मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के विभाग के सभी तबादलों को रद किया

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के विभाग के सभी तबादलों को रद किया


🗒 शुक्रवार, अगस्त 09 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

प्रदेश में स्टाम्प एवं निबंधन विभाग के उप निबंधक से लेकर चतुर्थ श्रेणी कर्मियों के पिछले दिनों किए गए सभी तबादले निरस्त कर दिए गए हैं। 350 से अधिक समूह ख, ग व घ के कर्मियों के तबादले में बड़े पैमाने पर अनियमितताओं की शिकायतें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुंची थी। मामला नंद गोपाल गुप्ता 'नंदी' के मंत्रालय का है। नंदी बीते महीने प्रयागराज में अपने पुन: प्राकट्य का आयोजन कर चर्चा में थे।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्टांप और पंजीयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के विभाग के सभी तबादलों को रद कर दिया है। सीएम योगी को इन तबादलों के बारे में लगातार शिकायतें मिल रही थी। इस बीच कर्मचारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने सीएम योगी से मुलाकात भी की थी। कर्मचारियों की शिकायत के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने आंतरिक रूपे से एक रिपोर्ट मंगाई थी और विभाग में एक नई प्रमुख सचिव वीना कुमारी मीणा की तैनाती की थी। प्रमुख सचिव की शुरूआती जांच में पाया गया कि आरोपों में सत्यता है, जिसके बाद मुख्यमंत्री ने समूह ख,ग,घ की भर्तियो से जुड़े करीब 300 कर्मचारियों का तबादला रद कर दिया।मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कड़े रुख पर शासन स्तर से गुरुवार को तबादले संबंधी दर्जनभर आदेशों को तत्काल रद करने के निर्देश महानिरीक्षक निबंधन को दिए गए हैं। दरअसल, स्टाम्प एवं निबंधन विभाग में 30 जून के बाद भी समूह ख से लेकर घ तक के कर्मियों के बड़े पैमाने पर तबादले किए गए हैं। 30 जून से लेकर पहली अगस्त के दरमियान चार आदेशों के माध्यम से समूह ख के 60 से अधिक उप निबंधकों के तबादले किए गए। इसी तरह समूह ग के लगभग 200 निबंधन लिपिक के भी 10 जुलाई से पहली अगस्त तक के बीच तीन आदेशों से स्थानांतरण किए गए। समूह घ के 100 से अधिक चतुर्थ श्रेणी कर्मियों के भी पांच तबादला आदेश जारी किए गए।वैसे तो स्थानांतरण नीति के तहत 30 जून तक तबादला सत्र के दौरान महानिरीक्षक निबंधन के स्तर से उक्त तबादले हो सकते थे, लेकिन सत्र के बाद जुलाई व अगस्त में भी तबादले होते रहे। चूंकि महानिरीक्षक निबंधन मिनिस्ती एस. लंबे अवकाश पर थी इसी कारण इस विभाग से संबंधित तबादले प्रभारी महानिरीक्षक व शासन स्तर पर विभागीय मंत्री के अनुमोदन से किए गए।सूत्रों के मुताबिक बड़े पैमाने पर किए गए तबादले में नीति का पालन करने से कहीं ज्यादा मनमानी की गई। तबादलों में अनियमिताओं की मुख्यमंत्री तक पहुंची तमाम शिकायतों के सही पाए जाने के बाद गुरुवार को सभी तबादले निरस्त करने के निर्देश दिए गए। इस संबंध में विभाग के संयुक्त सचिव लालू ने महानिरीक्षक निबंधन को तीन अलग-अलग आदेश भेजकर 30 जून से पहली अगस्त के दरमियान 350 से अधिक के जारी किए गए दर्जनभर तबादला आदेशों को तत्काल निरस्त कर शासन को बताने के निर्देश दिए हैं। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के विभाग के सभी तबादलों को रद किया

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» मऊआइमा थाना क्षेत्र में धारदार हथियार से सफाई कर्मी की हत्‍या, दो पर केस

» हाईकोर्ट ने लगाई 17 OBC जातियों को SC में शामिल करने पर रोक

» प्रयागराज के यमुनापार में पटाखा कारोबारी के घर हुआ तेज धमाका, एक की मौत दो घायल

» प्रयागराज के कोठापारचा से बाइक चोरी, सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई तस्वीर

» योग गुरु स्वामी आनंद गिरि आस्ट्रेलिया में सिडनी की अदालत से बरी

 

नवीन समाचार व लेख

» सुप्रीम कोर्ट ने पूछा- क्या मस्जिद में हो सकती हैं देवी-देवताओं की कलाकृतियां

» कानपुर मे सलवार सूट पहनकर मारी थी गोली, हत्यारोपित ने बताईं कहानी

» आगरा के खंदौली में भीड़ का जमकर तांडव व पथराव, खोखों और दुकानों में आगजनी

» प्रतापगढ़ जनपद के बाघराय थाना क्षेत्र में पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का इनामी बदमाश गोली से घायल

» लखनऊ के निगोंहा क्षेत्र में नेताजी ने टोल न देने के लिए किया हाई वोल्टेज ड्रॉमा, पुलिस ने उतरवाया हूटर-काटा चालान