यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मेजा और श्रृंगवेरपुर में गंगा में तीन समाए, दो चचेरी बहनों का शव बरामद


🗒 रविवार, जून 16 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

जनपद से करीब 40 किलोमीटर दूर यमुनापार के मेजा थाना क्षेत्र में हादसा हो गया। देवहटा गांव स्थित घाट पर रविवार की सुबह गंगा नदी में दो चचेरी बहनें डूब गईं। वह सहेलियों के साथ गंगा नदी में स्नान के लिए गई थीं। घाट पर मौजूद लोगों ने एक किशोरी के शव को बरामद किया। कुछ घंटे के बाद दूसरी का भी शव मिल गया। इसी प्रकार गंगापार के श्रृंगवेरपुर घाट पर अंतिम संस्कार में शामिल होने गया युवक गंगा नदी में डूब गया। पुलिस गोताखोरों की मदद से उसकी तलाश कर रही है। हालांकि अभी तक उसका पता नहीं चला है।देवहटा गांव निवासी स्वप्निल मिश्रा 19 पुत्री रमेश मिश्रा अपनी चचेरी बहन यशस्वी मिश्र उर्फ साक्षी 15 पुत्री कुलदीप मिश्रा व पड़ोस की अन्य सहेलियों के साथ गंगा स्नान के लिए गई थी। सुबह करीब साढ़े छह बजे देवहटा गंगा घाट पर सभी स्नान कर रही थीं। इसी दौरान यशस्वी गहरे पानी में चली गई और डूबने लगी। उसकी चीख सुन कर स्वप्निल उसे बचाने के लिए गहरे पानी पहुंच गई। स्वप्निल ने साक्षी का हाथ पकड़ कर किनारे खींचने का प्रयास किया, लेकिन इसी दौरान वह भी डूब गई। स्नान कर रही अन्य लड़कियों ने यह देख हल्ला मचाया लेकिन जब तक घाट पर मौजूद लोग गंगा में छलांग लगाते तब तक दोनों गहरे पानी में समा चुकी थीं। घटना की जानकारी होते ही परिवार सहित गांव के अधिकांश लोग घाट पर पहुंच गए। करीब एक दर्जन लोगों ने गंगा में छलांग लगाई। लगभग नौ बजे बजे साक्षी का शव बरामद हुआ। वहीं सूचना पर इलकाई पुलिस पहुंची।  स्थानीय मल्लाहों ने घंटों की मशक्कत के बाद करीब 12 बजे स्वप्निल का शव भी मिल गया। मौके पर पहुंचे सीओ मेजा उमेश शर्मा, इंस्पेक्टर मेजा मनोज पाठक, चौकी इंचार्ज जेवनिया सुशील कुमार एवं चौकी इंचार्ज सिरसा राकेश राय ने परिजनों की मांग पर कागजी कार्रवाई के बाद दोनों बहनों के शव परिजनों को सौंप दिया। घटना को लेकर परिवार एवं गांव में मातम का माहौल है। 

मेजा और श्रृंगवेरपुर में गंगा में तीन समाए, दो चचेरी बहनों का शव बरामद

स्वप्निल के घर के बगल में ही चचेरी बहन साक्षी का घर है। स्वप्निल ने इसी वर्ष बीएससी की पढ़ाई पूरी की थी। वहीं साक्षी तरवाई गांव स्थित गुड शेफर्ड स्कूल में कक्षा सातवीं की छात्रा है। परिवार के लोगों ने बताया कि वैसे तो दोनों ही परिवारों में काफी लगाव है, लेकिन स्वप्निल और साक्षी में काफी ज्यादा प्रेम था। स्वप्निल छोटी छोटी बातों पर साक्षी का साथ देती थी। यही कारण है कि रविवार की सुबह जब साक्षी गहरे पानी में डूबने लगी तो स्वप्निल ने बिना कुछ सोचे समझे उसे बचाने के लिये अपनी जिंदगी दांव पर लगा दिया। स्वप्निल भले ही साक्षी को न बचा सकी हो, लेकिन दोनों बहनों के प्रेम और लगाव की चर्चा हो रही है। स्वप्निल के भाई आशुतोष व मां रीना देवी व साक्षी के भाई वर्चस्व व मां कनक देवी समेत परिजनों का रो-रोकर हाल बेहाल है।इसी प्रकार अंतिम संस्कार में शामिल होने आए 18 वर्षीय युवक श्रृंगवेरपुर घाट पर रविवार की सुबह स्नान के दौरान डूब गया। शोर-शराबा होने पर वहां मौजूद लोगों ने बचाने का प्रयास किया, लेकिन नाकाम रहे। तत्काल इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने गोताखोरों को गंगा नदी में उतारा। हालांकि अभी तक उसकी तलाश की जा रही है।

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» प्रयागराज मे यूपी ट्रिपल एससी पास कराने वाले गिरोह सरगना समेत पांच गिरफ्तार हुए

» हाई कोर्ट ध्वनि प्रदूषण नियमों के उल्लंघन पर मैरिज हॉल संचालकों से नाराज, कहा- लगे भारी जुर्माना

» इलाहाबाद हाई कोर्ट से बुलंदशहर हिंसा मामले के मुख्य आरोपी योगेश राज को मिली जमानत

» इलाहाबाद हाई कोर्ट से आजम खां को मिली बड़ी राहत, जौहर यूनीवर्सिटी के सभी भूमि मामलों पर फिलहाल रोक

» इलाहाबाद हाई कोर्ट वाहनों के चालान कोर्ट भेजने में देरी पर सख्त, कहा- तीन दिन में कोर्ट भेजे पुलिस

 

नवीन समाचार व लेख

» पुलिसचौकी केशवधाम क्षेत्र से दिनदहाड़े बाइक चोरी

» वरिष्ठ नागरिक पेंशन सेवा संस्थान ने मनाई गांधी जयंती

» राष्ट्रपति ने कहा- स्वच्छ भारत मिशन अपनाकर देश ने किया महात्मा गांधी को याद

» अमेठी मे जमीन विवाद की शिकायत पर जांच करने पहुंचे दो सिपाहियों पर बांके से हमला

» लखनऊ मे परिवहन मंत्री ने किया शिशु देखभाल कक्ष का शुभारंभ।