यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

पुलिस वाला बनकर ऐंठ ली सोने की चेन और अंगूठी


🗒 सोमवार, अक्टूबर 11 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
पुलिस वाला बनकर ऐंठ ली सोने की चेन और अंगूठी

प्रयागराज, । फर्जी आइपीएस का कारनामा सामने आने के दूसरे ही रोज एक और ऐसी ही घटना सामने आई जिसमें खाकी को इस्तेमाल किया गया है। क्राइम ब्रांच का सिपाही बनकर शातिर युवकों ने एजी आफिस के लेखा परीक्षक चंद्रभान विश्वकर्मा की चेन और अंगूठी गायब कर दी। घटना के छह घंटे बाद पीड़ित ने पुलिस को सूचना दी तो छानबीन शुरू की गई मगर ठगी करने वाले लोगों का कोई सुराग नहीं लग सका।यह घटना रविवार शाम करीब पांच बजे कीडगंज थाना क्षेत्र के बैरहना मोहल्ले में हुई। न्यू लश्कर लाइन पुराना बैरहना निवासी चंद्रभान एजी आफिस में लेखा परीक्षक के पद पर कार्यरत हैं। उनका कहना है कि वह सीएमपी डिग्री कालेज की तरफ काम से गए थे। उसके बाद बाइक पर घर लौट रहे थे। बैरहना में हरी स्वीट हाउस से आगे बढ़े तभी बाइक पर सवार दो युवकों ने रोक लिया। उन्होंने खुद को क्राइम ब्रांच का सिपाही बताया और हड़काते हुए कहा कि कब से आवाज दे रहे हैं, रुक क्यों नहीं रहे थे। युवकों ने बाइक की डिग्गी खुलवाकर जांच की और कहा कि इतनी घटनाएं हो रहीं हैं, इसके बावजूद चेन, अंगूठी पहनकर चल रहे हो। उन्होंने तीन अंगूठी व चेन उतरवा लिया और फिर एक कागज में लपेटकर दिया। मगर वह घर पहुंचे तो देखा कि कागज में कंकड़ था।रात करीब 10 बजे थाने पहुंचकर उन्होंने पुलिस को शिकायत दी। तब इंस्पेक्टर कीडगंज रमेश चौबे और चौकी इंचार्ज बैरहना दिलीप कुमार ने मौके पर जाकर छानबीन की। पुलिस का कहना है कि आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज को देखने पर पता चला है कि पीड़ित अकेले ही आ-जा रहे हैं। घटना स्थल पर कई मजदूर इंटरलाकिंग का काम कर रहे, लेकिन किसी को कुछ पता नहीं चला। इस आधार पर घटना प्रथम दृष्टया संदिग्ध है।