यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

ऐसा क्या हुआ कि नही निकाला गया ऊँचाहार का इतिहासिक जुलूस


🗒 शुक्रवार, अक्टूबर 30 2020
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
ऐसा क्या हुआ कि नही निकाला गया ऊँचाहार का इतिहासिक जुलूस

ऊँचाहार-कोतवाली क्षेत्र के कस्बे से उठने वाला बारह रबी उल अव्वल का ऐतिहासिक जुलूस इस वर्ष नहीं निकाला गया । कोविड-19 महामारी और इसके चलते गाइड लाइन की कुछ बंदिशों के मद्देनजर यह फैसला किया गया है।हालांकि अपने-अपने घरों में लोगो ने सजावट की मिलाद का इंतजाम किया नातख़्वानो से नातख़्वानी करवाई सजावट व जलसे के आयोजन होते रहे।मुस्तफाबाद क़स्बे समेत आसपास के कई अजुमनों और सरपरस्त व मस्जिद बहारे मदीना के इमाम साहब के साथ विचार-विमर्श करने के बाद मुख्य अंजुमन युवा कमेटी मुस्तफाबाद ने यह निर्णय लिया की सरकार द्वारा जो बंदिशें की गई है उनको देखते हुए हम जुलूस नही निकालेंगे। खास बात यह है कि प्रत्येक वर्ष कई अंजुमनों के सामूहिक प्रयास व युवा कमेटी मुस्तफाबाद की पहल पर कस्बा ऊँचाहार में मस्जिद बहारे मदीना से ऐतिहासिक व काफी भव्य बारह रबीउल अव्वल का जुलूस निकलता है, जिसमें हजारों अकीदतमंद शिरकत करते हैं। जुलूस मस्जिद के पास से युवा कमेटी द्वारा उठाया जाता है मोहम्मद अय्यूब मंसूरी के दरवाजे लंगर लेकर जुलूस का काफिला खरौली रोड होते हुए मुख्य हाई-वे ( लखनऊ-प्रयागराज ) ऊँचाहार चौराहे से होते हुए गन्दा नाला पुल से भीतरी गांव से होते हुए छोटे इमाम बाड़े से दाहिने नाज़िर मियां के घर से होते हुए वापस मस्जिद पर आ कर जलसा करता है नगर पंचायत आध्यक्ष पति मो०फारूक ने बताया कि सरकार द्वारा जारी गाइड लाइन का अनुपालन करते हुए जलसों का प्रोग्राम किया गया व शोसल डिस्टनसिंग का विशेष ध्यान दिया गया है।वार्ड नं 9 सभासद प्रतिनिधि मो०शाहिद ने बताया कि इस साल बारह रबीउल अव्वल का त्यौहार ऐसे में यदि जुलूस निकला और हजारों की भीड़ एकत्र हो गई तो भीड़ से कोरोना गाइड लाइन का पालन कराना बहुत मुश्किल काम है। इसलिए इस साल कोरोना संकट के कारण बारह रबीउल अव्वल का जुलूस न निकालने का निर्णय लिया गया है।सभासद मो०सलीम व मो०अंसार( कल्लू )से बात करने पर पता चला कि जुलूस न उठने से मन बहुत दुखी है परंतु हुकूमत के आदेशों का पालन कर रहे हैं इस वर्ष जुलूस नही निकाला जाएगा आगामी वर्ष अपने परम्परागत रास्तों से जुलूस निकाला जाएगा इस मौके पर मो०अफजल सिद्दीकी ,शेखू मंसूरी,उरूज अंसारी,ज़ियाउल हसन,फय्याज राईनी, सल्लू,इरफान मेहँदी व युवा कमेटी के सभी कार्यकर्ता मौजूद रहे।
सवांददाता अमरेन्द्र यादव

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» मूर्ति विसर्जन के दौरान हादसा, पांच युवक सई नदी में डूबे

» भाजपा नेता लक्ष्मीकान्त रावत ने पीड़ितो को दिया राशन किट

» वयोवृद्ध कलाकार उस्ताद ईशा खां गायकी के द्वारा सरकार के साढ़े चार वर्ष की उपलब्धियों को जगह-जगह रहे है बता

» जनपद की उपलब्धियां की जानकारी क्षेत्रों में किया जा रहा है बखान

» छात्रवृत्ति वितरण दिवस 2 अक्टूबर को जाएगा मनाया