यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज में पूर्व ब्‍लाक प्रमुख की संपत्तियों को कुर्क किया जा रहा है, भारी फोर्स मौजूद


🗒 शुक्रवार, सितंबर 11 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रयागराज में पूर्व ब्‍लाक प्रमुख की संपत्तियों को कुर्क किया जा रहा है, भारी फोर्स मौजूद

पुलिस ने अतीक अहमद के बाद पूर्व ब्लॉक प्रमुख व माफिया दिलीप मिश्रा के खिलाफ के खिलाफ भी कार्रवाई शुरू कर दी है। प्रयागराज में चाका के पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा पर भी पुलिस व प्रशासन की सख्‍ती बढ़ी है। दिलीप की संपत्तियों को कुर्क करने की कार्रवाई जारी है। इसी क्रम में शुक्रवार की दोपहर में भी नैनी में कुर्की की कार्रवाई शुरू की गई। उनकी टिकुरी और देवरख में स्थित संपत्ति ( खेत) को सील करने की कार्रवाई शुरू हो गई है। राजस्व की टीम के साथ पुलिस फोर्स भी मौके पर मौजूद है।गुरुवार को पुलिस और राजस्व की टीम ने दिलीप के कॉलेज समेत पांच अचल संपत्ति को कुर्क कर दिया। जब्त की गई संपत्तियों की बाजारू कीमत करीब सात करोड़ रुपये आंकी गई है। इस कार्रवाई से अतीक के करीबियों में खलबली मच गई। माफिया की सात और संपत्ति हैं, जिन्हें अभी कुर्क किया जाना है। कुछ दिन पहले जिलाधिकारी ने गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के तहत दिलीप मिश्रा की 12 अचल संपत्ति को कुर्क करने का आदेश दिया है। गुरुवार की रात में सीओ करछना नृपेंद्र कुमार, औद्योगिक क्षेत्र थाने की पुलिस और राजस्व की टीम लवायन गांव पहुंची। यहां करीब सात जमीन हैं, जिसके कुछ हिस्से में माया देवी स्मारक महाविद्यालय है।पुलिस और राजस्व के अधिकारियों ने संपत्ति की जानकारी जुटाई और फिर कॉलेज के पांच दरवाजे पर सरकारी ताला लगाकर सील मुहर लगा दी गई। साथ ही दीवार पर नोटिस चस्पा की गई। इसके बाद कॉलेज के पास कुछ जमीनों को भी जब्त करने की कार्रवाई की गई। करीब दो घंटे में पांच संपत्तियों को कुर्क किया गया। कार्रवाई के दौरान दिलीप का छोटा बेटा आकाश और कुछ अन्य लोग भी मौजूद रहे, लेकिन किसी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। सीओ का कहना है कि जल्द ही अन्य संपत्तियों को चिंहित कर कुर्क करने की कार्रवाई की जाएगी।माया देवी स्मारक महाविद्यालय में ही खान मुबारक गैंग का शार्प शूटर सुल्तानपुर निवासी नीरज उर्फ अभय प्रताप ठहरा था। इसी कॉलेज से पुलिस ने शूटर और दिलीप मिश्रा के बेटे शुभम को गिरफ्तार किया था। दिलीप इन दिनों फतेहगढ़ जेल में बंद है। फिलहाल अधिकारियों का कहना है कि पूर्व ब्लॉक प्रमुख की कई और संपत्ति है, जिन्हें चिंहित की जा रही है।माया देवी स्मारक महाविद्यालय में ताला लगने से यहां पढ़ने वाले सात सौ विद्यार्थियों का भविष्य अधर में लटक गया है। शिक्षण गतिविधियों पर रोक लग जाने से विद्यार्थियों में असमंजस की स्थिति बन गई है। यहां बीए, बीएससी, बी कॉम, बीएड, डी फार्मा, बी फार्मा समेत कई कोर्स चल रहा था। इसमें सैकड़ों छात्र-छात्राएं एडमिशन लेकर पढ़ाई कर रहे थे।

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» यूपी बाल विकास व पुष्टाहार विभाग कर्मचारियों ने निदेशक के आदेश को हाई कोर्ट में दी चुनौती

» सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दूसरी लिस्ट जारी, 36590 अभ्यर्थियों को जिला आवंटित

» प्रयागराज में सुहाग की सेज पर मिली दुल्हन की लाश व दूल्हा हुआ फरार

» प्रयागराज के शाहगंज इलाके मे मकान में लगी आग

» कार हादसे में हाईकोर्ट के अधिवक्ता की मौत, सहायक रजिस्ट्रार भी हुए गंभीर जख्मी

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर देहात में हाथों में मेहंदी सजाए बैठी रही दुल्हन, नहीं आई बारात तो उठाया आत्मघाती कदम

» यूपी बाल विकास व पुष्टाहार विभाग कर्मचारियों ने निदेशक के आदेश को हाई कोर्ट में दी चुनौती

» सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दूसरी लिस्ट जारी, 36590 अभ्यर्थियों को जिला आवंटित

» बांदा में पकड़ा गया गिरोह जो केरल और पंजाब में बेचता था सूअर के मांस का अचार

» हमीरपुर में सपा युवजन सभा के जिलाध्यक्ष ने राइफल से खुद को गोली मारकर दी जान