यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

यमुनापार इलाके में फिरौती मांगने से किया इंकार तो गला घोंटकर मार डाला


🗒 मंगलवार, जनवरी 12 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
यमुनापार इलाके में फिरौती मांगने से किया इंकार तो गला घोंटकर मार डाला

प्रयागराज, यमुनापार इलाके में खीरी थाना क्षेत्र के लालतारा सिलौधी गांव के रहने वाले एक छात्र की तार से गला कसकर हत्या कर दी गई। वह रविवार शाम से गायब था। उसे मौत के घाट उसके कुछ परिचितों ने ही उतारा। पहले उसे बहाने से बुलाकर अपने साथ ले गए।  फिर उससे अपने घरवालों से रुपये मांगने के लिए कहा। इन्कार करते हुए वह फिरौती मांगने वालों से भिड़ा तो उसका कत्ल कर दिया गया। उसके शव को ठिकाने लगाने के लिए घर में ही गड्ढा खोदा गया, लेकिन ऐन मौके पर पहुंची पुलिस ने उनके मंसूबों पर पानी फेर दिया। मामले में दो युवतियों समेत छह लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है।खीरी थाना क्षेत्र के लालतारा सिलौधी गांव निवासी शिवम सोनी (21) पुत्र गया प्रसाद सोनी बीए का छात्र था। रविवार शाम वह घर से निकलकर गांव स्थित नहर पुलिया पर बैठा था। उसी समय एक बाइक सवार उसके पास आया और उसे अपने साथ ले गया। इसके बाद से शिवम का पता नहीं चला। स्वजनों ने रात को सूचना पुलिस को दी तो उसकी तलाश शुरू की गई। इसी बीच एक किशोर ने शिवम को ले जाने वाले बाइक सवार की कद काठी के बारे में बताया। एसओ खीरी संतोष कुमार सिंह ने शिवम के मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली तो सोमवार देर रात पता चला कि आखिरी बार उसकी कोरांव के पथरा पहाड़ी के रहने वाले एक युवक से बात हुई थी। मंगलवार भोर में पुलिस उस युवक के घर पहुंची तो बताया गया कि वह गांव के ही दूसरे युवक के यहां है। पुलिस यहां पहुंची तो कमरे में शिवम की लाश पड़ी थी। तार से गला कसकर उसे मारा गया था। वहीं पास में एक गड्ढा खोदा गया था, जहां उसकी लाश दफन करने की तैयारी थी। यह देख पुलिस सन्न रह गई। शव को सील करने के साथ ही चार युवक और दो युवतियों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया। धर, शिवम की लाश मिलने की जानकारी उसके स्वजनों को हुई तो वह रोने-बिलखने लगे। गांव के लोगों ने लालतारा रोड पर रास्ताजाम कर दिया। कुछ ही देर में मौके पर पहुंची एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित ने रास्ताजाम कर रहे लोगों को समझाकर शांत कराया। आश्वासन दिया कि हत्यारों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा। शिवम की हत्या किन कारणों से की गई, इस बारे में पुलिस अभी कुछ नहीं बता रही है। वहीं, सूत्रों का कहना है कि हत्यारे शिवम के परिचित थे। शिवम परिवार में इकलौता पुत्र था। उसे बहाने से हत्यारे अपने साथ ले गए थे। वहां ले जाकर उससे कहा कि वह अपने घरवालों से लाखों रुपये मंगवाए, तभी उसे छोड़ेंगे। यह सुनकर शिवम विरोध करने लगा और भागने की कोशिश की। जिस पर हत्यारों से उसकी हाथापाई हुई और फिर तार से गला कसकर उसे मौत के घाट उतार दिया गया। एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित का कहना है कि कुछ संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है और जल्द ही पूरे प्रकरण का राजफाश किया जाएगा।

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» प्रयागराज पुलिस ने चार असलहा तस्‍करों को दबोचा

» दिलीप मिश्र की बेल निरस्त कराने हाई कोर्ट पहुंची यूपी सरकार

» HDGC सप्लाई घोटाले में अब मनीलांड्रिग का भी दर्ज किया गया केस, ED की प्रयागराज यूनिट हरकत में आई

» फौजी हत्याकांड का पुलिस ने किया पर्दाफाश,पांच आरोपितों ने चश्‍मदीद युवती से किया था दुष्‍कर्म

» इलाहाबाद हाई कोर्ट ने कहा- डीआइओएस को अध्यापक की बहाली का आदेश देने का अधिकार नहीं