फर्जी कंपनी मामले में पूर्व आबकारी उप आयुक्‍त पत्‍नी समेत गिरफ्तार

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

फर्जी कंपनी मामले में पूर्व आबकारी उप आयुक्‍त पत्‍नी समेत गिरफ्तार


🗒 सोमवार, अक्टूबर 12 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
फर्जी कंपनी मामले में पूर्व आबकारी उप आयुक्‍त पत्‍नी समेत गिरफ्तार

प्रयागराज,फर्जी कंपनी बनाकर आबकारी विभाग में अपने करीबियों को शराब के ठेके दिलाने के मामले में सतर्कता अधिष्ठान की टीम ने रिटायर्ड आबकारी उप आयुक्‍त भारत रत्‍न अशोक को उनकी पत्‍नी सुधारानी श्रीवास्‍तव के साथ गिरफ्तार कर लिया। जांच कर रही विजि‍लेंस लखनऊ की टीम ने ठोस सुबूतों को जुटाने के बाद सोमवार सुबह बेली रोड स्थित घर से उन दोनों को पकड़ लिया।कर्नलगंज में नया कटरा स्थित बेली रोड निवासी भारत रत्‍न अशोक श्रीवास्‍तव 2009 में वाराणसी मंडल के आबकारी उप आयुक्‍त के पद पर तैनात थे। उसी दौरान उनके खिलाफ मिर्जापुर सदर कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ था। अशोक पर पत्‍नी और अन्‍य लोगों के साथ फर्जी फर्म बनाकर आबकारी विभाग में शराब के ठेके दिलाने का फर्जीवाड़ा करने का आरोप था। शिकायत पर 24 जून 2009 को मिर्जापुर में सदर कोतवाली में धोखाधड़ी, कूट रचना, भ्रष्‍टाचार समेत अन्‍य गंभीर धाराओं में एफआइआर दर्ज की गई थी। इसके बाद मामले की जांच सर्तकता अधिष्‍ठान को सौंप दी गई थी। मौजूदा समय में लखनऊ की विजिलेंस टीम मुकदमे की जांच कर रही है।सोमवार को मामले की विवेचना कर रहे इंस्‍पेक्‍टर राम चंद्र चौधरी ने कर्नलगंज पुलिस के साथ बेली रोड स्थित मकान से रिटायर हो चुके आरोपित भारत रत्‍न अशोक और सहअभियुक्‍त उनकी पत्‍नी सुधारानी को गिरफतार कर लिया। उन्‍हें कर्नलगंज थाने लाया गया। जहां लिखापढ़ी और मेडिकल जांच के बाद दोनों को भ्रष्‍टाचार निवारण अधिनियम की विशेष कोर्ट में पेश करने के लिए वाराणसी ले जाया गया। सर्तकता अधिष्‍ठान के डीजी पीवी रामा शास्‍त्री ने बताया कि शासन ने अभियोजन की अनुमति मिलने के बाद चार्जशीट तैयार कर गिरफतारी की गई है।रिटायर्ड आबकारी उप आयुक्‍त भारत रत्‍न अशोक का पुत्र भी इस मामले में वांछित है। इसके अलावा अलग-अलग जिलों के चार अन्‍य लोग भी फरार चल रहे हैं। विजिलेंस की टीम इन आरोपितों की तलाश में लगी है। छापेमारी के दौरान पूर्व आबकारी उप आयुक्‍त के घर में उनका आरोपित बेटा नहीं मिला।गिरफ्तारी के बाद कर्नलगंज थाने में पूर्व आबकारी उप आयुक्‍त अशोक ने तबीयत बिगड़ने और बेहोशी का नाटक कर विजिलेंस और पुलिस को जमकर परेशान किया। पुलिस उन्‍हें जांच के लिए पहले बेली और कॉल्विन अस्‍पताल ले गई। डॉक्‍टरों की जांच के बाद उन्‍हें कोर्ट में पेश करने के लिए दोपहर बाद पुलिस टीम वाराणसी के लिए रवाना हो गई।

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» रेलवे भर्ती परीक्षा में पकड़े गए दो फर्जी अभ्यर्थी

» प्रयागराज में पिता ने लिखाया कार में दुष्कर्म का मुकदमा मगर बेटी ने कर दिया घटना से इन्कार

» यूपी बाल विकास व पुष्टाहार विभाग कर्मचारियों ने निदेशक के आदेश को हाई कोर्ट में दी चुनौती

» सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर दूसरी लिस्ट जारी, 36590 अभ्यर्थियों को जिला आवंटित

» प्रयागराज में सुहाग की सेज पर मिली दुल्हन की लाश व दूल्हा हुआ फरार

 

नवीन समाचार व लेख

» उत्तर प्रदेश की आमदनी की रफ्तार पर लगा कुछ ब्रेक, नवंबर माह के राजस्व में आया कम उछाल

» बिहार में 85 पुलिसकर्मी बर्खास्त, 644 के खिलाफ हुई कड़ी कार्रवाई

» कानपुर के चकेरी में फर्जी आधार कार्ड, पैन कार्ड और निवास प्रमाण पत्र बनाने वाला आरोपित गिरफ्तार

» कानपुर में युवक की जलाकर हत्या के बाद फेंका शव, खड़ी मिली प्रतापगढ़ के नंबर की बाइक

» इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने आरोपित एसपी की एक और अग्रिम जमानत याचिका को किया नामंजूर