यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

रायबरेली सोनिया संग प्रियंका वाड्रा पहुंची पूर्वी यूपी में हार के कारणों की समीक्षा


🗒 बुधवार, जून 12 2019
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक

संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी अपनी बेटी व पूर्वी यूपी की प्रभारी प्रियंका वाड्रा के साथ बुधवार को अमेठी के फुरसतगंज एयरपोर्ट पहुंची। अमावां ब्लॉक क्षेत्र के दाऊद नगर में काफिले के पहुंचते ही कांग्रेसियों ने सोनिया गांधी व प्रियंका वाड्रा का भव्य स्वागत किया। फिर काफिला भुएमऊ गेस्ट हाउस में दाखिल हुआ। उनके स्वागत को लेकर भुएमऊ गेस्ट हाउस में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं का मजमा लगा हुआ है। यहां सोनिया गांधी और प्रियंका वाड्रा नेताओं का कार्यकर्ताओं से मिलने का कार्यक्रम है। राष्ट्रीय नेता संग प्रदेश के जिम्मेदारों की बैठकों का दौर चलेगा। माना जा रहा है कि पूर्वी यूपी में हार के कारणों की समीक्षा, मंथन-चिंतन कई चक्रों में होगा। फिर दोपहर का भोजन, उसके बाद बैठक। इन कार्यक्रमों के बाद सोनिया गांधी करीब पांच बजे जिले के करीब तीन हजार कार्यकर्ताओं के सामने होंगी। उनका आभार जताएंगी। कम वोटों और मुश्किल हालातों में हुई जीत का क्रमवार विश्लेषण होगा। फिर रात का भोजन सब संग-संग करेंगे। 23 मई को लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद सांसद सोनिया गांधी का यह पहला दौरा होगा। वे 39 दिन बाद रायबरेली आ रही हैं।

रायबरेली सोनिया संग प्रियंका वाड्रा पहुंची पूर्वी यूपी में हार के कारणों की समीक्षा

दो मई को सोनिया ने सरेनी विधानसभा क्षेत्र में चुनावी जनसभा को संबोधित किया था। उसके बाद मतदान और मतगणना दोनों बीत गई। परिणाम के 20 दिन बाद संप्रग अध्यक्ष अपने निर्वाचन क्षेत्र के मतदाताओं के बीच आ रहीं हैं। उनके साथ उनकी बेटी प्रियंका वाड्रा भी रहेंगी। कांग्रेस नेताओं का कहना है कि प्रियंका वाड्रा पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिलाध्यक्षों संग हार के कारणों की समीक्षा करेंगी। इसी दौरान चिंतन, मंथन भी होगा। आखिर कमी कहां रह गई। कमजोर कड़ी की तलाश सुबह से शाम चार बजे तक चलेगी। उसके बाद बारी होगी रायबरेली के नेताओं और कार्यकर्ताओं की, जिनको धन्यवाद देने सोनिया गांधी मौजूद रहेंगी। इस बार सोनिया गांधी की भी जीत कई हिचकोलों के बाद तय हो सकी थी। ऐसे में पार्टी जहां-जहां दिक्कत हुई है, उन स्थानों को चिह्नित करेगी। साथ ही संगठन को मजबूत करने का खाका भी बनेगा। पार्टी के सूत्र बताते हैं कि बाहर से आने वाले नेताओं समेत जिले के बूथ स्तर तक के कार्यकर्ताओं की मौजूदगी वाली इस बैठक में दोपहर का भोजन और डिनर की व्यवस्था रहेगी। भोजन पूरी तरह शाकाहारी होगा। कोई खास डिश नहीं रहेगी। हां, पूड़ी सब्जी से लेकर तंदूरी, चपाती, नान सहित चावल, दाल व अन्य सब्जियां सबकुछ मिलेगा। साथ में आइसक्रीम भी रहेगी।

 

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» सरेनी शहीद स्मारक में शहीदों को नम आंखों से दी श्रद्धांजलि

» जिला अस्पताल में बेड फुल होने के कारण तड़पते रहे मरीज

» रायबरेली में बच्चों से भरी मिनी स्कूली बस ट्रक में भिड़ी

» रायबरेली में सड़क हादसा, लखनऊ-प्रयागराज हाईवे पर डंपर व कार में टक्कर, दो की मौत

» भोजपुर से विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने निकाली तिरंगा यात्रा की रैली

 

नवीन समाचार व लेख

» कानपुर कलेक्ट्रेट में फर्जी शस्त्र लाइसेंस जारी होने के मामले में जांच अधिकारी सीडीओ ने रिपोर्ट दी

» हाथरस मे ट्रक की टक्कर से दो बाइक सवारों की मौत

» महिला मित्र से मिलने आए तीन बच्‍चों के बाप का शव उसी के घर पर फंदे पर लटका मिला

» जिला जौनपुर में छप्पर पर अनियंत्रित ट्रक पलटने से मासूम की मौत, मां-बेटी गंभीर रूप से घायल

» वाराणसी से विधायक रवींद्र जायसवाल बने मंत्री, अनिल राजभर और नीलकंठ तिवारी का प्रमोशन