यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

डीएम ने कम्पोजिट विद्यालय भुएमऊ व आगंबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा


🗒 मंगलवार, जून 21 2022
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
डीएम ने कम्पोजिट विद्यालय भुएमऊ व आगंबाड़ी केन्द्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा

संवाददाता अमरेन्द्र यादव

रायबरेली -  जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने विकास खण्ड राही की ग्राम पंचायत भुएमऊ के कम्पोजिट विद्यालय  भुएमऊ व आंगनबाड़ी केन्द्र का स्थलीय निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्र पर जाकर उपस्थित आगंनबाड़ी कार्यकत्री सुधा देवी से आगंनबाडी की व्यवस्थाओं की जानकारी ली एवं उपस्थित रजिस्टर का अवलोकन किया गया। रजिस्टर में कमी पाये जाने व आंगनबाड़ी कार्यकत्री द्वारा सही जानकारी न दिये जाने पर कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देश दिये कि अभिलेखों को सही ढंग से सम्पूर्ण जानकारी को दर्ज किया जाए तथा वितरण, उपस्थित पंजीका रजिस्टर आदि रजिस्टर को अलग-अलग बनाने व मेनटेन रखने के निर्देश दिये। वजन मशीन खराब पाये जाने पर ग्राम प्रधान भुएमऊ को निर्देश दिये कि वजन मशीन की उपलब्धता केन्द्र पर सुनिश्चित कराये। इसी दौरान उन्होंने कम्पोजिट विद्यालय भुएमऊ का निरीक्षण कर उपस्थित बच्चों से पठन-पाठन आदि व्यवस्थाओं के बारे में सवाल-जवाब किया। सही जानकारी देने वाले बच्चों का टॉफी बिस्कुट देकर उत्साहवर्धन किया। उन्होंने बच्चों से मिड-डे-मील दिये जाने के बारे में जानकारी ली जिस पर बच्चों द्वारा बताया कि हमे रोज खाना दिया जाता है। उन्होंने उपस्थित विद्यालय के प्रधानाचार्य/अध्यापको से कहा कि बच्चों को पठन-पाठन में सुधार करते हुए बच्चों का मनोबल बढ़ाये तथा मीनु के अनुरूप ही प्रतिदिन मिड-डे-मील बने के निर्देश दिये इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी प्रभाष कुमार, डीसी मनरेगा जीपी कुश्वाहा, बीडीओ राही जितेन्द्र प्रताप सिंह, अपर जिला सूचना अधिकारी इंजेश सिंह, बड़े लाल यादव सहित विद्यालय अध्यापक उपस्थित रहे।

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» किसान सम्मान निधि से सम्बन्धित सूचना

» प्रदेश सरकार भूगर्भ जल रिचार्ज हेतु चेक डैम, तालाबों का करा रही है निर्माण

» आम जनमानस वेब लिंक से जुड़कर जानकारी कर सकते है प्राप्त

» डीएम ने पांच बड़े मूल्य के बैनामों का किया स्थलीय निरीक्षण

» उद्योग आधार मेमोरेंडम 30 जून तक वैध