यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

सिक्योरिटी गार्ड ने मारी दो भतीजों को गोली, एक की मौत


🗒 सोमवार, नवंबर 22 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
सिक्योरिटी गार्ड ने मारी दो भतीजों को गोली, एक की मौत

प्रयागराज, । जनपद के यमुनापार में सोमवार सुबह करछना इलाके के सेमरी गांव में बच्चों के बीच विवाद में कत्ल की वारदात हो गई। विवाद घर के रास्ते में टायलेट करने पर हुआ था। टोकने पर झगड़ा हुआ और तैश में आकर एक शख्स ने अपने दो भतीजों को लाइसेंसी बंदूक से गोली मार दी। 34 साल के विष्णु कांत शुक्ला की अस्पताल ले जाते वक्त मौत हो गई जबकि गंभीर घायल उसके छोटे भाई का इलाज हो रहा है। खबर पाकर वहां पहुंची पुलिस ने आरोपित नीलकमल को गिरफ्तार कर बंदूक कब्जे में ले ली है।बताया गया कि सेमरी गांव निवासी नीलकमल शुक्ला प्राइवेट एजेंसी के लिए सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता है। सोमवार सुबह उसके भतीजे वैशव शुक्ला पुत्र दीपक शुक्ला के दो बेटे 10 साल का अंश और नौ साल का प्रिंस घर के बाहर सड़क पर टायलेट कर रहे थे। इस पर बगल में रहने वाले नीलकमल के घरवालों ने टोका तो दोनों परिवार के बीच कहासुनी हो गई। नीलकमल ने तैश में आकर लाइसेंसी बंदूक से भतीजों विष्णु कांत और वैभव पर फायरिंग कर दी। दोनों घायल होकर गिरे तो गांव में खलबली मच गई। फायरिंग की आवाज सुनकर आसपास के लोग पहुंच गए। खबर पाकर करछना थाने की पुलिस भी पहुंची। दोनों घायल भाइयों को उठाकर अस्पताल ले जाया गया जहां डाक्टरों ने बताया कि विष्णु कांत की मौत हो चुकी है। छोटा भाई वैभव भी गंभीर घायल है। उसका इलाज कराया जा रहा है। करछना इंस्पेक्टर टीका राम वर्मा ने आरोपी नीलकमल शुक्ला को बंदूक के साथ हिरासत में ले लिया। बच्चों के टायलेट करने जैसी मामूली बात पर कत्ल की इस घटना से इलाके के लोग सन्न हैं। पुलिस का कहना है कि चाचा-भतीजों में पहले भी झड़प हो चुकी थी लेकिन उनके बीच ऐसी कोई घटना हो सकती है, इसका किसी को अंदेशा नहीं था। इस घटना से पीड़ित परिवार में कोहराम मचा है। पुलिस की तैनाती के बीच महिलाओं का विलाप गूंजता रहा।