प्रयागराज में घर में घुसकर चोर उठा ले गए लाखों रुपये के गहने और नकदी

यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

प्रयागराज में घर में घुसकर चोर उठा ले गए लाखों रुपये के गहने और नकदी


🗒 सोमवार, जून 14 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
प्रयागराज में घर में घुसकर चोर उठा ले गए लाखों रुपये के गहने और नकदी

प्रयागराज,। रात होती ही इसलिए है कि चैन की नींद सो लेकिन ऐसी गहरी नींद भी नहीं सोना चाहिए कि अपराधी घर में घुसकर सब कुछ उठा ले जाएं और भनक भी नहीं लगे। मगर ऐसी कई घटनाएं सामने आती हैं जिसमें चोर घर में घुसे, आलमारी और बक्सों को खोलकर कीमती सामान बटोर ले गए लेकिन परिवार को भनक नहीं लगी। ताजा मामला यमुनापार इलाके में करछना इलाके का है जहां रात में चोरों ने एक परिवार के गहरी नींद में डूबे होने का फायद उठाते हुए लाखों रुपये के गहने और नकदी पार कर दी।घटनाक्रम यूं है। करछना थाना के हिंदूपुर गांव के चक मिश्रान के बगल विंध्यवासिनी मंदिर के समीप निवासी गिरीश कुमार मिश्रा पुत्र स्वर्गीय राधिका प्रसाद मिश्रा का पूरा परिवार रविवार देर रात भोजन के बाद सो गए। आधी रात बाद किसी वक्त चोर गिरोह मकान के पीछे वाले रास्ते से दाखिल हुआ। एक कमरे में बक्से को खोलकर उसमें रखे गए दो लाख रुपये नकदी समेत तकरीबन 10 लाख रुपये के सोने-चांदी के मंगलसूत्र, छागल, पेटी, झुमका,पायल आदि आभूषण निकाल लिए। कुछ और कीमती सामान उठाकर चोर दबे पांव वापस लौट गए। सुबह परिवार की महिलाएं सबसे पहले जगीं तो बगल वाले कमरे का दरवाजा तथा बक्सा खुला देखा। कपड़े और अन्य सामान भी बिखरे थे। नकदी और जेवरात भी नदारद थे।परिवार में हल्ला मचा तो आसपास के लोग भी आ गए। फिर करछना थाने में इस बारे में सूचना दी गई। प्रभारी निरीक्षक करछना राकेश कुमार सिंह वहां पहुंचे और खोजी कुत्ते को भी बुलवाया मगर छानबीन में फिलहाल चोरों का सुराग नहीं मिल सका। माना जा रहा है कि चोरी की यह वारदात करने वाले अपराधियों को पता था कि किस कमरे में नकदी और गहने रखे हैं और उन्हें अंदर आने का रास्ता भी मालूम था। ऐसे में शक है कि कोई न कोई ऐसा है जिसने चोरों के लिए मुखबिरी का काम किया।