यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज में बैंक शाखा में भड़की आग, फायरमैन जख्मी


🗒 शनिवार, मई 01 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रयागराज में बैंक शाखा में भड़की आग, फायरमैन जख्मी

प्रयागराज,। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआइ) की राजापुर शाखा में शनिवार शाम अचानक आग लग गई। आग बुझाने के दौरान एक्सटेंशन लैडर (सीढ़ी) मुडऩे के कारण उस पर चढ़े दो फायरमैन समेत तीन कर्मचारी जख्मी हो गए। पुलिस और अग्निशमन कर्मचारियों ने किसी तरह बैंक के ऊपर मंजिल पर मौजूद परिवार को दूसरे के मकान से बाहर निकलवाया, फिर किसी तरह आग पर काबू पाया। शार्ट सर्किट से लगी आग के चलते बैंक में रखे फर्नीचर समेत लाखों रुपये का सामान जलने की बात कही गई है।राजापुर पुलिस चौकी के सामने रोहित केशरवानी का तीन मंजिला मकान है। भूतल पर उनकी मिठाई की दुकान है, जबकि पहले व दूसरे मंजिल पर एसबीआइ की शाखा है। तीसरे मंजिल पर रोहित का परिवार रहता है। शनिवार शाम अचानक बैंक के भीतर से धुआं निकलता देख लोग परेशान हो गए। खबर पाते ही दो फायर टैंकर के साथ सीएफओ, फायरमैन और इंस्पेक्टर सिविल लाइंस मौके पर पहुंच गए। बैंक बंद होने के कारण करीब 30 फीट ऊंचा एक्सटेंशन लैडर लगाया गया, ताकि ऊपर चढ़कर आग को बुझाया जा सके। जब होजरील लेकर फायर मैन धर्मेंद्र मिश्रा व शिवमूरत यादव लैडर पर चढ़कर ऊपर चढऩे लगे तो वह मुड़ गया। इससे दोनों फायरमैन जमीन पर गिर पड़े और उनके कंधे, हाथ व शरीर के अन्य हिस्से में चोट लगने से जख्मी हो गए। लैडरमैन राजकुमार सिंह को मामूली चोट लग गई। इससे वहां अफरा-तफरी मच गई। आनन-फानन और अग्निशमन कर्मी बुलाए गए, जिसके बाद राहत और बचाव कार्य शुरू हुआ। करीब डेढ़ घंटे की खिड़की तोडऩे व कड़ी मशक्कत के बाद किसी तरह आग को बुझाया जा सका। बैंक में आग लगने के बाद मौके पर पहुंचे अग्निशमन कर्मियों ने पहले मकान के तीसरे मंजिल पर मौजूद रोहित के स्वजनों को पड़ोसी के छत के जरिए सुरक्षित बाहर निकलवाया। इसके बाद आसपास के मकान भी पूरी तरह से खाली करवा लिए गए। रोड के दोनों तरफ बैरीकेडिंग लगाकर आवागमन रोक दिया गया। आग की लपटें देख लोग बेहद परेशान हो गए लेकिन अग्निशमन विभाग की सक्रियता से मकान के ऊपरी मंजिल तक आग नहीं पहुंच सकी। रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान जख्मी हुए अग्निशमन कर्मियों को किसी तरह अस्पताल ले लाया गया और फिर उनका इलाज करवाकर आवास भेजा गया। इस घटना से कुछ कर्मचारी दहशत में आ गए थे, लेकिन डॉक्टरों ने फ्रैक्चर न होने की बात कही तो राहत की सांस ली। बैंक में शार्ट सर्किट से आग लगी थी, जिसे बुझा लिया गया है। लैडर से स्लिप कर दो फायरमैन नीचे गिर गए, जिन्हें चोटें आई हैं। आग से लाखों रुपये का सामान जला है, लेकिन लॉकर वगैरह सुरक्षित हैं। - आरके पांडेय, सीएफओ

प्रयागराज से अन्य समाचार व लेख

» कोरोना संकट के कारण पीसीएस की प्रारंभिक परीक्षा स्थगित, 13 जून को थी प्रस्तावित

» प्रयागराज में गन हाउस में हुई चोरी का राजफाश, तीन बदमाश दबोचे गए

» बरात से लौट रहे दूल्हे के मामा की गाड़ी की टक्कर लगने से प्रयागराज में मौत

» प्रधान नहीं दोस्‍त ने की थी हर्ष फायरिंग, प्रयागराज पुलिस ने दबोचा

» नाबालिग के अपराध की जानकारी मांगना निजता के अधिकार का हनन

 

नवीन समाचार व लेख

» गांवों में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर सरकार का एक्शन प्लान तैयार, गठित टीमों ने शुरू किया काम

» लखीमपुर में मामा की हरकत से आग बबूला भांजे ने ताबड़तोड़ वारकर मार डाला

» पीएम मोदी बोले, भारत हिम्मत हारने वाला देश नहीं, हम लड़ेंगे और जीतेंगे

» इटावा में फिल्मी तरीके से बदमाशों ने लूटा पानी की टंकी व पाइप से भरा कैंटर

» चित्रकूट जेल गैंगवार में मुख्तार अंसारी के करीबी समेत दो की हत्या, पुलिस एनकाउंटर में गैंगस्टर भी ढेर