यूनाइट फॉर ह्यूमैनिटी हिंदी समाचार पत्र

RNI - UPHIN/2013/55191 (साप्ताहिक)
RNI - UPHIN/2014/57987 (दैनिक)
RNI - UPBIL/2015/65021 (मासिक)

मुनव्वर राना ने जताया जान का खतरा, भाई-भतीजों पर लगाया आरोप


🗒 मंगलवार, जून 29 2021
🖋 विक्रम सिंह यादव, प्रधान संपादक
मुनव्वर राना ने जताया जान का खतरा, भाई-भतीजों पर लगाया आरोप

रायबरेली,। बेटे पर हुए हमले के बाद प्रख्यात शायर मुनव्वर राना ने खुद की भी जान का खतरा बताया है। उन्होंने कहा कि संपत्ति की लालच में भाई और भतीजे हत्या की साजिश रच रहे। यदि पुलिस हरकत में नहीं आई तो उनकी जान को खतरा हो सकता है। हालांकि यह बातें उन्होंने कुछ लोगों से मौखिक रूप से ही साझा कीं। इस बाबत कोई लिखित शिकायत नहीं की है। इसकी पुष्टि अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने की है।सोमवार की शाम कोतवाली नगर क्षेत्र में मुनव्वर राना के बेटे पर बाइक सवार हमलावरों ने गोलियां चलाई थीं। गनीमत रही की गोलियां उन्हें लगने के बजाय कार में लगीं। इस मामले में उन्होंने चाचा और चचेरे भाइयों के विरुद्ध रिपोर्ट यहां कोतवाली नगर में नामजद दर्ज कराई है। इसी घटना के बाद कोतवाली पहुंचे मुनव्वर राना ने खुद की भी जान का खतरा बताया था। हालांकि उन्होंने इसकी लिखित शिकायत नहीं की है। एएसपी ने बताया हमले में नामजद आरोपितों से पूछताछ करने के साथ ही सभी पहलुओं की गहनता से पड़ताल की जा रही है। यदि मुनव्वर राना भी लिखित शिकायत देते हैं तो इस मामले में भी आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल वे वर्तमान में लखनऊ में रह रहे हैं।प्रख्यात शायर मुनव्वर राना के बेटे पर जानलेवा हमले के मामले में शक के आधार पर आरोपित उनके भाइयों और भतीजे से पुलिस ने पूछताछ की है। राजघाट में साढ़े आठ बीघा कीमती भूखंड को लेकर परिवार में तनातनी की बात सामने आई है। इस बीच पुलिस ने गोली चलाने वालों की तस्वीर सीसी फुटेज के जरिए हासिल कर ली है। उनकी गिरफ्तारी के बाद से पूरे मामले का राजफाश हो सकेगा। साेमवार की शाम करीब छह बजे मुनव्वर राना के बेटे तबरेज राना पर जानलेवा हमला हुआ था। गनीमत थी कि गोली कार पर लगी। जवाब में तबरेज ने भी लाइसेंसी रिवाल्वर से गोलियां चलाईं, लेकिन हमलावर भाग निकले। उन्होंने मामले में चाचा राफे राना, इस्माइल राना, शकील राना, जमील राना और चचेरे भाई यासिर राना पर हमला कराने का संदेह जताते हुए एफआइआर दर्ज कराई है। आरोपितों में इस्माइल राना मुंबई में थे, जिन्हें यहां बुला लिया गया है। मंगलवार को राफे और इनके पुत्र मोहसिन तथा जमील, शकील से कोतवाली पुलिस ने पूछताछ की। इसके बाद इन्हें छोड़ दिया।

रायबरेली से अन्य समाचार व लेख

» ट्रक की चपेट में आने से मां-बेटे की मौत

» समस्त विकास खण्ड में गरीब कल्याण मेला का भव्य किया गया आयोजन

» जिलाधिकारी के निर्देश के बावजूद भी गरीब को नही मिल रही छत

» ब्लाक सभागार में हुआ मेले का आयोजन

» उत्तर प्रदेश सरकार गरीबों को दे रही है लाभ__ ज्ञान प्रकाश तिवारी

 

नवीन समाचार व लेख

» थानेे में पहुंच गैंगस्टर बोला, कभी नहीं करूंगा अपराध

» खेलने के बहाने बच्चे को घर से बुलाकर सामूहिक कुकर्म

» सीएम योगी आद‍ित्‍यनाथ से म‍िले सि‍ंगापुर के उच्चायुक्त

» भारत बंद का सपा समर्थन में तो व‍िरोध में उतरेंगे व्यापारी

» गुरुकुल, मदरसा, मिशनरी और वैदिक स्कूल के लिए समान शिक्षा संहिता की मांग