यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज में गटर की सफाई को उतरे तीन मजदूर हुए बेहोश तो मची खलबली


🗒 बुधवार, अप्रैल 28 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रयागराज में गटर की सफाई को उतरे तीन मजदूर हुए बेहोश तो मची खलबली

प्रयागराज,। शहर के म्योराबाद चौराहे के समीप गटर (सीवर लाइन) की सफाई के लिए बुधवार सुबह उतरे गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के ठेकेदार के तीन मजदूर मीथेन गैस की चपेट में आ जाने से बेहोश हो गए। इसकी जानकारी होने पर स्थानीय लोगों की भीड़ इक_ा हो गई। मौके पर पहुंचे अग्निशमनकर्मियों और स्थानीय लोगों ने मजदूरों को रस्से के सहारे बाहर निकाला। एंबुलेंस से उन्हें अस्पताल भेजा गया। इलाज के बाद स्वस्थ होने पर उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया।म्योराबाद चौराहा के समीप सीवर लाइन की सफाई के लिए बुधवार सुबह करीब 11 बजे मजदूर बाबूलाल और रणजीत नीचे उतरे। उनके नीचे उतरते ही अंदर से मीथेन गैस उठने से उनकी सांसें फूलने लगी। आवाज देने पर तीसरा मजदूर लल्लू भी नीचे उतरा लेकिन, वह भी गैस से घबराकर शोर मचाने लगा। इस पर स्थानीय लोगों की भीड़ जुट गई। इसकी जानकारी होने पर पार्षद रतन दीक्षित सैनिटाइजेशन वाली गाड़ी लेकर पहुंच गए। सिविल डिफेंस के रवि शंकर द्विवेदी भी पहुंच गए। उनका दावा है कि कई शीर्ष अफसरों को फोन किया लेकिन, फोन नहीं उठा। नगर आयुक्त रवि रंजन से वार्ता के बाद तत्काल पुलिस और फायर बिग्रेड की गाड़ी पहुंची, लेकिन गटर में उतरने को कोई तैयार नहीं था। ममफोर्डगंज का अमन नीचे उतरने लगा लेकिन, गैस के कारण आधे रास्ते से वह भी वापस आ गया। इसके बाद सैनिटाइजेशन मशीन से उसमें पानी डाला गया और अग्निशमनकर्मियों ने मोटे रस्से को नीचे गिराया, जिसे पकड़कर तीनों मजदूर बाहर आए। बाहर आते ही तीनों बेहोश हो गए। उन्हें एसआरएन अस्पताल भेजा गया। बताते हैं कि तीनों मजदूर सेफ्टी उपकरण भी नहीं पहने थे। अनवर खां, झल्लर, सीपू, मनोज पासी के सहयोग से मजदूरों की जान बची। 

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» प्रयागराज व कौशांबी में असलहे का प्रदर्शन करने वाले पांच युवक पकड़े गए

» प्रयागराज में काम दिलाने के बहाने सामूहिक दुष्कर्म

» प्रयागराज में कारों की भिड़ंत में नौ लोग जख्मी

» अश्लील वीडियो भेजने के मामले में प्रयागराज पुलिस ने किया सिपाही को गिरफ्तार

» भ्रष्टाचार के आरोपित लोक सेवक पर केस चलाने में सरकार से अनुमति जरूरी नहीं

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर पुलिस ने पकड़ीं आठ भिखारिनें ,ब्रांडेड जींस और टी-शर्ट पहनकर मांगती थीं भीख

» कानपुर में भी मतांतरण कराने वालों का नेटवर्क, स्कूल से चलता था मोटिवेशन कैंप

» हाथरस में मुठभेड़ में दो शातिर दबोचे

» बिजनौर में मतांतरण की सूचना पर दौड़ी पुलिस, महिला को पकड़ा

» मुजफ्फरनगर में दो विवाहित सहेलियों का मतांतरण करा किया निकाह