रहा है।

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कानपुर के ज्योति हत्याकांड में आरोपित पति की जमानत अर्जी की खारिज

» केस के सिलसिले में आई हाईकोर्ट के गेट नंबर तीन के निकट से एक महिला का अपहरण कौशांबी में बरामद, आठ हिरासत में

» शंकरगढ़ थाना क्षेत्र में आकाश से गिरी बिजली, दो लोगों की गई जान व तीन झुलसे

» शाहगंज इलाके में पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश गिरफ्तार, पुलिस पर किया फायर

» प्रयागराज के गोविंदपुर में सिरफिरे ने घरवालों और पुलिस पर फेंका तेजाब, 13 लोग झुलसे

 

नवीन समाचार व लेख

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कानपुर के ज्योति हत्याकांड में आरोपित पति की जमानत अर्जी की खारिज

» मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की चेतावनी फाइल तीन दिन से अधिक रुकी तो नपेंगे अफसर

» बहुजन समाज पार्टी ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने का समर्थन

» सीबीआइ की निगाह सुरक्षा में लापरवाही पर चालक व क्लीनर को दुर्घटना स्थल पर ले जाकर छानबीन

» आशियाना एलडीए क्षेत्र में धारा 370 हटाये जाने पर व्यापारियों ने तिरंगा फहरा मिठाई बांट मनाई खुशियां,